BREAKING NEWS

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने की मुलाकात ◾नीतीश को घेरने के लिए बीजेपी आलाकमान ने बुलाई बैठक, बिहार इकाई के प्रमुख नेता होंगे शामिल ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾मुम्बई में बारिश को लेकर मौसम विभाग का बड़ा अलर्ट, 24 घंटे के अंदर होगी झमाझम बारिश ◾गहलोत के अर्धसैनिक बलों के ट्रकों में 'अवैध धन' ले जानें वाले बयान पर बीजेपी का पलटवार, जानिए मामला◾J-K News: जम्मू कश्मीर के पहलगाम में दर्दनाक हादसा, 39 जवानों की बस खाई में गिरी, 6 की मौत, जानें स्थिति ◾जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने दो कश्मीरी पंडित भाइयों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत, एक घायल◾बिहार : नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल के 31 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली, कांग्रेस नेता भी शामिल ◾कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने उठाई 3 दशकों से जेल में बंद सिख कैदियों की रिहाई की मांग ◾भारत में शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए केंद्र दिल्ली सरकार की विशेषज्ञता का उपयोग करें : CM केजरीवाल ◾भारतीय फुटबॉल प्रशंसकों को बड़ा झटका! फीफा ने महिला अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी छीनी, AIFF पर लगाया प्रतिबंध ◾Gujarat News : आवारा पशुओं से बढ़ रहा हादसे का खतरा, सरकार के दावों की खुली पोल ◾CM योगी आदित्‍यनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि पर दी श्रद्धांजलि◾Covid-19 : देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना वायरस के 8,813 केस दर्ज़, 29 मरीजों की मौत ◾अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि आज, राष्ट्रपति द्रौपदी और पीएम मोदी ने 'सदैव अटल' समाधि पर की पुष्पांजलि◾अमेरिका के राष्ट्रपति बाइडन ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पीएम मोदी और राष्ट्रपति मुर्मू को लिखा पत्र◾कांग्रेस का महंगाई पर हल्ला बोल: 28 अगस्त की रैली से पहले बुलाई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक ◾दिल्ली में सोमवार को कोरोना के 1,227 नए मामले आए सामने, साथ ही दर्ज हुई आठ और संक्रमितों की मौत ◾America: Joe Biden भारत-अमेरिका संबंध को वैश्विक शांति एवं अर्थव्यवस्था के लिए मानते है अहम◾

रसायन क्षेत्र के लिये उत्पादन-आधारित प्रोत्साहन योजना लाने पर विचार कर रहे है : मनसुख मांडविया

रसायन और उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया ने शुक्रवार को कहा कि मंत्रालय रसायन क्षेत्र के लिये उत्पादन-आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना लाने पर विचार कर रहा है। इसका मकसद रसायन के घरेलू उत्पादन और निर्यात को बढ़ावा देना है।

उद्योग मंडल फिक्की के साथ मिलकर किया

‘उद्योग जुड़ाव 2022: उद्योग और शैक्षणिक क्षेत्रों के बीच तालमेल’ विषय पर आयोजित सेमिनार को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि सरकार ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने को लेकर विभिन्न क्षेत्रों के लिये पीएलआई योजना शुरू की है। इस कार्यक्रम का आयोजन रसायन और उर्वरक मंत्रालय ने केंद्रीय पेट्रोरसायन अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (सिपेट) और उद्योग मंडल फिक्की के साथ मिलकर किया।

स्वास्थ्य मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाल रहे मांडविया ने कहा, ‘‘हम इस बारे में विचार कर रहे हैं कि रसायन क्षेत्र के लिये किस तरह पीएलआई योजना लायी जाए। हमने इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है।’’ कार्यक्रम के दौरान अलग से बातचीत में उन्होंने कहा कि मंत्रालय इस दिशा में काम कर रहा है लेकिन अंतिम निर्णय सरकार करेगी। मांडविया ने कहा कि इस पहल का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि घरेलू और वैश्विक बाजारों के लिये सभी प्रमुख रसायनों का विनिर्माण देश में हो।

13 क्षेत्रों के लिये पीएलआई योजना शुरू की

उल्लेखनीय है कि सरकार ने पिछले साल 2021-22 से पांच साल के दौरान 1.97 लाख करोड़ रुपये के व्यय की प्रतिबद्धता के साथ 13 क्षेत्रों के लिये पीएलआई योजना शुरू की। मंत्री ने इस उभरते क्षेत्र के समग्र विकास को लेकर सरकारी विभागों, सिपेट, उद्योग और शैक्षणिक क्षेत्रों के बीच बेहतर तालमेल पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि देश को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लक्ष्य को हासिल करने को लेकर इस क्षेत्र की महत्वपूर्ण भूमिका है।

मांडविया ने घरेलू मांग को पूरा करने के साथ-साथ निर्यात के लिये देश को वैश्विक विनिर्माण का केंद्र बनाने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने यह भी कहा कि देश में ‘लॉजिस्टिक’ लागत अधिक है, जिससे निर्यात प्रतिस्पर्धी नहीं रह पाता।

मंत्री ने कहा कि इसको देखते हुए सरकार सड़क, रेलवे और जलमार्ग से जुड़े बुनियादी ढांचा के निर्माण को लेकर काफी निवेश कर रही है। इस मौके पर रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री भगवंत खुबा ने देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये सरकार की तरफ से उठाये गये कदमों का जिक्र किया।