BREAKING NEWS

मिस्र के साथ भारत के नए सिरे से संबंध - 2 विकासशील देशों का एक परिप्रेक्ष्य◾कुश्ती विवाद में सूत्रों का दावा : खेल मंत्रालय निगरानी समिति में शामिल कर सकता है और सदस्य◾उपराष्ट्रपति धनखड़ ने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी से की मुलाकात◾दिल्ली में अगले कुछ दिन भी छाये रहेंगे बादल, 29 जनवरी को हल्की बारिश की संभावना◾गणतंत्र दिवस समारोह : कर्तव्य पथ पर भारत की सैन्य ताकत, सांस्कृतिक धरोहर, नारी शक्ति का प्रदर्शन◾विश्व के नेताओं ने गणतंत्र दिवस की बधाई दी◾अभिनेता अन्नू कपूर गंगा राम अस्पताल में भर्ती, हालत स्थिर◾जम्मू-कश्मीर में जी20 की बैठक ‘मानवता के दुश्मनों के लिए संदेश’ : उपराज्यपाल मनोज सिन्हा◾सुप्रीम कोर्ट पहुंची शैली ओबेरॉय, MCD मेयर चुनाव को लेकर दाखिल की याचिका◾मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फतेह अल सीसी ने गणतंत्र दिवस पर देखी भारत की ताकत◾Republic Day 2023: पुतिन ने देश को गणतंत्र दिवस की दी बधाई, कहा- भारत का योगदान महत्वपूर्ण◾JNU में BBC डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर विदेश राज्य मंत्री का बयान, कहा- 'किसी को भी भारत की संप्रभुता को रौंदने की अनुमति नहीं'◾74th Republic Day: पाक रेंजर्स ने BSF को खिलाई मिठाइयां, अटारी वाघा बॉर्डर पर गणतंत्र दिवस का जश्न◾ BBC की डॉक्यूमेंट्री बैन के फैसले पर अमेरिका ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'हम मीडिया की स्वतंत्रता का समर्थन करते हैं'◾Republic Day : कर्तव्य पथ पर भारत ने दिखाई अपनी ताकत, जमीन पर टैंकों की दहाड़, 'आसमान में गरजा राफेल'◾जेपी नड्डा के बेटे की जयपुर में हुई शादी, 28 जनवरी को बिलासपुर में होगा रिसेप्शन◾बिहटा में भीषण सड़क हादसा, स्कॉर्पियो ने 6 को रौंदा, दो की हुई मौत◾गणतंत्र दिवस परेड में दिखा स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी◾बसंत पंचमी 2023: इन तीन छात्रों पर बरसेगी मां सरस्वती की कृपा,मिलेगी सफलता,बना खास योग करें ये उपाय◾ रामचरित मानस विवाद पर आग बगूला हुए रामभद्राचार्य कहा - स्वामी प्रसाद सठिया गए ◾

आजाद ने सेना ऑपरेशन के दौरान होने वाली सिविलिन किलिंग को बताया 'सांप-सीढ़ी' जैसी स्थिति

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने घाटी में सेना ऑपरेशन के दौरान मारे जाने वाले लोगों पर चिंता जाहिर करते हुए भारतीय सेना की तारीफ की है। उन्होंने सिविलिन किलिंग या नॉन मिलिटेंट किलिंग को सांप-सीढ़ी वाली स्थिति बताया। जम्मू-कश्मीर के राजौरी में शुक्रवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने यह बात कही।

सिविलिन और नॉन मिलिटेंट किलिंग पर बोलते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि हम बचपन में सांप-सीढ़ी खेलते थे। जिसमें आदमी ऊपर पहुंच जाता था, वहां सांप का मुंह होता था, आदमी फिर सांप की दुम पर आ जाता है। इसके बाद फिर वह ऊपर सांप के मुंह तक पहुंच जाता था। 

गुलाम नबी ने कहा कि सैन्य अभियानों में आम लोगों के मारे जाने से और मिलिटेंसी बढ़ती है। उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा आर्मी के ऑपरेशन की सराहना की है, खासकर पूंछ और राजौरी के इलाकों में। उन्होंने कहा कि यहां हमारे फौजियों का बहुत अच्छा तालमेल रहा।

उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों ने हमेशा अच्छा काम किया है। इसमें उनकी जानें भी चली गई हैं। हजारों की संख्या में जवान मारे जा चुके हैं। लेकिन सेना को ऐसी घटनाओं से बचना चाहिए। उनको जल्दीबाजी नहीं करनी चाहिए। यदि कोई मिलिटेंट कहीं भागता है तो जरूरी नहीं है कि उसे अभी मारना है। 

उन्होंने कहा कि मेरे समय में मैं कहता था, यदि आतंकी किसी घर में भागा तो भागता कब, रेयर केस में होता है कि मिलिटेंट किसी के घर में शरण लेता है या घर वालों का उससे सांठगांठ होती है। सामान्य तौर पर मैंने देखा है कि भागते समय जिसका घर खुला होता है मिलिटेंट उसके घर में घुस जाता है। घरवालों को मालूम भी नहीं होता है कि यह कौन है। सिक्योरिटी फोर्सेज जाते हैं और घर को ही उड़ाते हैं। घरवालों के समेत उजाड़ते हैं। सेना को इससे बचना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मिलिटेंट किसी के घर में घुसता है तो दो दिन इंतजार करों, चारों तरफ से घेराबंदी कर दो, तो भाई वो दो दिन में निकलेगा। कोई डॉक्टर ने नहीं बताया है कि उसी दिन मार देना है। दो दिन के बाद भी उसे मार सकते हो। ऐसे में न उसका घर का और न ही घरवालों का कोई नुकसान होगा।