BREAKING NEWS

उत्तर - मध्य भारत में भयंकर गर्मी का प्रकोप , लगातार दूसरे दिन दिल्ली में पारा 47 डिग्री के पार◾नक्शा विवाद में नेपाल ने अपने कदम पीछे खींचे, भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव वापस◾भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने की मध्यस्थता की पेशकश◾चीन के साथ तनातनी पर रविशंकर प्रसाद बोले - नरेंद्र मोदी के भारत को कोई भी आंख नहीं दिखा सकता◾LAC पर भारत के साथ तनातनी के बीच चीन का बड़ा बयान , कहा - हालात ‘‘पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य’’ ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾केन्द्र और महाराष्ट्र सरकार के विवाद में पिस रहे लाखों प्रवासी श्रमिक : मायावती ◾कोरोना संकट के बीच CM उद्धव ठाकरे ने बुलाई सहयोगी दलों की बैठक◾राहुल गांधी से बोले एक्सपर्ट- 2021 तक रहेगा कोरोना, आर्थिक गतिविधियों पर लोगों में विश्वास पैदा करने की जरूरत◾देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा डेढ़ लाख के पार, अब तक 4 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7600 के पार, अब तक 172 लोगों की मौत हुई ◾Covid-19 : राहुल गांधी आज सुबह प्रसिद्ध स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ करेंगे चर्चा ◾कोरोना संकट के बीच असम-मेघालय में बाढ़ का कहर जारी, करीब 2 लाख लोग हुए प्रभावित◾दिल्ली में कोरोना के 412 नये मामले आए सामने, मृतक संख्या 288 हुई ◾LAC पर चीन से बिगड़ते हालात को लेकर PM मोदी ने की हाईलेवल मीटिंग, NSA, CDS और तीनों सेना प्रमुख हुए शामिल◾महाराष्ट्र : उद्धव सरकार पर भड़के रेल मंत्री पीयूष गोयल, कहा- राज्य में सरकार नाम की कोई चीज नहीं◾महाराष्ट्र : फडणवीस की CM ठाकरे को नसीहत, कहा- कोरोना से निपटने में मजबूत नेतृत्व का करें प्रदर्शन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भाजपा ने कांग्रेस पर तुच्छ राजनीति करने का लगाया आरोप

कोरोना वायरस से निपटने के केंद्र सरकार के प्रयासों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर ‘‘तुच्छ राजनीति’’ करने का आरोप लगाते हुए भाजपा नेताओं ने गुरूवार को विपक्षी दल पर जिम्मेदार भूमिका निभाने और इस महामारी से एकजुट होकर निपटने को कहा। 

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी के कई नेताओं ने कांग्रेस पर हमला बोला । गृह मंत्री अमित शाह ने आरोप लगाया कि जब भी देश की एकजुटता की बात आई है तब कांग्रेस ने अपने निहित स्वार्थों की पूर्ति के लिए सदैव ही जनता को गुमराह कर देश और समाज को बांटने की राजनीति करने का प्रयास किया है। 

कोरोना संकट : पीएम मोदी कल सुबह 9 बजे वीडियो जारी कर देशवासियों को देंगे संदेश

वहीं, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने अपने ट्वीट में कहा, ‘’‘ सम्पूर्ण विश्व में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व भारत सरकार के प्रयासों की सराहना हो रही है । प्रधानमंत्री सभी राज्य सरकारों को साथ लेकर टीम इंडिया के रूप में इस लड़ाई को लड़ रहे है। 

कठिन समय में कांग्रेस को एक ज़िम्मेदार राजनीतिक दल के रूप में काम करना चाहिए ।’’ इससे पहले, सोनिया गांधी ने सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि लॉकडाउन को योजना बनाए बिना लागू किया गया। सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्य समिति को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए कहा कि लॉकडाउन जरूरी हो सकता है लेकिन इसके अनियोजित क्रियान्वयन से लाखों प्रवासी श्रमिकों को परेशानी और तकलीफ उठानी पड़ रही है।

24 घंटे में कोरोना के 328 नए मामले आए सामने, तबलीगी जमात से जुड़े 9000 लोगों को किया गया क्वारंटाइन : स्वास्थ्य मंत्रालय

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से बने हालात से निपटने के लिए सरकार को एक विस्तृत रणनीति बनाना चाहिए थी। गृह मंत्री अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना वायरस पर जीत की लड़ाई में समग्र भारत के एकजुट प्रयासों की न केवल देश में बल्कि पूरी दुनिया में सराहना हो रही है। 

उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन और संयुक्त राष्ट्र संघ से लेकर विश्व की तमाम महाशक्तियां कोरोना को हराने और इसे ख़त्म करने के लिए भारत और प्रधानमंत्री मोदी की ओर आशा भरी नजरों से देख रही है। उन्होंने कहा कि 130 करोड़ भारतवासी कोविड-19 वायरस को हराने के लिए एकजुट और कटिबद्ध हैं लेकिन इस विषम परिस्थितियों में भी कांग्रेस तुच्छ राजनीति करने से बाज नहीं आ रही। 

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, ‘‘ यह कांग्रेस की पुरानी आदत रही है कि जब भी राष्ट्रहित की बात आई है या देश की एकजुटता की बात आई है तो उसने हमेशा से एक अलग राह पकड़ी है और अपने निहित स्वार्थों की पूर्ति के लिए उसने सदैव ही जनता को गुमराह कर देश और समाज को बांटने की राजनीति करने का प्रयास किया है। 

FIR दर्ज होते ही बदले मौलाना साद के तेवर, समर्थकों से की सरकार का सहयोग करने की अपील

विपक्षी पार्टी पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि इसकी जितनी भी निंदा की जाय, कम है। आखिर कांग्रेस कब अपनी स्वार्थपूर्ण राजनीति के ऊपर राष्ट्रहित को तरजीह देगी ? वहीं भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ आज जब सम्पूर्ण देश एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोविड-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ रहा है, उस समय कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा दिया गया बयान संवेदनहीन और अशोभनीय है।’’ 

नड्डा ने कहा, ‘‘ यह राजनीति करने का नहीं, देश की सेवा करने का समय है। हमें एकजुट होकर लड़ना है।’’ केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति से निपटने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सभी को साथ लेकर चल रहे हैं और देशव्यापी लॉकडाउन सहित उनकी ओर से उठाये गए कदमों की पूरी दुनिया में प्रशंसा हो रही है। 

जावड़ेकर ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ हम सभी को एक दिशा में काम करना चाहिए और मिलकर इस महामारी का मुकाबला करना चाहिए । कोरोना वायरस को परास्त करने के बाद राजनीति करने के और भी मौके आयेंगे।’’ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पूरा देश कोरोना वायरस के खिलाफ ‘एकजुट संकल्प’ का प्रदर्शन कर रहा है और ऐसे समय में यह स्तब्ध करने वाला है कि सोनिया गांधी ने लॉकडाउन पर सवाल उठाया। 

प्रसाद ने कहा, ‘‘ भारत चुनौतीपूर्ण समय से गुजर रहा है । वक्त की जरूरत है कि हर किसी को राजनीतिक मतभेदों को भूलकर एक स्वर में बोलना चाहिए और एकजुट संकल्प का प्रदर्शन करना चाहिए । ’’