BREAKING NEWS

CM ममता का प्रधानमंत्री पर तंज- एक दिन ऐसा आएगा जब देश का नाम नरेन्द्र मोदी के नाम पर रखा जाएगा ◾‘जनभागीदारी’ देश की आजादी के 75 वें वर्ष के उत्सव की मूल भावना, भारत के गौरव की भी हो झलक : PM मोदी◾मराठा आरक्षण पर SC का राज्यों से सवाल, क्या आरक्षण सीमा 50 फीसदी से बढ़ाई जा सकती है?◾मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिले विस्फोट मामले की जांच अब NIA करेगी◾रेप के आरोपी को पीड़िता से शादी करने के लिए नहीं कहा, गलत की गई रिपोर्टिंग : CJI◾बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में इंडियन मुजाहिदीन आरिज खान दोषी करार, 15 मार्च को सजा सुनाएगी कोर्ट ◾बिहार विधान परिषद में गुस्से में दिखे CM नीतीश, RJD एमएलसी को कहा- 'पहले नियम जान लो' ◾Punjab Budget : 1.13 लाख किसानों का कर्ज माफ, बुजुर्गों की पेंशन 750 रुपए से बढ़ाकर 1500 महीना◾नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत दिल्ली तलब ◾सिंघु बॉर्डर पर फायरिंग, कार से आए 4 युवक गोली चलाकर फरार, जांच में जुटी पुलिस◾मेगन और हैरी ने शाही परिवार के साथ विवादों को लेकर खुलकर की बात, कहा- कभी आए थे सुसाइड के खयाल ◾देश में लगातार तीसरे दिन कोरोना के 18 हजार से अधिक मामलों की पुष्टि, एक्टिव केस 1 लाख 88 हजार ◾TOP 5 NEWS 08 MARCH: आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : पीएम मोदी ने नारी शक्ति को किया सलाम, कहा- भारत को महिलाओं पर गर्व◾आज का राशिफल (08 मार्च 2021)◾बंगाल चुनाव : मोदी ने ममता को बताया धोखेबाज, बोलीं- झूठे हैं मोदी ◾उत्तराखंड : भाजपा कोर ग्रुप की अचानक हुई बैठक से प्रदेश में बढ़ी सियासी सरगर्मी ◾हरियाणा ने आपूर्ति घटाई, दिल्ली में जलसंकट का खतरा ◾तेजप्रताप की बहन की रिंग सेरीमनी में एक हुआ यादव परिवार ◾कम हो सकती है संसद सत्र की अवधि ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भाजपा महासचिव राम माधव बोले- कश्मीर को आतंक की आग में झोंकने के लिए सिर्फ गिलानी जिम्मेदार

जम्मू-कश्मीर में बीते कई दिनों से सीमा पार से लगातार गोलीबारी हो रही है, हालांकि, गोलीबारी का भारतीय सेना की ओर से भी मूह तोड़ जवाब दिया जा रहा है। इस बीच, भारतीज जनता पार्टी के महासचिव राम माधव ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर को हिंसा और आतंकवाद की आग में झोंकने के लिए अगर कोई एक व्यक्ति सबसे अधिक जिम्मेदार है तो वह अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ही हैं।

माधव का यह बयान ठीक उस दिन आया जब गिलानी ने हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के उस धड़े से अलग होने की घोषणा की जिसका गठन उन्होंने 2003 में किया था। उन्होंने कश्मीर के हजारों युवाओं व परिवारों की जिंदगी बर्बाद करने के लिए गिलानी को जिम्मेदार ठहराया। गिलानी पर हमला करते हुए माधव ने सवाल किया कि आज जो उन्होंने कदम उठाया है उससे उनके पूर्व में किए गए पाप धुल नहीं जाते।

माधव ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘यह व्यक्ति हजारों कश्मीरी युवाओं और परिवारों की जिंदगियां तबाह करने, घाटी को हिंसा और आतंक की आग में झोंकने के लिए अकेले जिम्मेदार है। और अब बिना कोई कारण बताए हुर्रियत से इस्तीफा दे दिया। क्या ऐसा करने से इस व्यक्ति के पूर्व के सारे पाप धुल जाते हैं?’’ माधव, जम्मू एवं कश्मीर में भाजपा के मुख्य रणनीतिकार हैं।

मीडिया के लिए जारी चार पंक्ति के पत्र और एक ऑडियो संदेश में, 90 वर्षीय नेता के प्रवक्ता ने कहा, “ गिलानी ने हुर्रियत कॉन्फ्रेंस फोरम से पूरी तरह से अलग होने की घोषणा की है।” गिलानी ने संगठन के सभी घटकों को विस्तृत पत्र लिखते हए हुर्रियत कॉन्फ्रेंस छोड़ने के अपने फैसले के पीछे के कारण बताए हैं। उन्हें इसका (संगठन का) आजीवन प्रमुख नामित किया गया था। गिलानी ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के अलगाववादी नेता अवसरवादी हैं और उन्होंने निजी स्वार्थों के लिए कश्मीर के इस मंच का इस्तेमाल किया।