BREAKING NEWS

महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, चिंताजनक और शर्मनाक : नायडू ◾ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता विधेयक की प्रति फाड़ी भाजपा सदस्यों ने संसद का अपमान बताया ◾पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्यों के दलों ने नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन किया ◾अनुच्छेद 370 को रद्द किये जाने के खिलाफ याचिकाओं पर संविधान पीठ कल से करेगी सुनवाई ◾दुष्कर्म की राजधानी बना भारत, फिर भी चुप हैं मोदी : राहुल गांधी◾कांग्रेस कभी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरती : नरेन्द्र मोदी ◾TOP 20 NEWS 09 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भीकाजी कामा प्लेस मेट्रो स्टेशन के नजदीक जेएनयू के छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज ◾नागरिकता संशोधन विधेयक भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा, जनता ने इसे मंजूर किया : अमित शाह◾कर्नाटक उपचुनाव : BJP को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत ◾कर्नाटक : सिद्धारमैया ने कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से दिया इस्तीफा◾JNU छात्रों ने राष्ट्रपति भवन तक शुरू किया मार्च, पुलिस ने की शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील◾रॉबर्ट वाड्रा को कोर्ट से बड़ी राहत, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाने की मिली अनुमति◾बीजेपी ने छह सीटें जीतने के साथ कर्नाटक विधानसभा में बहुमत किया हासिल ◾झारखंड में बोले राहुल- सत्ता में आने पर लोगों को जल, जंगल और जमीन लौटाया जाएगा◾कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश विभाजन किया जिसके कारण नागरिकता कानून में संशोधन की जरूरत पड़ी : अमित शाह◾अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया भारत और संविधान का अपमान◾झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी◾गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में पेश किया नागरिकता संशोधन विधेयक◾शिवसेना नागरिकता संशोधन विधेयक का करेगी समर्थन: संजय राउत ◾

जम्मू-कश्मीर

हुर्रियत का बातचीत के लिए राजी होना ‘देर आये दुरुस्त आये’: महबूबा मुफ्ती

 mehbooba mufti main

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष और जम्मू -कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को हुर्रियत कांफ्रेंस के कश्मीर समेत अन्य मुद्दों के समाधान के लिए बातचीत की इच्छा जताये जाने का स्वागत करते हुए इसे ‘देर आये दुरुस्त आये’ करार दिया है। 

जम्मू.कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने शनिवार को दूरदर्शन पर आयोजित एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि हुर्रियत कांफ्रेंस के रुख में नरमी आई है और बातचीत के लिए उसका राजी होना उत्साहवर्धक संकेत है। 

सुश्री मुफ्ती ने हुर्रियत काफ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारुख के कश्मीर समेत सभी मसलों के समाधान के लिए कश्मीरी नेताओं, केन्द्र सरकार और इस्लामाबाद के बीच त्रिपक्षीय बातचीत किए जाने के बयान पर आज ट्वीट  किया। 

उन्होंने लिखा ‘‘ देर आये दुरुस्त आये। पीडीपी.भाजपा गठबंधन का मकसद केंद, सरकार और सभी पक्षकारों के बीच बातचीत था। बातचीत हो मैंने इसके लिए मुख्यमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान अपनी तरफ से हरसंभव प्रयास किए थे और अंतत: हुर्रियत बातचीत में अपने रुख में नरमी लाई।’’