BREAKING NEWS

पी चिदंबरम मामले पर बोले अखिलेश : सरकार से लड़ना है तो कागज की लड़ाई जीतनी पड़ेगी ◾LIVE : पी चिदंबरम ने अपने आप को बताया बेकसूर , दीवार फांद के घर में घुसी CBI की टीम◾Modi सरकार की कंपनियों को बड़ी राहत, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दी इसकी जानकारी !◾अनुच्छेद 370 हटने से पाक अधिकृत कश्मीर लेना आसान नहीं : अखिलेश◾प्रियंका ने PM मोदी पर साधा निशाना , कहा - सरकार के दावों की पोल खोल रहे हैं औद्योगिक संस्थाओं के विज्ञापन◾TOP 20 NEWS 21 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾INX मीडिया मामले में चिदंबरम की याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾SC में अयोध्या मामले की सुनवाई, हिंदू पक्ष के वकील ने रामलला को बताया नाबालिग◾सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम की याचिका पर तत्काल सुनवाई से किया इनकार ◾PM मोदी ने जाम्बिया के राष्ट्रपति से की बातचीत, खनन और कारोबारी सहयोग पर दिया जोर ◾राहुल का केंद्र पर वार, कहा-चिदंबरम के चरित्रहनन के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही मोदी सरकार◾चिदंबरम के बचाव में प्रियंका, बोली-केंद्र की असफलताओं को उजागर करने की भुगत रहे है सजा◾उत्तर प्रदेश : योगी कैबिनेट का हुआ विस्तार, 23 मंत्रियो ने ली शपथ ◾कश्मीर मामले पर ट्रंप ने फिर की मध्यस्थता की पेशकश, कहा- PM मोदी से करूंगा बात◾INX मीडिया : चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने जारी किया लुकआउट नोटिस ◾मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के निधन पर PM मोदी ने किया शोक व्यक्त ◾भारतीय सेना ने लिया अभिनंदन का बदला, गिरफ्तार करने वाले पाक कमांडो को किया ढेर◾चिदंबरम के लिए कयामत की रात, जेल या बेल पर फैसला सुबह ◾पंजाब, हरियाणा में बनी हुई है बाढ़ की स्थिति◾अयोध्या मामला : हिंदू निकाय ने न्यायालय से कहा: 12 वीं सदी में मंदिर के अस्तित्व का उल्लेख ◾

जम्मू-कश्मीर

हुर्रियत का बातचीत के लिए राजी होना ‘देर आये दुरुस्त आये’: महबूबा मुफ्ती

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष और जम्मू -कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को हुर्रियत कांफ्रेंस के कश्मीर समेत अन्य मुद्दों के समाधान के लिए बातचीत की इच्छा जताये जाने का स्वागत करते हुए इसे ‘देर आये दुरुस्त आये’ करार दिया है। 

जम्मू.कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने शनिवार को दूरदर्शन पर आयोजित एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि हुर्रियत कांफ्रेंस के रुख में नरमी आई है और बातचीत के लिए उसका राजी होना उत्साहवर्धक संकेत है। 

सुश्री मुफ्ती ने हुर्रियत काफ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारुख के कश्मीर समेत सभी मसलों के समाधान के लिए कश्मीरी नेताओं, केन्द्र सरकार और इस्लामाबाद के बीच त्रिपक्षीय बातचीत किए जाने के बयान पर आज ट्वीट  किया। 

उन्होंने लिखा ‘‘ देर आये दुरुस्त आये। पीडीपी.भाजपा गठबंधन का मकसद केंद, सरकार और सभी पक्षकारों के बीच बातचीत था। बातचीत हो मैंने इसके लिए मुख्यमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान अपनी तरफ से हरसंभव प्रयास किए थे और अंतत: हुर्रियत बातचीत में अपने रुख में नरमी लाई।’’