BREAKING NEWS

आज का राशिफल (13 मई 2021)◾जयशंकर ने कुवैत, सऊदी अरब के विदेश मंत्रियों से बात की◾भारत ने इजराइल-गाजा हिंसा में तत्काल कमी लाने की आवश्यकता पर बल दिया◾CM हेमंत ने 27 मई तक बढ़ाया झारखंड में लॉकडाउन, अगले आदेश तक राज्य में बस सेवा बंद◾अगले 3-4 दिनों में भारत के कई हिस्सों में बारिश और तूफान की संभावना◾विदेश से वैक्सीन मंगवाएगी राजस्थान सरकार, ग्लोबल टेंडर पर CM अशोक गहलोत ने लगाई मुहर◾धर्मगुरूओं की अपील , ईद में करें कोविड प्रोटोकाल का पालन◾इजराइल, हमास के बीच तेज हुई लड़ाई ने 2014 के गाजा युद्ध की दिलाई याद, सर्वोच्च कमांडर मारा गया ◾प्रधानमंत्री मोदी ने हाई लेवल बैठक में ऑक्सीजन, दवाओं की उपलब्धता, आपूर्ति की समीक्षा की◾महाराष्ट्र में सामने आये कोरोना के 46 हजार से अधिक नए मामले, 816 मरीजों ने तोडा दम ◾अगस्त तक हर महीने सीरम इंस्टीट्यूट का 10 करोड़ खुराकें, भारत बायोटेक का 7.8 खुराकें बनाने का वादा◾ममता और धनकड़ के बीच फिर ठनी, CM ने गवर्नर के हिंसा प्रभावित क्षेत्र के दौरे को बताया नियमों का उल्लंघन◾शुक्रवार को मनाया जायेगा ईद-उल-फितर का त्यौहार, बृहस्पतिवार को होगा आखिरी रोजा◾कोरोना के बी.1.617 वैरिएंट को भारतीय वैरिएंट कहने पर सरकार ने जताई आपत्ति, कहा- WHO ने ऐसा नहीं कहा◾राहुल गांधी का केंद्र पर तंज, कहा- संक्रमण की गंभीर स्थिति में जिनकी जवाबदेही है वो छिपे बैठे हैं◾विपक्षी नेताओं ने PM को लिखा पत्र: सभी स्रोतों से खरीदा जाए टीका, हर नागरिक का मुफ्त हो टीकाकरण ◾ममता का मोदी को पत्र, कहा- सरकार कोविड रोधी टीकों के विनिर्माण के लिए जमीन और मदद उपलब्ध कराने को तैयार◾दिल्ली में कोरोना के 13,287 नए मामले सामने आए, 300 लोगों की मौत, संक्रमण दर में गिरावट जारी◾उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना ने ली 329 लोगों की जान, 18125 नए मरीजों की पुष्टि◾अब भारत में बनेंगी लंबे समय तक चलने वाली बैटरी, 18 हजार करोड़ के PLI इंसेंटिव को मंजूरी◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

WHO का भारत में आयुर्वेद का वैश्विक केंद्र बनाने पर जोर : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) परमपरागत चिकित्सा व्यवस्था को बढावा देने के लिए भारत में आयुर्वेद का वैश्विक केंद्र स्थापित करना चाहता है। हर्षवर्धन ने यहां पतंजलि की कोरोना की प्रमाणिक दवा कोरोनील को जारी करने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी से आयुर्वेद को बढ़वा देने को लेकर बातचीत की थी जिसमें उन्होंने भारत को इसका वैश्विक केंद्र बनाने पर जोर दिया था।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2000 में विश्व सवास्थ्य संगठन की एक बैठक जापान में हुई थी। जिसमें 21 वीं सदी में स्वास्थ्य लक्ष्य को हासिल करने में परम्परागत चिकित्सा व्यवस्था को महत्वपूर्ण बताया गया था। इसके लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति को बढावा देने तथा इस पर वैज्ञानिक अनुसंधान पर जोर देने की अनुशंसा की गई थी।

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आयुर्वेद को मान्यता दी है और इसकी प्रमाणिकता है। लोगों को निरोग बनाने में आयुर्वेदिक दवाओं की भूमिका को लेकर शक नहीं किया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि अथरवेद और चरक संहिता में आयुर्वेद की विस्तार से चर्चा है। छठी शताब्दी में आयुर्वेद का चीनी भाषा में अनुवाद किया गया था। बाद में परसियन और यूरोपीय भाषाओं में भी यह काम किया गया।

उन्होंने कहा कि देश में अंग्रेजों के शासन के दौर भारतीय चिकित्सा पद्धति को बढ़वा नहीं दिया गया। दिल्ली में उन्होंने आयुर्वेद पर अनुसंधान के लिए एक केंद्र की स्थापना की थी लेकिन बाद में सरकारों ने इस पर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने आयुर्वेद को आधुनिक वैज्ञानिक तरीके से रखे जाने पर जोर देते हुए कहा कि सभी चिकित्सा पद्धति को मानवता के कल्याण के लिए मिलकर काम करना चाहिए।