पाकिस्तानी सेना ने लगातार तीसरे दिन संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए गुरुवार को जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा से लगी अग्रिम चौकियों और नागरिक इलाकों पर गोलाबारी की जिसका भारतीय बलों ने मुंहतोड़ जवाब दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 2018 में पिछले 15 सालों में पाकिस्तानी सैनिकों ने सबसे अधिक 2,936 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

अधिकारियों ने बताया, ‘‘पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार सुबह में पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर अग्रिम चौकियों पर गोलियां चलाने और गोले दागने शुरू कर दिये।’’ उन्होंने बताया कि संघर्ष विराम उल्लंघन में भारतीय पक्ष का कोई हताहत नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि सीमा की रखवाली करने वाले भारतीय जवानों ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया।

उन्होंने बताया कि बुधवार को भी पाकिस्तानी सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में कलाल अग्रिम इलाके में दो बार गोलीबारी की और गोले दागे। लगातार गोलीबारी और गोलाबारी के कारण सीमा पर स्थित गांवों में रहने वाले लोग भयभीत हैं। पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार को भी पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी की थी।

उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने सोमवार को अग्रिम इलाकों का दौरा किया था और जम्मू एवं राजौरी जिलों में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की थी।