BREAKING NEWS

कूचबिहार फायरिंग मामला : ममता ने आत्मरक्षा वाली दलील पर जताया संदेह, कहा- सरकार कराएगी सीआईडी जांच◾UP के इटावा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी गाड़ी पलटी, 11 लोगों की मौत◾जावड़ेकर बोले- महाराष्ट्र को टीके की 1.10 करोड़ खुराकें मिल चुकी, 1121 वेंटिलेटर दिए जाएंगे ◾चुनाव में हार सुनिश्चित देख हिंसा के पुराने खेल पर उतर आई हैं ममता: PM मोदी ◾MP: कोरोना के बढ़ते केसों के चलते कई शहरों में लॉकडाउन, कुछ जगहों पर बढ़ाई गई अवधि ◾कर्नाटक में कोरोना का कहर : बेंगलुरु सहित कर्नाटक के 7 जिलों में आज से नाइट कर्फ्यू लागू ◾राहुल गांधी ने देश में कोविड की दूसरी लहर पर गहरी चिंता व्यक्त की◾देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों में से 72 % से अधिक महज पांच राज्यों में : स्वास्थ्य मंत्रालय◾कूचबिहार हिंसा मामले में ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री का मांगा इस्तीफा, कहा- लोगों की मौत के पीछे अमित शाह ◾CISF की गोलीबारी में चार लोगों की मौत के बाद EC ने सीतलकूची के मतदान केंद्र पर बंद कराई वोटिंग◾कूचबिहार हिंसा के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे EC, ‘दीदी’ और उनके गुंडों में हार की है बौखलाहट : PM मोदी◾सोनिया का आरोप- कोरोना महामारी में मोदी सरकार ने किया कुप्रबंधन, टीके की देश में होने दी कमी ◾दिल्ली में नहीं होगा लॉकडाउन, जल्द लगाए जाएंगे नए प्रतिबंध : CM केजरीवाल◾बंगाल चुनाव में स्थानीय लोगों के हमले के बाद केंद्रीय बलों ने की फायरिंग, चार लोगों की मौत◾मोदी हैं सर्वश्रेष्ठ, लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए TMC से जुड़े प्रशांत किशोर : लॉकेट चटर्जी◾विफल नीतियों के चलते दोबारा पलायन को मजबूर हैं प्रवासी, सरकार को अच्छे सुझावों से ‘एलर्जी’ : राहुल गांधी ◾वायरल हुई प्रशांत किशोर की ऑडियो, अमित मालवीय बोले- TMC ने भी माना बंगाल में है मोदी लहर ◾हुगली में BJP नेता लॉकेट चटर्जी के काफिले पर हमला, मीडिया वाहनों में हुई तोड़फोड़◾पश्चिम बंगाल : चौथे चरण में अब तक 16.65 फीसदी मतदान, 44 सीटों पर तेजी से चल रही है वोटिंग ◾किसानों ने केएमपी एक्सप्रेस वे को किया बंद, ट्रॉली और चारपाई लेकर हाइवे पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अपमानजनक है कि जांच एजेंसियां मेरे पिता की कब्र पर ‘ऑडिट’ कर रही हैं : महबूबा मुफ्ती

आतंकवाद के वित्तपोषण के आरोपों में पीडीपी के एक वरिष्ठ नेता को राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) द्वारा गिरफ्तार किये जाने समेत अन्य मामलों में विभिन्न जांच एजेंसियों की जांच पर पार्टी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा कि एक भी मामला साबित होने पर वह परिणाम भुगतने को तैयार हैं। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अपमानजनक है कि जांच एजेंसियां उनके पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद की कब्र पर ‘ऑडिट’ कर रही हैं। पीडीपी की युवा इकाई के नेता वहीद पर्रा को एनआईए द्वारा गिरफ्तार किये जाने के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में महबूबा ने कहा कि जांच एजेंसियां पिछले 2 साल से सरकारी फाइलों और उनके बैंक खातों की खाक छान रही हैं लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला।

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यह अपमानजनक और हताशापूर्ण है कि वे अब मेरे दिवंगत पिता की कब्र पर ऑडिट कर रहे हैं। वे और कितना नीचे गिरेंगे?’’सईद का निधन 2016 में हो गया था और उन्हें दक्षिण कश्मीर के बिजबेहारा में उनके पैतृक कब्रिस्तान में सुपुर्दे-खाक किया गया था। पीडीपी अध्यक्ष के दावों पर एनआईए या प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी। बतौर मुख्यमंत्री महबूबा के कार्यकाल के दौरान जम्मू एंड कश्मीर बैंक में हुई कथित अनियमितताओं का जिक्र करने पर पीडीपी नेता ने कहा, ‘‘कैसी अनियमितता? 

वे एक भी मामला ऐसा साबित कर दें जिसमें मैं या मुझसे जुड़ा कोई भी व्यक्ति किसी भी तरह की वित्तीय अनियमितता में संलिप्त रहा हो। मैं नतीजे भुगतने को तैयार हूं।’’ एनआईए द्वारा पर्रा की गिरफ्तारी पर उन्होंने कहा, ‘‘मेरे खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई भी आरोप साबित नहीं कर पाने पर वे मेरा नाम आतंकवाद के वित्तपोषण से जोड़कर मुझे बदनाम करने के दूसरे तरीके खोज रहे हैं।’’उन्होंने कहा, ‘‘वहीद लोकतंत्र, सामंजस्य और संवाद के बड़े पैरोकार हैं। उन्होंने हजारों युवाओं को मुख्यधारा में शामिल होने के लिए प्रेरित किया है। ये सारे इल्जाम मनगढ़ंत हैं ताकि मुझे राह बदलने और उनकी ही बात दोहराने को मजबूर किया जा सके।’’

एनआईए ने पर्रा को महबूबा के लोकसभा चुनाव के दौरान समर्थन पाने के लिहाज से कथित तौर पर हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों के साथ संपर्क में रहने के मामले में नवंबर में गिरफ्तार किया था। एनआईए का आरोप है कि पर्रा ने जम्मू कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी दविंदर सिंह के माध्यम से पैसों का भुगतान किया था। सिंह को पहले ही आतंकवादियों को श्रीनगर से जम्मू ले जाने के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है।