BREAKING NEWS

बिहार बीजेपी का अगला अध्यक्ष कौन ? गठबंधन टूटने के बाद सियासी समीकरणों को साधने की कोशिश◾UP News: अलीगढ़ की मीट फैक्ट्री में हादसा, अमोनिया गैस का हुआ रिसाव, 50 मजदूर बेहोश, DM-SP मौके पर मौजूद ◾दिग्विजय भी लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव, कल दाखिल करेंगे नामांकन पत्र ◾उत्तर प्रदेश : छोटी सी बात को लेकर हुआ पति-पत्नी में विवाद, लेनी पड़ी एक अपनी जान ◾SC ने महिलाओ के पक्ष में सुनाया बड़ा फैसला, कहा- विवाहित महिला की जबरन प्रेगनेंसी को माना जा सकता है रेप ◾गुजरात को मिलेगी विकास की सौगात, पीएम मोदी ने सूरत में कहा - गुजरात का गौरव बढ़ाने का मिला सौभाग्य◾PFI BAN : लगातार करवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सकता है पीएफआई, ट्विटर अकाउंट पर भी बैन ◾सोनिया से बगावत के बाद आज पहली बार मिलेंगे गहलोत, पायलट ने भी दिल्ली में डाला डेरा◾गरबा में छिपाकर कर आए मुस्लिम युवको को बजरंग दल ने जमकर पीटा, इंदौर से अहमदाबाद तक मचा बवाल ◾तीन साल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहेंगे नड्डा, नहीं करना चाहती BJP पार्टी में बदलाव !◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटो में संक्रमण के 4,272 नए मामले दर्ज़, 27 लोगों की मौत ◾पायलट गुट के विधायकों ने तोड़ी चुप्पी, अशोक गहलोत पर कह दी बड़ी बात ◾अशोक गहलोत ने बीजेपी पर साधा निशाना, सोनिया गांधी पर भी दिया बड़ा बयान ◾अशोक गहलोत ने कांग्रेस हाईकमान के सामने मानी हार, जानिए दिल्ली एयरपोर्ट पर क्या कहा ◾जम्मू-कश्मीर : उधमपुर में 8 घंटे के भीतर दो बड़े धमाके, बसों में हुए दोनों ब्लास्ट◾प्रियंका गांधी को बनाया जाए कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के सांसद ने पेश की ये बड़ी दलील◾अशोक गहलोत का कटेगा पत्ता? कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर संशय◾आज का राशिफल (29 सितंबर 2022)◾दिग्विजय बनाम थरूर की ओर बढ़ रहा कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव◾दिल्ली पहुंचे गहलोत ने सोनिया के नेतृत्व को सराहा व संकट सुलझने की जताई उम्मीद ◾

आतंकियों को ढेर करने वाले कमांडो का गांव वालों ने किया जोरदार स्वागत

कमांडो मुबारिक अली का आज राजस्थान के झुंझुनूं जिले में उसके पैतृक गांव में लोगों ने जोरदार स्वागत किया। आपको बता दे कि कमांडो मुबारिक अली ने जम्मू & कश्मीर में सीने पर गोली लगने के बावजूद 3 आंतकवादियों को ढेर किया था ।

इन दिनों मेडिकल रेस्ट पर चल रहे मुबारिक अली ने बताया कि 30 जुलाई को सुबह सात बजे उनकी टीम पुलवामा के दहाब क्षेत्र में सर्च अभियान पर थी और नदी के किनारे गांव में एक घर के पास हलचल हुई। वे कुछ समझ पाते इतने में ही सामने से कुछ लोग फायर करते हुए भागने लगे।

मुबारिक ने उन पर फायर किया। इस दौरान आतंकियों की गोली मुबारिक के दाहिने हाथ से निकल कर पार हो गई। एक गोली उनके सीने पर लगी।

उन्होंने बताया कि बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी होने के कारण गोली सीने के पार नहीं हो सकी। घायल होने के बावजूद मुबारिक ने एक हाथ से फायर करते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया। पीछे चल रहे साथी जवानों ने इसकी सूचना यूनिट को दी। सेना के हेलीकॉप्टर से कमांडो मुबारिक को श्रीनगर के अस्पताल लाया गया।

माता हाजन आमीना बानो एवं पत्नी शहनाज बानो तथा देश के लोगों की दुआओं की बदौलत कमांडो मुबारिक अली ठीक हो गए। कमांडो के दो भाई सूबेदार सुभान अली दफेदार मोहम्मद रफीक भी सेना में हैं। कमांडो मुबारिक के पिता हाकिम अली किसान है।

कमांडो मुबारिक अली का विधायक नरेंद कुमार खीचड़ ने सम्मान किया। इस अदम्य साहस पर गांव के कायमखानी समाज ने मुबारिक खान की जांबाजी पर गर्व महसूस किया है। कमांडो मुबारिक अली 1997 में सेना की 16 ग्रेनेडियर में भर्ती हुए थे। बाद में 55 राष्ट्रीय राइफल्स में शामिल मुबारिक अली ने करगिल युद्ध में भी भाग लिया था। वे बताते हैं कि उनकी यूनिट करगिल के द्रास सेक्टर में तैनात थी।