BREAKING NEWS

महान संगीतकार ख्य्याम साहब का निधन, अभिनेता बनना चाहते थे ख्य्याम साहब◾प्रियंका का कटाक्ष : लगता है मोदी आरएसएस के विचारों का सम्मान नहीं करते ◾उत्तर भारत में बारिश का कहर, 38 की मौत ◾अलायंस एयर की उड़ान की दिल्ली हवाई अड्डे पर आपात लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित ◾PM मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से फोन पर की 30 मिनट बातचीत, बिना नाम लिए PAK को बनाया निशाना ◾TOP 20 NEWS 19 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾आरक्षण विरोधी मानसिकता त्यागे संघ : मायावती◾कश्मीर पर भारत की नीति से घबराया पाकिस्तान, अगले तीन साल पाकिस्तानी सेना प्रमुख बने रहेंगे बाजवा◾चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- सब सामान्य तो महबूबा मुफ्ती की बेटी नजरबंद क्यों◾कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बताया दलित-पिछड़ा विरोधी◾गृहमंत्री अमित शाह से मिले अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा◾RSS अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर है : मायावती ◾गहलोत बोले- कांग्रेस ने देश में लोकतंत्र को मजबूत रखा जिसकी वजह से ही मोदी आज PM है ◾बैंकों के लिए कर्ज एवं जमा की ब्याज दरों को रेपो दर से जोड़ने का सही समय: शक्तिकांत दास◾राजीव गांधी की 75वीं जयंती: देश भर में कार्यक्रम आयोजित करेगी कांग्रेस◾दलितों-पिछड़ों को मिला आरक्षण खत्म करना BJP का असली एजेंडा : कांग्रेस ◾उन्नाव कांड: SC ने CBI को जांच पूरी करने के लिए 2 हफ्ते का समय और दिया, वकील को 5 लाख देने का आदेश◾अयोध्या भूमि विवाद मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट में नहीं हुई सुनवाई ◾जम्मू-कश्मीर में पटरी पर लौटती जिंदगी, 14 दिन बाद खुले स्कूल-दफ्तर◾बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन◾

देश

हासन को गांधी की हत्या मामला उठाने को किसने उकसाया : भाजपा 

तूतीकोरिन (तमिलनाडु) : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने स्वतंत्र भारत के ‘पहले उग्रवादी’ को ‘हिंदू’ बताने वाले कमल हासन के बयान को लेकर उन पर हमला जारी रखते हुए बुधवार को कहा कि यह जनसभा में उठाने वाला विषय नहीं था। साथ ही पार्टी ने पूछा कि गांधी की हत्या के मुद्दे को इतने साल बाद उठाने के लिए उन्हें किसने उकसाया? प्रदेश भाजपा अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदराराजन ने मामले पर हासन का साथ देने के लिए कांग्रेस पर तंज कसा कि जिन लोगों ने अपना नेता उग्रवाद की वजह से खोया, वे विवादित बयान पर अभिनेता का साथ दे रहे हैं। हासन ने रविवार को यह कह कर विवाद खड़ा कर दिया था कि “भारत का पहला उग्रवादी एक हिंदू था।” उनका इशारा महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे की तरफ था।

हासन के इस बयान पर सौंदराराजन ने कहा कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता और पूछा कि तमिलनाडु कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष के एस अलागिरी और द्रविड़ार कझगम के नेता के वीरामणि हासन की टिप्पणी पर क्यों “खुश” हो रहे हैं। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, “पहली बात, कमल हासन को समझना चाहिए कि वह जो बोल रहे हैं, वह गलत है..हमें उग्रवाद को किसी भी रूप में स्वीकार नहीं करना चाहिए।” उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी की तरफ स्पष्ट रूप से इशारा करते हुए कहा, “कुछ राजनेताओं एवं संगठनों का समर्थन देना चिंता का विषय है। क्योंकि, एक पार्टी जिसने उग्रवाद की वजह से अपना नेता खोया वही इसका समर्थन कर रही है।”

राजीव गांधी की हत्या चेन्नई के निकट श्रीपेरंबुदुर में 21 मई,1991 को एक चुनावी रैली के दौरान हुई थी जब प्रतिबंधित संगठन एलटीटीई के आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था। संयोग से भारत ने लिब्रेशन टाइगर्स ऑफ तमिल एलम (एलटीटीई) पर प्रतिबंध को मंगलवार को तत्काल प्रभाव के साथ पांच साल के लिए बढ़ा दिया। सौंदराराजन ने पार्टी की अपनी मांग को दोहराते हुए चुनाव आयोग से हासन के प्रचार करने पर रोक लगाने को कहा और ध्यान दिलाया कि आयोग ने उत्तर भारत में कुछ नेताओं के खिलाफ इस तरह की कार्रवाई की है।इस बीच एक वैष्णव संत ने भी हासन की टिप्पणी को लेकर उन पर हमला बोला है और धमकी दी है कि हासन अगर इस तरह की टिप्पणियां करना जारी रखेंगे तो वह विरोध प्रदर्शन करेंगे।