BREAKING NEWS

सत्येंद्र जैन बोले- बिना शर्त बात करे केंद्र, आगे की रणनीति को लेकर किसानों की बैठक जारी ◾'मन की बात' में बोले पीएम मोदी- नए कृषि कानून से किसानों को मिले नए अधिकार और अवसर◾हैदराबाद निगम चुनावों में BJP ने झोंकी पूरी ताकत, 2023 के लिटमस टेस्ट की तरह साबित होंगे निगम चुनाव ◾गजियाबाद-दिल्ली बॉर्डर पर डटे किसान, राकेश टिकैत का ऐलान- नहीं जाएंगे बुराड़ी ◾बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा- कृषि कानूनों पर फिर से विचार करे केंद्र सरकार◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 94 लाख के करीब, 88 लाख से अधिक लोगों ने महामारी को दी मात ◾योगी के 'हैदराबाद को भाग्यनगर बनाने' वाले बयान पर ओवैसी का वार- नाम बदला तो नस्लें होंगी तबाह ◾वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामले 6 करोड़ 20 लाख के पार, साढ़े 14 लाख लोगों की मौत ◾सिंधु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी, आगे की रणनीति के लिए आज फिर होगी बैठक ◾छत्तीसगढ़ में बारूदी सुरंग में विस्फोट, CRFP का अधिकारी शहीद, सात जवान घायल ◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾भाजपा नेता अनुराग ठाकुर बोले- J&K के लोग मतपत्र की राजनीति में विश्वास करते हैं, गोली की राजनीति में नहीं◾आज का राशिफल ( 29 नवंबर 2020 )◾किसान आंदोलन से देश की राजधानी में फलों, सब्जियों की आपूर्ति पर असर◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुणे में वैक्सीन निर्माण की प्रगति का लिया जायजा◾सरकार ने कहा, किसानों से किसी भी समय बातचीत के लिए तैयार ◾भारत, श्रीलंका और मालदीव समुद्री सुरक्षा सहयोग बढ़ाने पर सहमत हुए ◾राज्यसभा उप चुनाव के लिये उम्मीदवार पर फैसला करने के लिये भाजपा स्वतंत्र : चिराग◾उत्तर भारत में सर्दी बढ़ी, दक्षिणी राज्यों में एक दिसंबर से भारी बारिश की आशंका ◾किसानों को अमित शाह का संदेश- हर समस्या और मांग पर सरकार विचार करने को तैयार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जम्मू-कश्मीर के दो जिलों में ट्रायल के तौर पर 15 अगस्त के बाद शुरू होगी 4G इंटरनेट सेवा

जम्मू-कश्मीर में 4G इंटरनेट की बहाली को लेकर केंद्र ने बड़ा फैसला लेते हुए ट्रायल के तौर पर 15 अगस्त के बाद चुनिंदा इलाकों में इंटरनेट सर्विस शुरू करेगी। केंद्र सरकार ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि 4जी इंटरनेट सेवा पर से बैन जम्मू-कश्मीर के दो जिलों में ट्रायल के आधार पर 15 अगस्त के बाद से हटा लिया जाएगा। 

केंद्र की ओर से पेश अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कोर्ट को बताया कि जिन क्षेत्रों में 4G प्रदान किया जा सकता है, उनकी पहचान की जाएगी और फिर 4G सेवाएं दी जाएंगी। कोर्ट ने केंद्र के इस रुख की सराहना की है। अटॉर्नी जनरल ने कोर्ट को बताया कि कुछ क्षेत्रों में सख्त निगरानी के अधीन इंटरनेट प्रतिबंधों को चयनित क्षेत्रों में परीक्षण के आधार पर किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि समिति ने निर्णय लिया है कि जम्मू-कश्मीर में 4G इंटरनेट सेवा व्यापक आंकलन के बाद दी जाएगी, दो महीने के बाद इसके परिणाम की समीक्षा होगी। न्यायमूर्ति आर. सुभाष रेड्डी और बी.आर. गवई भी पीठ का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा कि प्रतिवादियों (केंद्र तथा जम्मू-कश्मीर प्रशासन) का यह रूख निश्चित ही अच्छा है। 

जम्मू-कश्मीर में पिछले वर्ष अगस्त में हाई स्पीड इंटरनेट सेवा तब निलंबित की गई थी जब केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त कर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों-जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित करने की घोषणा की थी। 

सात अगस्त को जम्मू-कश्मीर ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन से केंद्र शासित प्रदेश के कुछ इलाकों में 4जी सेवा बहाल करने की संभावनाएं तलाशने को कहा था। कोर्ट फाउंडेशन फॉर मीडिया प्रोफेशनल्‍स की याचिका पर सुनवाई कर रहा है, जिसमें केंद्र और जम्मू-कश्मीर प्रशासन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के 11 मई के निर्देशों का पालन करने में विफलता की समीक्षा के लिए अवमानना कार्यवाही शुरू करने की मांग की गई थी।