BREAKING NEWS

थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित◾कर्नाटक उपचुनाव में 62.18 प्रतिशत मतदान, 12 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला ◾प्याज को लेकर भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर कसा तंज ◾मोदी को तानाशाह के रूप में बदनाम करने की साजिश : स्वामी◾आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे दिल्ली, मिलेंगे प्रधानमंत्री एवं केंद्रीय मंत्रियों से ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची, पुलिस ने अस्पताल तक बनाया ग्रीन कॉरीडोर ◾अनुच्छेद 370 : लाइव स्ट्रीमिंग संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾हफ्ते भर बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग, भाजपा ने की आलोचना ◾बैंक धोखाधड़ी : ईडी ने रतुल पुरी की जमानत अर्जी का किया विरोध◾राहुल गांधी ने प्याज पर सीतारमण के बयान को लेकर तंज कसा ◾TOP 20 NEWS 05 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾PNB घोटाला : नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित ◾DTC और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरे, पैनिक बटन, GPS : केजरीवाल ◾मायावती ने केंद्र द्वारा लाए गए नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और असंवैधानिक◾चिदंबरम ने पहले ही दिन जमानत की शर्तों का उल्लंघन किया: प्रकाश जावड़ेकर◾अर्थव्यवस्था पर असामान्य रूप से मौन हैं PM मोदी, सरकार को नहीं कोई खबर : चिदंबरम ◾रेपो दर में नहीं हुआ कोई बदलाव, RBI ने GDP ग्रोथ अनुमान घटाकर किया 5 फीसदी◾वायनाड में बोले राहुल- PM मोदी और अमित शाह ‘काल्पनिक’ दुनिया में जी रहे हैं इसलिए देश संकट में है◾जेल से बाहर आते ही एक्शन में दिखे चिदंबरम, संसद परिसर में मोदी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन◾प्रियंका ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा- प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर होने के फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए◾

देश

कोलोकेशन ‘सफेदपोशों’ का काम, चिदंबरम की भूमिका की भी जांच हो : जिग्नेश शाह

 jignesh shah

संकट में फंसे कारोबारी जिग्नेश शाह ने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के को लोकेशन मामले में पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम और अन्य की भूमिका की मांग की है। शाह ने इसे ‘बड़े सफेदपोशों का अपराध’ बताया है और कहा है कि इसमें एक सेकेंड से भी कम समय में अरबों डालर की गैर कानूनी कमाई की जा सकती है। 

को लोकेशन का मामला एक जगह विशेष पर लगे कुछ शेयर ब्रोकरों के सर्वर पर शेयर बाजार से जुड़ी सूचनाएं कथित रूप से कुछ पहले पहुंचाने से संबंधित है। उन्होंने सरकार से कहा कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि कैसे एक शीर्ष शेयर बाजार ने कुछ चुनिंदा ब्रोकरों को एक तरजीह सुविधा दी थी। 

मोदी सरकार को ‘विकास रहित’ 100 दिन पूरे होने पर बधाई : राहुल गांधी

उन्होंने कहा कि इस तरह के मामले में सेकेंड के एक छोटे अंश भी में अरबों डॉलर अवैध तरीके से लाभ कमाया जा सकता है। शाह ने छह द्वीपों पर 14 एक्सचेंज शुरू किए थे। इसमें शीर्ष जिंस एक्सचेंज एमसीएक्स भी है। इस वजह से शाह को ‘भारत का एक्सजेंस मैन’ भी कहा जाता था। फाइनेंशियल टेक्लोलॉजीज समूह के पूर्ववर्ती कृषि जिंस एक्सचेंज एनएसईएल में 5,600 करोड़ रुपये की भुगतान चूक के बाद शाह को अपने इन सभी कारोबारों से हटना पड़ा था। 

शाह ने अपने कारोबारी साम्राज्य के समक्ष आई सभी दिक्क्तों के लिए चिदंबरम को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि यदि उनके सामने गैरकानूनी अड़चनें पैदा नहीं की गई होतीं तो भारत विश्व वित्तीय बाजार के लिए ‘कीमत तय’ करने वाला बन सकता था। शाह ने कहा, ‘‘हमने एक बड़ा अवसर गंवा दिया। हमने जो भी एक्सचेंज स्थापित किए उनमें हम शीर्ष पर थे और हम जो शेयर बाजार शुरू करने जा रहे थे उनमें भी इसे दोहराते।’’ 

उन्होंने कहा कि भारत ने दुनिया का शीर्ष वित्तीय बाजार बनने का अवसर गंवा दिया और हम उसी रफ्तार को फिर से नहीं पाया जा सकता क्योंकि एक्सचेंज क्षेत्र अब उस स्तर पर वापस जा चुका है जहां यह कई साल पहले होता था। चिदंबरम पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि पूर्व वित्त मंत्री ने अपने प्रिय एक्सचेंज के हितों के संरक्षण के लिए उन्हें निशाना बनाया। 

एमसीएक्स-एसएक्स की वजह से उन एक्सचेंजों का दबदबा कम हो रहा है। एमसीएक्स-एसएक्स को पूर्व शेयर बाजार के संचालन का लाइसेंस मिल गया था और एनएसईएल संकट शुरू होने से पहले हम पूर्ण परिचालन शुरू करने की तैयारी में थे। पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम इस समय एक अन्य मामले में न्यायिक हिरासत में हैं। वहीं एनएसई के अधिकारियों ने एनएसईएल मामले में किसी भूमिका से इनकार किया है। उन्होंने इन आरोपों को भी खारिज किया कि को लोकेशन सुविधा के जरिये चुनिंदा लोगों को फायदा पहुंचाया गया।