BREAKING NEWS

इजराइल ने भारत-इजराइल मित्रता के प्रमुख सूत्रधार दिवंगत शिमोन पेरेज को श्रद्धांजलि देने के लिए PM मोदी को दिया धन्यवाद◾SRH vs DC ( IPL 2020 ) : सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्ली कैपिटल्स को 15 रनों से हराया ◾ संजय सिंह ने CM योगी पर साधा निशाना , कहा - बलात्कारियों को संरक्षण दे रही है UP सरकार◾महाराष्ट्र में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में 14,976 नए केस, 430 की मौत ◾उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव ◾IPL-13: जॉनी बेयरस्टो का शानदार अर्धशतक, हैदराबाद ने दिल्ली के सामने रखा 163 रनों का लक्ष्य ◾दिल्ली में कोरोना से 24 घंटे में 48 लोगों की मौत , 3227 नए मामले भी सामने आए ◾सच्चाई से परे और बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है एमनेस्टी इंटरनेशनल का बयान : गृह मंत्रालय◾ भारत ने अवैध तरीके से लद्दाख को बनाया केंद्र शासित प्रदेश, हम नहीं देते मान्यता : चीन ◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘रक्षा भारत स्टार्टअप चैलेंज’ की शुरुआत की, दिशा-निर्देश भी किये लॉन्च◾हाथरस केस : उप्र में ‘जंगलराज’ ने एक और युवती को मार डाला, सरकार ने कहा 'फ़ेक न्यूज़' - राहुल गांधी◾DC vs SRH आईपीएल-13 : दिल्ली कैपिटल्स ने जीता टॉस, गेंदबाजी का किया फैसला◾6 साल में सेना ने खरीदा 960 करोड़ का खराब गोला-बारूद, तकरीबन 50 जवानों ने गंवाई जान : रिपोर्ट ◾LAC विवाद पर भारत का कड़ा सन्देश - अपनी मनमानी व्याख्या जबरन थोपने की कोशिश न करें चीन◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर बवाल, विजय चौक के पास दिल्ली महिला कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन◾बिहार विधानसभा चुनाव : महागठबंधन से अलग हुई RLSP, बसपा के साथ बनाया नया गठबंधन ◾पायल घोष ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से की मुलाकात, अनुराग कश्यप मामले में की न्याय की मांग◾विपक्ष के चौतरफा हमले के बीच यूपी सरकार ने हाथरस के पीड़ित परिवार को दी 10 लाख रु की मदद ◾चुनाव आयोग ने 12 राज्यों की 57 सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, 10 नवंबर को नतीजे◾एनसीबी का बड़ा बयान- ड्रग्स लेने के दौरान सुशांत को रिया ने दिया बढ़ावा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पुलवामा अटैक के तीसरे दिन भी जम्मू में कर्फ्यू जारी

जम्मू में रविवार को बिना किसी ढील के लगातार तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी रहा। वहीं, सेना ने संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च किया। अधिकारियों ने बताया कि वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने शहर में सामान्य हालात की बहाली के लिए प्रतिष्ठित लोगों के साथ लंबी बैठक की। कर्फ्यू वाले इलाकों में सेना की टुकड़ियों ने फ्लैग मार्च किया। कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए कई लोगों को एहतियाती तौर पर हिरासत में लिया गया है।

गुरुवार को पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के खिलाफ जम्मू में शुक्रवार को पाकिस्तान विरोधी प्रदर्शन और हिंसा की छिटपुट घटनाएं हुईं थीं जिसके चलते शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया था। आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक एम के सिन्हा ने कहा, ‘‘ शहर में कर्फ्यू जारी है और रात या आज सुबह किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है।’’

उन्होंने कहा कि शनिवार को कुछ स्थानों पर हल्के पथराव की घटनाओं की खबरें मिलीं, लेकिन कुल मिलाकर स्थिति नियंत्रण में है। सिन्हा ने कहा, ‘‘ स्थिति पर नजर रखी जा रही है और स्थिति की नए सिरे से समीक्षा करने के बाद दिन में कर्फ्यू में ढील पर फैसला किया जाएगा।’’ उनके साथ जम्मू के मंडलायुक्त संजीव कुमार वर्मा और जम्मू के जिला विकास आयुक्त रमेश कुमार ने शनिवार शाम विभिन्न धर्मों के प्रतिष्ठित नागरिकों के साथ लंबी बैठक की।

\"\"

अधिकारियों ने उनसे शहर में सामान्य हालात बहाल करने में भूमिका निभाने की अपील की। साथ में यह भी अनुरोध किया कि वे साम्प्रदायिक आधार पर लोगों को विभाजित करने वाले तत्वों के नापाक मंसूबे नाकाम करें। पुलिस महानिरीक्षक ने बैठक में कहा, ‘‘ राष्ट्र विरोधी तत्वों का लोगों को विभाजित करने का मंसूबा है। वे आतंकी घटना को सांप्रदायिक घटना में बदलना चाहते हैं। हमें एकजुट खड़े रहने की जरूरत है और उनके दुष्प्रचार का शिकार नहीं बनना चाहिए।’’

उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले को गहराई से देखने की जरूरत है। सिन्हा ने कहा कि देश विरोधी तत्व हमारे जवानों पर हमले के जरिए हमारे समाज को बांटना चाहते हैं। उन्होंने बैठक में आए लोगों से कहा कि वे हिंसा से दूर रहने के लिए युवाओं का मार्गदर्शन करें और उन लोगों को पकड़ने के लिए प्रशासन की मदद करें जो क्षेत्र में शांतिपूर्ण माहौल को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।

अधिकारियों ने बताया कि सेना की टाइगर डिवीज़न की 18 टुकड़ियों को व्हाइट नाइट कोर से हवाई सहयोग के साथ तैनात किया गया है। ये टुकड़ियां गुज्जर नगर, जानीपुर, शहीदी चौक, तालाब खटिका, सिधरा और अन्य संवेदनशील इलाकों में तैनात हैं। शुक्रवार को नौ टुकड़ियां तैनात की गई थीं।

स्थिति को संभालने के लिए प्रशासन की मांग के बाद शनिवार को नौ और टुकड़ियों को तैनात किया गया। एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ स्थिति पर निगरानी रखने के लिए हेलीकॉप्टरों और यूएवी को भी अभियान में शामिल किया गया है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस, प्रशासन और भारतीय सेना ने संयुक्त रूप से अग्र-सक्रिय दृष्टिकोण अपनाया।’’

अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को शहर के जानीपुर और न्यू प्लॉट सहित कुछ इलाकों में कर्फ्यू की अवहेलना करने का प्रयास करने के कारण दर्जनों लोगों को एहतियाती तौर पर हिरासत में ले लिया गया। उन्होंने कहा, ‘‘ पुलिस ने तेजी से कार्रवाई की और स्थिति को नियंत्रण में कर लिया।’’ शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए शनिवार रात जम्मू क्षेत्र के लगभग सभी जिला मुख्यालयों से शांतिपूर्ण कैंडल मार्च की खबरें आईं।