BREAKING NEWS

JNU छात्र आज फिर उतर सकते है सड़को पर, प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे स्टूडेंट ◾1 दिसंबर से ग्राहकों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, ये दूरसंचार कंपनियां बढ़ाएंगी मोबाइल सेवाओं की दरें◾इंदिरा गांधी की जयंती पर PM मोदी, सोनिया, मनमोहन और प्रणब मुखर्जी ने दी श्रद्धांजलि◾महाराष्ट्र : महीनेभर बाद भी एक ही सवाल, कब और कैसे बनेगी सरकार? ◾झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾

देश

SC की इजाजत मिलने के बाद आज जम्मू-कश्मीर जाएंगे येचुरी, पार्टी सहयोगी से करेंगे मुलाकात

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद माकपा महासचिव सीताराम येचुरी आज जम्मू-कश्मीर जाएंगे।  बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की इजाजत मिलने के बाद वह जम्मू-कश्मीर जाएंगे। वहां जाकर वह अपने पार्टी सहयोगी और पूर्व विधायक मोहम्मद यूसुफ तारिगामी से मुलाकात करेंगे। येचुरी ने कहा कि उनकी यात्रा के लिए जो कुछ भी किए जाने की आवश्यकता है, वह वे सब कुछ करेंगे। 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाएं जाने के बाद प्राधिकारियों ने तारिगामी को हिरासत में ले लिया गया है। वहीँ, चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की एक पीठ ने येचुरी को निर्देश दिया कि जम्मू-कश्मीर जाने के बाद वह सिर्फ तारिगामी से मिलें और अपनी यात्रा का इस्तेमाल किसी भी राजनीतिक उद्देश्य के लिए न करें। 

भारत में घूमकर, खुद चीजों को देखकर इसकी तस्वीर पेश करें : विदेशी पत्रकारों से बोले प्रणब मुखर्जी

येचुरी ने कहा कि मैंने सुप्रीम कोर्ट में को पेश करने के लिए याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट ने अब मुझे तारिगामी के पास जाने और उनके स्वास्थ्य के बारे में कोर्ट को जानकारी देने की अनुमति दे दी है। इसके बाद मामला आगे बढ़ेगा। यह अभी अंतरिम आदेश है, इसलिए अभी मामला बंद नहीं हुआ है। 

येचुरी ने कहा कि वह लौटने के बाद न्यायालय में शपथपत्र दाखिल करेंगे। माकपा नेता इस महीने जम्मू-कश्मीर जाने की दो बार कोशिश कर चुके हैं।