BREAKING NEWS

विकास दुबे के एनकाउंटर पर राहुल गांधी का शायराना तंज- 'कई जवाबों से अच्छी खामोशी उसकी'◾एनकाउंटर के दौरान विकास दुबे को 3 सीने में और 1 हाथ में लगी थी गोली◾Vikas Dubey Encounter : कानपुर शूटआउट से लेकर हिस्ट्रीशीटर के खात्मे तक, जानिए हर दिन का घटनाक्रम◾STF की गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने की भागने की कोशिश, एनकाउंटर में मारा गया हिस्ट्रीशीटर ◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 25 लाख के करीब, साढ़े पांच लाख से अधिक की मौत ◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले दिग्विजय-जिसका शक था वह हो गया◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश- कार नहीं पलटी बल्कि सरकार पलटने से बचाई गयी◾देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8 लाख के करीब, अब तक 21604 लोगों ने गंवाई जान ◾भारत-चीन सीमा विवाद: गलवान घाटी पर चीन के दावे को भारत ने एक बार फिर ठुकराया, शुक्रवार को हो सकती है वार्ता◾यूपी में कल रात 10 बजे से 13 जुलाई की सुबह 5 बजे तक फिर से लॉकडाउन, आवश्यक सेवाओं पर कोई रोक नहीं ◾दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2187 नए मामले, 45 की मौत, 105 इलाके सील◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे 219 लोगों की मौत, 6875 नए मामले◾उप्र एसटीएफ ने उज्जैन से गिरफ्तार विकास दुबे को अपनी हिरासत में लिया, कानपुर लेकर आ रही पुलिस◾वार्ता के जरिए एलएसी पर अमन-चैन का भरोसा, जारी रहेगी सैन्य और राजनयिक बातचीत : विदेश मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार, रिकवरी रेट 72% से अधिक : गृह मंत्रालय◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले-देश में नहीं हुआ कोरोना वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन◾ इंडिया ग्लोबल वीक में बोले PM मोदी-वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की होगी अग्रणी भूमिका◾कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मां ने कहा- हर वर्ष जाते है महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए ◾मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे के बारे में शुरुआत से लेकर गिफ्तारी तक का जानिए पूरा घटनाक्रम◾काशीवासियों से बोले PM मोदी- जो शहर दुनिया को गति देता हो, उसके आगे कोरोना क्या चीज है◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला ने बंदियों की रिहाई के लिए सभी दलों से साथ आने का किया आह्वान

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों से केंद्रशासित प्रदेश के बाहर की जेलों मे हिरासत में बंद सभी कैदियों को वापस लाने के लिये एकजुट होने की अपील की है।उन्होंने कहा कि मेरा मानना ​​है कि राजनीतिक विचारों का एक स्वतंत्र और स्पष्ट आदान-प्रदान आवश्यक है ताकि हम उन बदलावों का जायजा ले सकें जो जम्मू-कश्मीर ने 5 अगस्त 2019 के बाद देखे हैं।

उन्होंने कहा कि हम अभी भी कुछ ऐसे माहौल से दूर हैं जहां इस तरह का राजनीतिक प्रवचन संभव होगा। अब्दुल्लाह ने कहा कि यह विशेष रूप से पिछले साल अगस्त में हिरासत में लिए गए लोगों की संख्या को देखते हुए है जो जम्मू-कश्मीर के बाहर की जेलों में रहते हैं। उन्होंने कहा कि "मैं इस बात से अवगत हूं कि सैकड़ों कश्मीरी परिवारों की तुलना में मैं कहीं अधिक भाग्यशाली रहा हूं। मुझे घर पर नजरबंद कर दिया गया था और मेरे परिवार की मेरे पास पहुंच थी।"

मध्य प्रदेश: कमलनाथ सरकार के फ्लोर टेस्ट परीक्षण से पहले BJP नेताओं ने की अहम बैठक

फारूक अब्दुल्लाह ने कहा कि "कल जब मैं अपने बेटे उमर से मिलने गया तो उसे देखने के लिए मुझे अपने घर से एक किलोमीटर की यात्रा करनी पड़ी।" उन्होंने कहा कि "इससे पहले कि हम राजनीति को हमें विभाजित करने की अनुमति दें, मैं यहां सभी राजनीतिक नेताओं से अपील करता हूं कि वे जम्मू-कश्मीर के बाहर की जेलों में बंद सभी बंदियों की रिहाई के लिए केंद्र सरकार को बुलाएं।"

फारूक ने कहा कि वे जल्द से जल्द इस पहल की शुरुआत करना चाहते हैं ताकि कैदियों को जल्द से जल्द जम्मू-कश्मीर स्थानांतरित कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि यह एक मानवीय मांग है और मुझे आशा है कि अन्य लोग इस मांग को भारत सरकार के सामने रखने में मेरा साथ देंगे।