BREAKING NEWS

Covid-19 : महाराष्ट्र में कोरोना से अबतक 19 की मौत, कुल पॉजिटिव मामले 416◾राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर 170 से अधिक FIR दर्ज - DP◾सोनिया ने लॉकडाउन पर उठाए सवाल तो भड़की BJP, शाह- नड्डा ने किया पलटवार◾मजनू का टीला गुरुद्वारे में रूके थे 225 लोग, गुरुद्वारे के प्रबंधकों पर पुलिस ने किया मामला दर्ज ◾कोरोना संकट : पीएम मोदी कल सुबह 9 बजे वीडियो जारी कर देशवासियों को देंगे संदेश◾24 घंटे में कोरोना के 328 नए मामले आए सामने, तबलीगी जमात से जुड़े 9000 लोगों को किया गया क्वारंटाइन : स्वास्थ्य मंत्रालय◾FIR दर्ज होते ही बदले मौलाना साद के तेवर, समर्थकों से की सरकार का सहयोग करने की अपील◾PM मोदी के साथ मीटिंग के बाद अरुणाचल प्रदेश CM बोले- लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी बरतें सावधानी◾सभी मुख्यमंत्रियों को PM मोदी का आश्वासन - कोरोना संकट को लेकर हर राज्य के साथ खड़ी है केंद्र सरकार◾इंदौर में स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला करने के मामले में 4 लोग गिरफ्तार, कई अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज◾देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या हुई 50, संक्रमित लोगों की संख्या में हुआ इजाफा ◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तीन और मामले सामने आए, कुल संख्या 338 पर पहुंची ◾कोरोना वायरस : दुनिया भर में 925,132 लोगों में संक्रमण की पुष्टि, 46,291 लोगों की अब तक मौत◾पद्म श्री से सम्मानित स्वर्ण मंदिर के पूर्व ‘हजूरी रागी’ की कोरोना वायरस के कारण मौत ◾मध्य प्रदेश में कोरोना के 12 नए पॉजिटिव केस आए सामने, संक्रमितों की संख्या हुई 98 ◾कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए PM मोदी आज राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे चर्चा ◾Coronavirus : अमेरिका में कोविड -19 से छह सप्ताह के शिशु की हुई मौत◾कोविड-19 : संक्रमण मामलों में एक दिन में दर्ज की गई सर्वाधिक बढ़ोतरी, संक्रमितों की संख्या 1,834 और मृतकों की संख्या 41 हुई◾ट्रंप ने दी ईरान को चेतावनी, कहा- अमेरिकी सैनिकों पर हमला किया तो चुकानी पड़ेगी भारी कीमत ◾NIA करेगी काबुल गुरुद्वारे हमले की जांच, एजेंसी ने किया पहली बार विदेश में मामला दर्ज ◾

सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता की खबर सुनकर गर्व से भर उठा था मन : पर्रिकर

गोवा के मुख्यमंत्री एवं पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ कारवाई के लिए भारतीय सेना के विशेष कमांडो दलों द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता की खबर सुनकर उनका मन गर्व से भर उठा था। पर्रिकर ने हाल में दोना पावला स्थित राष्ट्रीय समुद्र विज्ञान संस्थान में हिन्द महासागर : आर्थिक एवं भू-रणनीतिक महत्व पर आयोजित एक कार्यशाला से इतर भाषा के साथ बातचीत में यह बात कही।

यह पूछे जाने पर कि जब उन्हें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक्स के सफल होने की खबर मिली तो रक्षामंत्री के रूप में उनके मन में सबसे पहले क्या बात आई, उन्होंने कहा, गर्व।

उन्होंने कहा कि अभियान की सफलता की खबर से मन गर्व से भर उठा था। यह एक बड़ क्षण था और यह सभी के लिए गौरव की बात है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय सेना ने 28 और 29 सितंबर 2016 की दरम्यानी रात पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकियों के लांच पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक्स किए थे जिनमें कई आतंकवादी मारे गए थे और आतंकी शिविरों को भारी नुकसान पहुंचा था। उस समय पर्रिकर ही रक्षामंत्री थे।

सर्जिकल स्ट्राइक को जम्मू कश्मीर के उरी में 19 सैनिकों की जान लेने वाले आतंकी हमले के 10 दिन बाद अंजाम दिया गया था। आईआईटी स्नातक होने के बावजूद संयोग से राजनीति में आए पर्रिकर से पूछा गया कि पहले मुख्यमंत्री, फिर रक्षामंत्री और फिर मुख्यमंत्री, उन्हें यह अनुभव कैसा लगता है? इस पर उन्होंने कहा, रक्षामंत्री के रूप में बड़ जिम्मेदारी थी, मुख्यमंत्री के रूप में भी जिम्मेदारी है, दोनों जिम्मेदारी अलग-अलग हैं और वह समाज का रिण चुका रहे हैं।

इससे पहले उन्होंने कार्यक्रम में कहा कि उनका पारिवारिक नाम प्रभु है। उनका पूरा नाम मनोहर प्रभु पर्रिकर है और इस बारे में बहुत कम लोग जानते हैं।

पर्रिकर 2000 से 2005 तक और 2012 से 2014 तक गोवा के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 2014 में उन्हें रक्षामंत्री बनाया गया था। इस साल 14 मार्च को उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में फिर गोवा भेज दिया गया।