BREAKING NEWS

UP चुनाव: सपा-रालोद आई एक साथ, क्या राज्य में बनेगी डबल इंजन की सरकार, रैली में उमड़ा जनसैलाब ◾बेंगलुरु का डॉक्टर रिकवरी के बाद फिर हुआ कोरोना पॉजिटिव, देश में ओमीक्रॉन के 23 मामलों की हुई पुष्टि ◾समाजवादी पार्टी पर PM मोदी का हमला, बोले-'लाल टोपी' वालों को सिर्फ 'लाल बत्ती' से मतलब◾पीेएम मोदी ने पूर्वांचल को दी 10 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात, सपा के लिए कही ये बात◾सदन में पैदा हो रही अड़चनों के लिए सरकार जिम्मेदार : मल्लिकार्जुन खड़गे◾UP चुनाव में BJP कस रही धर्म का फंदा? आनन्द शुक्ल बोले- 'सफेद भवन' को हिंदुओं के हवाले कर दें मुसलमान... ◾नगालैंड गोलीबारी केस में सेना ने नगारिकों की नहीं की पहचान, शवों को ‘छिपाने’ का किया प्रयास ◾विवाद के बाद गेरुआ से फिर सफेद हो रही वाराणसी की मस्जिद, मुस्लिम समुदाय ने लगाए थे तानाशाही के आरोप ◾लोकसभा में बोले राहुल-मेरे पास मृतक किसानों की लिस्ट......, मुआवजा दे सरकार◾प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों को दी कड़ी नसीहत-बच्चों को बार-बार टोका जाए तो उन्हें भी अच्छा नहीं लगता ...◾Winter Session: निलंबन वापसी के मुद्दे पर राज्यसभा में जारी गतिरोध, शून्यकाल और प्रश्नकाल हुआ बाधित ◾12 निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्ष का समर्थन,संसद परिसर में दिया धरना, राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित ◾JNU में फिर सुलगी नए विवाद की चिंगारी, छात्रसंघ ने की बाबरी मस्जिद दोबारा बनाने की मांग, निकाला मार्च ◾भारत में होने जा रहा कोरोना की तीसरी लहर का आगाज? ओमीक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई लौटे 109 यात्री लापता ◾देश में आखिर कब थमेगा कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के इतने नए मामलों की हुई पुष्टि ◾लोकसभा में न्यायाधीशों के वेतन में संशोधन की मांग वाले विधेयक पर होगी चर्चा, कई दस्तावेज भी होंगे पेश ◾PM मोदी के वाराणसी दौरे से पहले 'गेरुआ' रंग में रंगी गई मस्जिद, मुस्लिम समुदाय में नाराजगी◾ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली फिर हो जाएगी लॉकडाउन की शिकार? जानें क्या है सरकार की तैयारी ◾यूपी : सपा और रालोद प्रमुख की आज मेरठ में संयुक्त रैली, सीट बटवारें को लेकर कर सकते है घोषणा ◾दिल्ली में वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज, प्रदूषण को कम करने के लिए किया जा रहा है पानी का छिड़काव ◾

व्यक्तिगत बातचीत की गोपनीयता को लेकर है पूरी तरह प्रतिबद्ध, भारत सरकार को कराया अवगत: व्हाट्सएप

तत्काल संदेश भेजने वाला ऐप व्हाट्सएप ने अपने विवादास्पद गोपनीयता नीति को आगे बढ़ाने के फैसले की घोषणा के कुछ ही घंटे बाद शुक्रवार को कहा कि उसने व्यक्तिगत बातचीत की गोपनीयता की सुरक्षा को लेकर अपनी प्रतिबद्धता से भारत सरकार को अवगत करा दिया है। 

व्हाट्सएप ने पिछले महीने जारी नये गोपनीयता नीति अपडेट में कहा था कि वह उपयोगकर्ताओं के डेटा को मूल कंपनी फेसबुक तथा समूह की अन्य कंपनियों के साथ साझा कर सकती है। इसके बाद कंपनी विवादों में घिर गयी। भारत सरकार ने भी व्हाट्सएप को तलब कर सवाल पूछे। 

इसके बाद उपयोगकर्ता तेजी से व्हाट्सएप को छोड़ प्रतिस्पर्धी ऐप टेलीग्राम और सिग्नल को अपनाने लगे। इसके चलते मजबूर होकर व्हाट्सएप ने नई नीति पर अमल को मई तक के लिये टाल दिया था। हालांकि अब कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि वह नई नीति पर अमल करने की दिशा में आगे बढ़ रही है। 

व्हाट्सएप ने ईमेल के माध्यम से दिये एक बयान में कहा, ‘‘भ्रामक सूचनाओं तथा उपयोगकर्ताओं की प्रतिक्रिया के आधार पर हमने व्हाट्सएप की नयी सेवा व गोपनीयता नीति को स्वीकार करने की समयसीम को 15 मई तक के लिये टाल दिया है। इस बीच हम सरकार के साथ हम संवाद करेंगे। हम सरकार के सवालों का जवाब देने का अवसर पाकर आभारी हैं।’’ 

व्हाट्सएप ने कहा कि उसने सरकार को व्यक्तिगत बातचीत की गोपनीयता को लेकर अपनी प्रतिबद्धता से अवगत करा दिया है। शुक्रवार को एक ब्लॉगपोस्ट में व्हाट्सएप ने कहा कि आने वाले हफ्तों में ऐप में एक बैनर प्रदर्शित किया जायेगा, जो अधिक जानकारी प्रदान करेगा। यूजर इसे अपनी गति से पढ़ सकते हैं। 

हालांकि कंपनी ने स्पष्ट किया कि उसने हलिया विवादित नीति में कोई बदलाव नहीं किया है। उसने कहा, ‘‘हमने इसे नया रूप दिया है, लेकिन सेवा की शर्तें और गोपनीयता नीति पहले जैसी हैं।’’