BREAKING NEWS

गाइड के कहने पर ताजमहल में पत्नी मेलानिया का हाथ थामकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने की चहलकदमी◾कोर्ट ने उपमुख्यमंत्री सिसोदिया को क्लीनचिट देने वाली एटीआर की खारिज, नयी रिपोर्ट दाखिल करने के दिए निर्देश ◾राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सम्मान में आयोजित भोज में शामिल नहीं होंगे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने बांग्लादेश को 18 रन से हराया, लगातार दूसरी जीत दर्ज की ◾TOP 20 NEWS 24 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ताजमहल का दीदार करके दिल्ली पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾महाराष्ट्र : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- गठबंधन के भागीदारों के बीच कोई मतभेद नहीं◾जाफराबाद में CAA को लेकर पथराव, गाड़ियों में लगाई गई आग, एक पुलिसकर्मी की मौत◾मोटेरा स्टेडियम में दिखी ट्रंप और मोदी की दोस्ती, दोनों दिग्गज ने एक-दूसरे की तारीफ में पढ़ें कसीदे ◾दिल्ली के मौजपुर में लगातार दूसरे दिन CAA समर्थक एवं विरोधी समूहों के बीच झड़प ◾CM केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा की सदस्यता की शपथ ली◾ट्रम्प के स्वागत में अहमदाबाद तैयार, छाए भारत-अमेरिकी संबंधों वाले इश्तेहार◾दिल्ली और झारखंड में BJP विधानमंडल दल के नेता का आज होगा ऐलान ◾जाफराबाद में CAA को लेकर हुई पत्थरबाजी के बाद इलाके में तनाव, मेट्रो स्टेशन बंद◾Modi सरकार ने पद्म सम्मान के लिये ‘गुमनाम’ चेहरे खोजे : केंद्रीय मंत्री◾अब कुछ ही घंटो में भारत यात्रा के लिए अहमदाबाद पहुंचेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति Trump , मोदी को बताया दोस्त◾मेलानिया का स्वागत करके खुशी होती, हमने अमेरिकी दूतावास की चिंताओं का किया सम्मान : मनीष सिसोदिया◾Trump की भारत यात्रा से किसी महत्वपूर्ण परिणाम के सकारात्मक संकेत नहीं हैं : कांग्रेस◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.55 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद, जानिए ! पूरा कार्यक्रम◾अमेरिकी दूतावास की सफाई - स्कूल में मेलानिया के साथ CM केजरीवाल की मौजूदगी से कोई आपत्ति नहीं◾

फारूक अब्दुल्ला पुन: चुने गए नेकां अध्यक्ष

नेशनल कांफ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर की सबसे पुरानी पार्टी के आज पुन: अध्यक्ष निर्वाचित हुए। फारूक अब्दुल्ला (80) 15 साल के अंतराल के बाद शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम में हुए प्रतिनिधि सत्र में सर्वसम्मति से पुन: निर्वाचित हुए। एक दिवसीय इस सत्र में पार्टी के हजारों प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

वह पहली बार वर्ष 1981 में पार्टी अध्यक्ष चुने गए थे और वर्ष 2002 से 2009 के अलावा लगातार इस पद पर बने रहे।  वर्ष 2002 में इसी स्टेडियम में हुए ऐसे ही समारोह में फारूक अब्दुल्ला ने अपने बेटे उमर अब्दुल्ला को पार्टी की कमान सौंपी थी जो उस समय अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली राजग सरकार में विदेश राज्यमंत्री थे।  उमर अब्दुल्ला ने वर्ष 2009 में राज्य का मुख्यमंत्री बनने के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। जनवरी 2009 में फारूक अब्दुल्ला को फिर से पार्टी अध्यक्ष चुना गया और वह तब से इस पद पर बने हुए हैं।

ऐसी खबरें थीं कि अधिक आयु और स्वास्थ्य के चलते फारूक अब्दुल्ला एक बार फिर अपने बेटे को पार्टी अध्यक्ष बना सकते हैं।  फारूक अब्दुल्ला ने समारोह में कहा कि वह अब इस पद पर बने रहना नहीं चाहते।  उन्होंने कहा, मुझे अध्यक्ष चुनने के लिए मैं आप सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं लेकिन मैं पार्टी अध्यक्ष पद पर बने रहना नहीं चाहता क्योंकि मैं बूढ़ हो रहा हूं। डॉक्टर अभी तक उम, घटाने का इंजेक्शन ईजाद नहीं कर सकें हैं, यहां तक कि मैं भी एक डॉक्टर हूं।

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर से दिखाए जा रहे उत्साह के बीच कहा, मैं चाहता हूं कि उमर यह जिम्मेदारी संभालें ताकि आप मुझे छोड़ दें लेकिन उन्होंने ना कह दिया। उन्होंने मुझे कहा कि वह एक दिन यह जिम्मेदारी संभालेंगे। लेकिन मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि उन्हें एक दिन यह जिम्मेदारी संभालनी होगी। इस मौके पर उमर अब्दुल्ला ने अपने पिता को बधाई दी और उन्होंने कहा कि वर्ष 2002 में पार्टी अध्यक्ष बनना एक गलती थी और वह इस गलती को दोहराना नहीं चाहते।  उन्होंने कहा कि राज्य की मौजूदा स्थिति के कारण पार्टी को फारूक अब्दुल्ला की अधिक जरुरत है।