कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य अहमद पटेल ने गुरुवार को निर्वाचन आयोग से पूछा कि उसने ओडिशा के संबलपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर का निरीक्षण करने पर एक पर्यवेक्षक को निलंबित क्यों किया। पटेल ने ट्वीट किया, ‘ऐसे कई उदाहरण हैं जब चुनाव के दौरान ईसी ने मौजूदा और पूर्व कांग्रेस अध्यक्षों के काफिलों की छानबीन की थी।

स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) सुरक्षा प्राप्त लोगों की निजी तौर पर तलाशी नहीं ली जा सकती।’ उन्होंने सवाल किया, ‘प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर चेक करने के लिए एक अधिकारी को निलंबित क्यों किया गया? आखिर क्या संदेश दिया जा रहा है? कुछ लोगों के लिए विशेष कानून है?’ उन्होंने पूछा, ‘सीधा सा सवाल है। यदि कांग्रेस पार्टी के एसपीजी सुरक्षा प्राप्त लोगों की छानबीन हो सकती है, तो भाजपा के लोगों की क्यों नहीं?’ ईसी ने मोदी के हेलीकॉप्टर की ओडिशा के संबलपुर में मंगलवार को छानबीन करने के लिए बुधवार को जनरल ऑब्जर्वर मोहम्मद मोहसिन को निलंबित कर दिया।

ईसी ने कहा कि मोहसिन ने एसपीजी सुरक्षा प्राप्त लोगों के लिए ईसी के निर्देशों के खिलाफ काम किया। कर्नाटक कॉडर के आईएएस अधिकारी मोहसिन ओडिशा में निर्वाचन आयोग की निगरानी के तहत एक जनरल ऑब्जर्वर के रूप में तैनात थे। मोदी मंगलवार को ओडिशा में थे, जहां उन्होंने संबलपुर और भुवनेश्वर में दो चुनावी रैलियों को संबोधित किया था।