जम्मू / श्रीनगर : जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में आज ताजा बर्फबारी हुयी जिसके कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया गया। हालांकि, बर्फबारी से काजीगुंद इलाके में जवाहर सुरंग के आसपास बर्फ जमा हो जाने के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद हो गया जिससे कश्मीर को देश के शेष हिस्सों से जोड़ने वाला संपर्क टूट गया है।

 

यातायात विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘सड़क पर फिसलन भरी स्थिति और जवाहर सुरंग एवं अन्य इलाकों में ताजा बर्फबारी के कारण राजमार्ग को बंद कर दिया गया है।’’ यातायात अधिकारियों ने जम्मू और काजीगु्ंद में नगरोटा जांच चौकी पर वाहनों का यातायात रोक दिया है। बर्फबारी के कारण श्रीनगर हवाई अड्डे पर दृश्यता में भी कमी आयी है जिसके कारण हवाई यातायात प्रभावित हुआ है।

भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (एएआई) के एक अधिकारी ने यहां बताया, ‘‘इस समय दृश्यता का स्तर 600 मीटर है और बर्फबारी के कारण साढ़े दस बजे तक रनवे का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। इसे हटाने के बाद स्थिति ठीक हो सकेगी।’’ कश्मीर में इस सर्दी के मौसम में यह पहली भारी बर्फबारी है। यहां अब तक मौसम लगभग शुष्क रहा है। पिछले साल दिसंबर की शुरूआत में कुछ बर्फबारी हुयी थी और इसके बाद से मौसम आमतौर पर शुष्क बना रहा। मौसम विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पिछले 38 सालों में कश्मीर में जनवरी का महीना सबसे शुष्क माह रहा।

अधिकारियों ने बताया कि बर्फबारी की वजह से सभी प्रमुख सड़कों पर यातायात प्रभावित हुआ है। लगातार बर्फबारी के कारण सड़कों से बर्फ साफ करने में बाधा आ रही है। इस बीच, पूरी घाटी में गुलमर्ग को छोड़कर सभी जगह न्यूनतम तापमान जमाव बिन्दु के करीब है। उत्तर कश्मीर का न्यूनतम तापमान शून्य 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

मौसम अधिकारियों ने बताया कि लद्दाख क्षेत्र में करगिल राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा जहां का न्यूनतम तापमान शून्य से 14 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। नजदीकी लेह शहर का न्यूनतम तापमान शून्य से 11.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

 

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।