BREAKING NEWS

CAB :बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने भारत दौरा किया रद्द ◾झारखंड विधानसभा चुनाव: तीसरे चरण में 17 सीटों पर वोटिंग जारी, दोपहर 1 बजे तक 45.14 प्रतिशत मतदान◾झारखंड : धनबाद में रैली को संबोधित करते हुए बोले PM मोदी-कांग्रेस में सोच और संकल्प की कमी◾असम के लोगों से PM की अपील, कांग्रेस बोली- मोदी जी, वहां इंटरनेट सेवा बंद है◾केंद्र सरकार महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर संविधान की आत्मा छलनी करने वाला बिल लाई : प्रियंका ◾पाकिस्तान की ओर से हो रहे घुसपैठ की कोशिशों को नजरअंदाज कर रही है सरकार: शिवसेना ◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले में SC ने 3 सदस्यीय जांच आयोग का किया गठन◾आईयूएमएल ने नागरिकता संशोधन विधेयक को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती ◾असम के लोगों से PM मोदी की अपील, बोले- कोई नहीं छीन सकता आपके अधिकार◾झारखंड विधानसभा चुनाव : PM मोदी ने मतदाताओं से बड़ी संख्या में मतदान का किया आग्रह◾गोवा : CM प्रमोद सावंत ने संसद में CAB पारित होने पर प्रधानमंत्री को दी बधाई◾नागरिकता बिल पर असम में व्यापक विरोध प्रदर्शन, कई जिलों में इंटरनेट बंद◾राज्यसभा में पूर्वोत्तर की सभी पार्टियों ने नागरिकता विधेयक के पक्ष में वोट किया : गोयल ◾येचुरी ने सरकार पर लगाया आरोप कहा- भाजपा CAB के जरिए द्विराष्ट्र के सिद्धांत को फिर से जिंदा करने की कोशिश कर रही है ◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री के घर पर किया गया पथराव ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को निकट भविष्य में अदालत में चुनौती दी जाएगी : सिंघवी ◾नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾

जम्मू-कश्मीर

सरकार का दावा जम्मू & कश्मीर में हालात पहले से बेहतर

 hansraj-ganaram-ahir

जम्मू & कश्मीर में सीमापार से लगातार हो रही गोलाबारी तथा सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की बढ़ती घटनाओं के बीच सरकार का दावा है कि जम्मू & कश्मीर में स्थितियां पहले से बेहतर हुई हैं।

गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने आज कहा कि लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष राज्य में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति काफी बेहतर है। पिछले साल जहां कानून व्यवस्था से जुड़े 2897 मामले दर्ज किए गए थे वहीं इस साल ये घटकर 583 पर आ गए। सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के कारण वर्ष 2016 से अब तक राज्य में 12650 उपद्रवियों और अलगाववादियों को गिरफ्तार किया जा चुका है या इन गतिविधियों को रोकने सम्बन्धी कानूनों के तहत उन पर शिकंजा कसा गया है। संवदेनशील क्षेत्रों में उन पर कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार घाटी में सुरक्षा हालात पर लगातार कड़ी नजर रखे हुए है। स्थिति की नियमित आधार पर समीक्षा की जा रही है। सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए दस हजार अतिरिक्त विशेष पुलिस अधिकारियों की भर्ती की गई है।

पांच नई इंडिया रिजर्व बटालियनों में लगभग 5381 कर्मियों की भर्ती की गई है। केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और असम राइफल्स में 1079 भर्तियां की गई हैं। राज्य के युवाओं को उग्रवाद के रास्ते में जाने से रोकने और मुख्यधारा में लाने के लिए रोजगार और कौशल विकास के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं।