श्रीनगर : कश्मीर घाटी में मौलाना आजाद रोड स्थित एस पी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय और गवर्मेंट कॉलेज फॉर वुमेंस को छोड़कर अन्य शैक्षणिक संस्थानों में शिक्षण कार्य आज सुचारू रूप से जारी रहा।

हाल ही में छात्रों के विरोध प्रदर्शनों और झड़पों पर राज्यपान एन एन वोहरा ने चिंता जताते हुए कहा था कि किसी भी हालत में छात्रों का भविष्य बर्बाद नहीे होने दिया जाएगा और न ही किसी सूरत कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

श्रीनगर के उपायुक्त ने कल शाम इन दोनों स्कूलों में एहतियात बरतते हुए शैक्षणिक कार्य स्थगित रखने का आदेश दिया था। यह कदम मंगलवार को मौलाना आजाद रोड समेत सिविल लाइंस क्षेत्र में प्रदर्शकारियों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प के बाद उठाया गया है। सुरक्षा बलों को प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए यहां लाठीचार्ज करना पड़ा था और आंसू गैस के गोले छोडऩे पड़े थे।

वहीं हंदवारा स्थित सरकारी डिग्री कॉलेज और उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में सोमवार और मंगलवार को शिक्षण कार्य स्थगित रहा जबकि आज यहां शिक्षण कार्य सुचारू रूप से जारी रहा। बुधवार को सरकारी छुट्टी होने के कारण घाटी में सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रहे। सरकार ने कहा है कि किसी भी परिस्थिति में छात्रों का भविष्य बर्बाद नहीं होने दिया जाएगा।

यहां गत 15 अप्रैल को पुलवामा के डिग्री कॉलेज में सुरक्षा बलों के घुसने और छात्रों के साथ झड़प की घटना के बाद गिरफ्तारी किए गए छात्रों को रिहा करने की मांग को लेकर छात्र विरोध-प्रदर्शन कर रहें हैं।

– वार्ता