BREAKING NEWS

जानिये कौन है उमर खालिद, जिसकी मौत का बदला लेने के लिए TTP ने दहला दिया पाकिस्तान◾Bihar Murder case : बीजेपी से जुड़े रिटायर्ड प्रोफेसर दंपत्ति की हत्या, घर से शव बरामद◾महिला शिष्या से बलात्कार मामले में आज हो सकता आसाराम की सजा का ऐलान, 2014 से चल रहा है मामला ◾ Delhi : CM केजरीवाल को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद राजधानी में मचा हड़कंप, जानिए पूरा मामला ◾Budget 2023: आर्थिक सर्वेक्षण में क्या होता है ख़ास? बजट से पहले क्यों किया जाता है पेश, जानिए पूरा इतिहास ◾भारत जोड़ो यात्रा के बावजूद विपक्ष को एक सूत्र में बांध नहीं सके राहुल गांधी, जानिये अब क्या है आगे का प्लान ◾भारत जोड़ो यात्रा के बावजूद विपक्ष को एक सूत्र में बांध नहीं सके राहुल गांधी, जानिये अब क्या है आगे की◾ग्रेटर नोएडा ऑथॉरिटी ने 49 कर्मचारियों की सेवाओं को किया समाप्त ◾लखनऊ : मां-बेटे पर तेज़ाब से हमला, आठ साल से थे समलैंगिक रिलेशनशिप ◾महिला सहायता कर्मियों पर तालिबान का प्रतिबंध कई मानवीय कार्यक्रमों को समाप्त करने के समान : संयुक्त राष्ट्र◾महाराष्ट्र सरकार ने रेलवे परियोजनाओं की 50 फीसदी लागत खर्च नहीं करने के अपने फैसले को पलटा◾अमित शाह ने गणतंत्र दिवस परेड पुरस्कार जीतने पर CRPF और सशस्त्र बलों को दी बधाई ◾मल्लिकार्जुन खड़गे और कई सांसद राष्ट्रपति के अभिभाषण में शामिल नहीं होंगे शामिल, कांग्रेस ने बताई ये वजह◾दिल्ली जलबोर्ड लाएगी एक महीने के भीतर पानी के बिल के लिए एकमुश्त समाधान की योजना◾Ghaziabad Crime : फाइव स्टार होटल के शेफ को ऑटो में बिठाकर की लूटपाट◾बाइडेन ने यूक्रेन को लड़ाकू विमान देने से किया इनकार, कहा- भेजने की मंजूरी नहीं◾आज का राशिफल (31 जनवरी 2022)◾नब किशोर दास हत्याकांड: भाजपा ने CBI जांच व कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की◾श्रमिक संगठनों ने साल के अंत तक देशव्यापी हड़ताल का लिया संकल्प, मोदी सरकार पर लगाए ये आरोप ◾स्वामी प्रसाद मौर्य के समर्थन में आए सपा मुखिया, बोले- CM योगी से रामचरितमानस की चौपाई के बारे में पूछूंगा◾

परिसीमन आयोग आज से जम्मू-कश्मीर के 4 दिवसीय दौरे पर, बैठक में PDP नहीं होगी शामिल

न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) रंजना प्रकाश देसाई की अध्यक्षता में परिसीमन आयोग विधानसभा सीटों/लोकसभा सीटों की परिसीमन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए राजनीतिक दलों, सरकारी कार्यालयों आदि के प्रतिनिधियों से मिलने के लिए मंगलवार को जम्मू-कश्मीर की 4 दिवसीय लंबी यात्रा शुरू कर रहा है ताकि केंद्र शासित प्रदेश में चुनाव हो सके। न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) रंजना प्रकाश देसाई, मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुशील चंद्र शर्मा और राज्य चुनाव आयुक्त (एसईसी) के.के. शर्मा सहित आयोग के सभी तीन सदस्य आज श्रीनगर पहुंचेंगे।

आयोग 8 जुलाई को जम्मू में राजनीतिक नेताओं से मुलाकात करेगा। यह सात जुलाई को पहलगाम और श्रीनगर में कश्मीर संभाग के उपायुक्तों और 8 और 9 जुलाई को किश्तवाड़ और जम्मू में जम्मू संभाग के उपायुक्तों के साथ विस्तृत बातचीत करेगा। चूंकि पीपुल्स अलायंस फॉर गुप्कर डिक्लेरेशन (पीएजीडी) आयोग की बैठक में एक संयुक्त पक्ष लेने में सक्षम नहीं रहा इसलिए यह निर्णय लिया गया कि चूंकि आयोग से निमंत्रण अलग-अलग पार्टियों को था इसलिए पीएजीडी का प्रत्येक घटक अपना निर्णय लेगा।

नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) ने आयोग से मिलने का फैसला किया है। उसके नेता अब्दुल रहीम राथर और देवेंद्र राणा पार्टी के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे, जो क्रमश: श्रीनगर और जम्मू में आयोग से मुलाकात करेगा। श्रीनगर में एनसी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व पार्टी के वरिष्ठ नेता अब्दुल रहीम राथर करेंगे और इसमें मियां अल्ताफ, मोहम्मद शफी उरी, सकीना इटू और नासिर असलम वानी शामिल होंगे। जम्मू में एनसी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व प्रांतीय अध्यक्ष देवेंद्र राणा करेंगे और इसमें सुरजीत सिंह सलाथिया, अजय सधोत्रा, सज्जाद किचलू और जावेद राणा शामिल होंगे।

महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने अब तक इस पर अपने फैसले की घोषणा नहीं की है कि वह आयोग से मुलाकात करेगी या नहीं। आयोग की बैठक में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल में जी.ए. मीर, पीरजादा सईद, ताज मोहि-उद-दीन, बशीर अहमद मगरे, सुरिंदर चन्नी और विनोद कौल शामिल होंगे। भाजपा प्रतिनिधिमंडल में सोफी युसूफ, जी.एम. मीर, सुरिंदर अंबरदार और अल्ताफ ठाकुर शामिल हैं। राष्ट्रवादी पैंथर पार्टी (एनपीपी), बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी), पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) और जम्मू कश्मीर अपनी पार्टी (जेकेएपी) सहित अन्य राजनीतिक दलों ने पहले ही यह घोषणा कर दी है कि वे आयोग की बैठक में शरीक होंगे।