चुनाव आयोग द्वारा नियुक्त तीनों पर्यवेक्षक जम्मू कश्मीर विधानसभा के चुनाव कराने की संभावनाओं का अध्ययन करने के लिए राज्य का दौरा करेंगे।

आयोग के तीनों पर्यवेक्षक सर्व श्री नूर मोहम्मद विनोद जुत्सी और ए एस गिल ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ,चुनाव आयुक्त अशोक ल्हासा और सुशील चंद, से मुलाकात की और कश्मीर में विधानसभा चुनाव के बारे में विचारविमर्श किया।

जम्मू कश्मीर भाजपा ने विधानसभा चुनाव टालने के चुनाव आयोग के फैसले का किया स्वागत

आयोग ने इन तीनो पर्यवेक्षकों से कश्मीर का दौरा करने का अनुरोध किया जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया। श्री ल्हासा और श्री चंद्रा ने दो घण्टे तक विशेष बातचीत की और जम्मू कश्मीर की स्थिति का आकलन किया।

राज्य के प्रभारी मंत्री श्री संदीप सक्सेना ने उन्हें जम्मू-कश्मीर में चुनाव की तैयारियों के बारे में बताया और राज्य के बारे में अन्य जानकारी दी। आयोग ने उनके साथ उनकी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के बारे में चर्चा की।

तीन केंद्रीय पर्यवेक्षकों को राज्य का दौरा करने और राजनीतिक दलों, जिला और राज्य अधिकारियों और अन्य हितधारकों से मुलाकात करके स्थिति का वास्तविक समय आकलन करने की आवश्यकता होगी।