BREAKING NEWS

यूपी : कांग्रेस को विधान परिषद से लगने वाला है बड़ा झटका, 87 वर्षों में पहली बार होगा यह हाल ◾चंडीगढ़-मोहाली बॉर्डर पर जमे किसान, CM मान ने वार्ता के लिए किया आमंत्रित◾हिजाब और लाउडस्पीकर विवाद के बाद फिर सुर्खियों में आई रुबीना खानम, कहा- ज्ञानवापी निकली मंदिर तो.. ◾कर्नाटक : RSS संस्थापक हेडगेवार के बारे में पढ़ेंगे 10वीं के छात्र, विपक्ष बोला- शिक्षा का हो रहा भगवाकरण ◾ज्ञानवापी विवाद : मायावती बोलीं- BJP द्वारा धार्मिक स्थलों को बनाया जा रहा है निशाना◾Gyanvapi Survey: वकीलों की हड़ताल के चलते आज नहीं होगी सुनवाई, जानें क्यों अहम है कल का दिन? ◾गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने छोड़ी पार्टी ◾यूपी : CM योगी ने पलटा SP सरकार का फैसला, नए मदरसों को नहीं दिया जाएगा अनुदान ◾ज्ञानवापी मुद्दे पर अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया, BJP को लेकर किया ये बड़ा दावा!◾Corona Update : एक दिन में 1829 लोग कोरोना पॉजिटिव, 33 मरीजों की गई जान◾बाढ़, भूस्खलनों के कारण पूर्वोत्तर भारत में तबाही, असम में चार लाख लोग प्रभावित◾आज का राशिफल ( 18 मई 2022)◾IPL 2022 : मुंबई इंडियंस को तीन रन से हराकर सनराइजर्स ने रखी प्लेआफ की उम्मीदें कायम◾Ram Mandir : भगवान राम का मंदिर दिसंबर 2023 तक जनता के लिए खोल दिया जाएगा◾ज्ञानवापी मामला : कोर्ट ने हिंदू NGO के प्रमुख के अधिकार क्षेत्र पर उठाया सवाल ◾रुपया अपने रिाकॅर्ड निचले स्तर से उबरा, 11 पैसे की तेजी के साथ 77.44 प्रति डॉलर पर◾भाजपा वालों का लोकतंत्र में विश्वास नहीं, ये लोग सिर्फ मुखौटा पहन राजनीति कर रहे: अशोक गहलोत ◾अमरनाथ यात्रा को लेकर अमित शाह ने दिए सख्त निर्देश, बाबा के भक्तों को मिलेगी यह खास सुविधा◾ पहलवान सतेंदर मलिक ने CWG ट्रायल्स के दौरान रेफरी को जड़ा थप्पड़, लगा आजीवन प्रतिबंध◾ MI vs SRH: रोहित ने टॉस जीत कर गेंदबाजी का किया फैसला, मुंबई में दो नए खिलाड़ियों की एंट्री, हैदराबाद ने भी किए बड़े बदलाव◾

J&K : एक जनवरी से अब तक मारे गए 14 आतंकियों में से सात विदेशी, पुलिस अधिकारी ने दी जानकारी

इस वर्ष जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा ढेर किए गए आतंकवादियों को लेकर कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने गुरुवार को कहा कि एक जनवरी से अब तक 14 आतंकवादी मारे गए हैं, जिनमें से सात विदेशी नागरिक थे। प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े पाकिस्तानी आतंकवादी बाबर भाई की हत्या के बाद कुलगाम में मीडिया से बातचीत करते हुए, आईजी कश्मीर ने कहा कि मलिक और उसके परिवार, जिनके साथ मारा गया आतंकवादी छिपा था, उसने जानबूझकर खोज दल को यह कहकर गुमराह किया था, कि कोई भी आतंकवादी उनके घर में नहीं छिपा है। इसलिए उनके खिलाफ आतंकी कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने कहा कि कुलगाम के परिवान इलाके में एक आतंकवादी की मौजूदगी के संबंध में विशिष्ट इनपुट के आधार पर, पुलिस और सेना द्वारा बुधवार शाम एक तलाशी अभियान शुरू किया गया था।

मुठभेड़ के दौरान एक पुलिसकर्मी हुआ शहीद 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि, तलाशी अभियान के दौरा जैसे ही संयुक्त तलाशी दल संदिग्ध स्थान की ओर बढ़ा, छिपे हुए आतंकवादी ने संयुक्त तलाशी दल पर अंधाधुंध गोलीबारी की जिसके जवाबी कार्रवाई में गोलाबारी हुई। हालांकि मुठभेड़ स्थल से नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाते समय एक पुलिस कर्मी, सेना के तीन जवान और दो नागरिक घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि, सभी घायलों को इलाज के लिए तुरंत अस्पताल ले जाया गया है। हालांकि, पुलिस कर्मी सार्जेंट रोहित चिब्ब ने दम तोड़ दिया और शहीद हो गए। मामूली रूप से घायल हुए दो नागरिकों सहित अन्य घायलों की हालत स्थिर बताई गई है। आगामी मुठभेड़ में, एक शीर्ष पाकिस्तानी जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी बाबर भाई मारा गया और उसका शव मुठभेड़ स्थल से बरामद किया गया।

वर्ष 2018 से वांछित था आतंकी : पुलिस 

अधिकारी ने कहा कि पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार मारा गया आतंकवादी साल 2018 से शोपियां-कुलगाम और उसके आसपास के इलाकों में सक्रिय एक वगीर्कृत आतंकवादी था। वह कई आतंकवादी अपराध मामलों में कानून द्वारा वांछित था। उन्होंने बताया,  मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 राइफल, एक पिस्तौल और दो हथगोले सहित आपत्तिजनक सामग्री, हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया गए है। बरामद सभी सामग्रियों को आगे की जांच के लिए केस रिकॉर्ड में ले लिया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।