BREAKING NEWS

बलात्कारी के लिए मृत्युदंड से सख्त सजा कुछ नहीं हो सकती, पालक भी जिम्मेदारी समझें : स्मृति ईरानी◾CM केजरीवाल ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत को बताया शर्मनाक, ट्वीट कर कही ये बात ◾बलात्कार की घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लें सुप्रीम कोर्ट : मायावती◾PM मोदी, अमित शाह और अजीत डोभाल पुणे में शीर्ष पुलिस अधिकारियों के सम्मेलन में हुए शामिल ◾केरल में बोले राहुल गांधी- महिलाओं के खिलाफ हिंसा और ज्यादतियों में हुई बढ़ोतरी◾सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर PM मोदी ने लोगों से किया अनुरोध, बोले- सशस्त्र बल के कल्याण के लिए योगदान दें◾उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के विरोध में BJP मुख्यालय पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज◾उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के बाद विधानसभा के बाहर धरने पर बैठे अखिलेश यादव, कहा- वो जिंदा रहना चाहती थी◾उन्नाव पीड़िता की मौत पर बोली स्वाति मालीवाल- सरकार बलात्कार पीड़िताओं के प्रति असंवेदनशील ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत पर बोली प्रियंका गांधी- यह हम सबकी नाकामयाबी है हम उसे न्याय नहीं दिला पाए◾उन्नाव रेप केस: बुजुर्ग पिता की गुहार, बेटी के गुनहगारों को मिले मौत की सजा◾उन्नाव रेप पीड़िता की दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक : मायावती◾सीएम बनने के बाद PM मोदी से पहली बार मिले उद्धव ठाकरे, सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मुम्बई रवाना हुए मोदी ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : सिल्ली में जीत का 'चौका' लगा पाएंगे सुदेश महतो?◾झारखंड: विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए 20 सीटों पर मतदान जारी, PM मोदी ने की लोगों से वोट डालने की अपील ◾जिंदगी की जंग हार गई उन्नाव रेप पीड़िता, सफदरजंग अस्पताल में हुई मौत◾महिलायें अपने हाथ में लें देश की बागडोर : प्रियंका गांधी वाड्रा◾हैदराबाद मुठभेड़ मामले में पुलिस ने आत्मरक्षा में गोली चलाई : येदियुरप्पा◾प्रियंका गांधी वाड्रा ने ताबड़तोड़ बैठकें कर जनमुद्दों पर सरकार को जगाने की रणनीति पर चर्चा की ◾TOP 20 NEWS 6 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर के विभाजन के बाद भारत-पाक सीमा और संवेदनशील हुई : बीएसएफ डीजी

 bsf border main

सरकार द्वारा तत्कालीन जम्मू-कश्मीर राज्य को दो हिस्सों में विभाजित करने के लिये गए फैसले के बाद कश्मीर में नियंत्रण रेखा और जम्मू एवं पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा ‘‘बहुत संवेदनशील’’ हो गई है क्योंकि आतंकवादी भारत में घुसपैठ के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। यह बात बीएसएफ के एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को कही। 

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) प्रमुख वी के जौहरी ने बल के 55वें स्थापना दिवस के मौके पर अपने संबोधन में कहा कि उनके जवान इसको लेकर दृढ़ रहे हैं कि सीमाओं की शुचिता, विशेष रूप से भारत-पाकिस्तान सीमा, हर कीमत पर सुनिश्चित की जाए। 

जौहरी ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान समाप्त किये जाने और जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटे जाने का उल्लेख करते हुए कहा कि हाल के प्रशासनिक निर्णयों के कारण कश्मीर में नियंत्रण रेखा और जम्मू तथा पंजाब से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा ‘‘बहुत संवेदनशील’’ हो गई है। 

महानिदेशक ने कहा, ‘‘भारत-विरोधी ताकतें (सीमाओं से) घुसपैठ की लगातार कोशिशें कर रही हैं... हम देश को आश्वस्त करते हैं कि बीएसएफ ऐसे सभी प्रयासों को विफल करेगा।’’ 

उन्होंने कहा कि बल ने नई तकनीक और हथियारों को शामिल करके अपनी ‘‘रणनीतिक क्षमताओं’’ का विस्तार किया है। 

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने गत पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त कर दिये थे और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों -जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया था।