BREAKING NEWS

दुनियाभर में कोरोना केस का आंकड़ा 13.58 करोड़ से अधिक, मरने वालों का आंकड़ा 29.3 लाख के पार ◾टीका उत्सव के पहले दिन 27 लाख से अधिक लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन : स्वास्थ्य मंत्रालय◾राकेश टिकैत बोले- केंद्र सरकार आमंत्रित करती है तो किसान वार्ता के लिए तैयार◾आज का राशिफल (12 अप्रैल 2021)◾ प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक को माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान केंद्रित करने को कहा ◾बंगाल में बोले गृहमंत्री अमित शाह : दीदी के भाषण के कारण हुई 4 युवकों की मौत ◾मथुरा में गिरिराज परिक्रमा बंद, बिहारी जी के मंदिर के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा ◾राणा और त्रिपाठी के अर्धशतक, कोलकाता नाइट राइडर्स 10 रन से जीता ◾संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में एनएसयूआई ने सभी पदों पर जीत हासिल की ◾महाराष्ट्र में एक दिन में कोविड-19 के रिकॉर्ड 63,294 नए मामले ◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन पर आखरी फैसला 14 अप्रैल के बाद होगा : राजेश टोपे ◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट, 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 48 मरीजों की मौत◾कूचबिहार की घटना मतदाताओं को डराने के लिए रचे गए भाजपा के षड़यंत्र का परिणाम: CM ममता ◾अनिल विज ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को लिखा पत्र, प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ फिर से शुरू करें बातचीत◾PM लॉकडाउन पर फैसला तब लेंगे, जब बंगाल में चुनाव खत्म होंगे: संजय राउत ◾शांतिपुर में अमित शाह का रोडशो, ममता पर लगाया मृत्य पर तुष्टिकरण की राजनीति का आरोप◾सीबीएसई बोर्ड ने सर्कुलर किया जारी, प्रियंका गांधी ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र◾कांग्रेस का केंद्र पर वार, कहा- सरकार की नीतियों के कारण भारतीयों पर कहर बरपा रहा है कोरोना ◾वैक्सीन उत्सव : PM मोदी ने देशवासियों को महामारी से लड़ने के लिए दिया चार सूत्रीय फॉर्मूला ◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति चिंताजनक, अस्पतालों में बेड्स कम पड़े तो लगाना पड़ जाएगा लॉकडाउन : CM केजरीवाल◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आजाद की सभा में जुटे 'G23' के नेता, कपिल सिब्बल बोले- सच्चाई है कि कांग्रेस कमजोर हो रही है

राज्यसभा से विदाई लेने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के तीन दिवसीय दौरे का आज दूसरा दिन है। आजाद समेत आज G -23 में शामिल कांग्रेस के बड़े बागी नेता गांधी ग्लोबल फैमिली के कार्यक्रम में जुटे। हालांकि कांग्रेस नेता ने दावा किया है कि यह कार्यक्रम पूरी तरह गैर-राजनितिक है। आजाद ने आज दिल्ली से आए कई बड़े नेताओं का स्वागत किया।

शांति सम्मेलन नाम से आयोजित कार्यक्रम में वरिष्ठ नेता और अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा, 'यह सच्चाई है कि कांग्रेस लगातार कमजोर होती जा रही है। इसलिए हम लोग यहां जुटे हैं। हम इससे पहले भी इकट्ठा हुए थे और हमें कांग्रेस पार्टी को आगे ले जाना है।'

गुलाम नबी आज़ाद की राज्यसभा से विदाई को लेकर सिब्बल ने कहा कि 'आजाद एक ऐसे नेता हैं, जो हर राज्य के हर जिले में कांग्रेस की हकीकत और उसकी ताकत के बारे में जानते हैं। हमें दुख हुआ, जब यह पता चला कि वह अब संसद में नजर नहीं आएंगे। हम नहीं चाहते थे कि वह संसद से जाएं। मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि आखिर कांग्रेस उनके अनुभव का इस्तेमाल क्यों नहीं कर रही है।' 

कपिल सिब्बल ने गुलाम नबी आजाद की तुलना पार्टी के एक इंजीनियर से करते हुए कहा, गुलाम नबी आज़ाद साहब की असली भूमिका क्या है? विमान उड़ाने वाला व्यक्ति एक अनुभवी व्यक्ति होता है। एक इंजीनियर इंजन में किसी खराबी का पता लगाने और उसकी मरम्मत करने में उसका साथ देता है। गुलाम नबी जी को इंजीनियर होने का अनुभव है।

हमारी आवाज पार्टी की बेहतरी के लिए : आनंद शर्मा

कार्यक्रम में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने अपने बयान में कहा, 1950 के बाद कभी ऐसा अवसर नहीं आया जब राज्य सभा में जम्मू-कश्मीर का कोई प्रतिनिधि न हो। इसे सुधारा जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले एक दशक में कांग्रेस कमजोर हुई है। हमारी आवाज पार्टी की बेहतरी के लिए है। इसे एक बार फिर से हर जगह मजबूत किया जाना चाहिए। नई पीढ़ी को पार्टी से जुड़ना चाहिए। हमने कांग्रेस के अच्छे दिन देखे हैं। जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं, हम इसे कमजोर होते देखना नहीं चाहते हैं।

मैं राज्यसभा से रिटायर हुआ हूं, राजनीति से नहीं : आजाद

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आज कई बरसों बाद हम राज्य का हिस्सा नहीं हैं, हमारी पहचान खत्म हो गई है। राज्य का दर्जा वापस पाने के लिए हमारी संसद के अंदर और बाहर लड़ाई जारी रहेगी। जब तब यहां चुने हुए नुमाइंदे मंत्री और मुख्यमंत्री नहीं होंगे बेरोज़गारी, सड़कों और स्कूलों की ये हालत जारी रहेगी। उन्होंने काह, मैं राज्यसभा से रिटायर हुआ हूं, राजनीति से रिटायर नहीं हुआ और मैं संसद से पहली बार रिटायर नहीं हुआ हूं।

शांति सम्मेलिन में शामिल हुए अभिनेता और उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी रह चुके राज बब्बर ने कहा कि लोग हमें G-23 कहते हैं, लेकिन मैं हमें गांधी 23 कहता हूं, महात्मा गांधी के विश्वास, संकल्प और सोच के साथ, इस देश का कानून और संविधान बना। इन्हें आगे बढ़ाने के लिए कांग्रेस मजबूती से खड़ी है। उऩ्होंने अपने मकसद को सामने रखते हुए कहा कि 'जी 23' चाहती है कि कांग्रेस मजबूत हो।