BREAKING NEWS

राहुल का केंद्र पर तंज, कहा- ‘मेड इन इंडिया’ सिर्फ एक ‘जुमला’, दोहरी जुबान में बात कर रही सरकार ◾मोदी के दोस्त रोजाना कमा रहे हैं करोड़ों, वहीं 97 फीसदी देशवासियों की आय में आई गिरावट : प्रियंका ◾अचानक आई आपदा के बाद उत्तराखंड में मौसम हुआ साफ, पूरी तरह से बहाल हुई चारधाम यात्रा◾मुंबई : 60 मंजिला रिहायशी इमारत के 19वें फ्लोर पर लगी आग, एक की मौत◾बांग्लादेश : रोहिंग्या रिफ्यूजी कैंप में फायरिंग से सात लोगों की मौत◾मलिक के आरोपों पर बोले वानखेड़े- आप बड़े मंत्री हैं और मैं अदना सा सरकारी सेवक, करवा लें जांच ◾भारत के रिकॉर्ड टीकाकरण का अमेरिका ने भी माना लोहा, कहा- महामारी को हराने में दुनिया की होगी मदद ◾दुनिया ने भारत पर किया शक लेकिन देश ने सबसे पहले 100 करोड़ वैक्सीन लगाकर दिया जवाब : PM मोदी ◾सिंघु बॉर्डर पर फ्री में चिकन नहीं देने पर तोड़ी युवक की टांग, पुलिस ने निहंग नवीन को किया गिरफ्तार◾कल से तीन दिवसीय जम्मू-कश्मीर दौरे पर होंगे अमित शाह, टारगेट किलिंग पर करेंगे हाईलेवल मीटिंग ◾बांग्लादेश : कॉक्स बाजार से गिरफ्तार हुआ हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा भड़काने वाला आरोपी◾Coronavirus : देश में पिछले 24 घंटे में 15786 नए मामलों की पुष्टि, 231 लोगों ने गंवाई जान ◾हॉलीवुड स्टार एलेक बाल्डविन ने गलती से सेट पर चला दी गोली, महिला कैमरामैन की मौत, एक घायल◾महामारी पर पीएम मोदी का लेख: ‘‘चिंता से आश्वासन’’ की ओर यात्रा है कोरोना टीकाकरण अभियान◾मायावती का तंज- समझना होगा कि जनता से छल व वादाखिलाफी के कारण कांग्रेस के आए बुरे दिन◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 25 करोड़ के करीब◾सुबह 10 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे PM मोदी, क्या रिकॉर्ड वैक्सीनेशन पर करेंगे चर्चा ◾इतिहास रचा, भारत में अब कोविड से लड़ने का मजबूत सुरक्षा कवच है : PM मोदी◾स्मृति ईरानी एवं हेमा मालिनी पर टिप्पणी कों लेकर EC से कांग्रेस की शिकायत◾उप्र विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है भाजपा, हो सकता है भारत का विघटन : फारूक अब्दुल्ला◾

जम्मू-कश्मीर में प्रशासन की सख्ती जारी, 24 फरवरी तक बढ़ी 2G इंटरनेट सेवा

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने केंद्रशासित क्षेत्र के जिन इलाकों में टूजी और फिक्सड लाइन इंटरनेट सुविधाएं बहाल की हैं वहां इसकी मियाद 24 फरवरी तक बढ़ा दी गई है। हालांकि, इंटरनेट सेवा प्रदाताओं (आईएसपी) को साफ निर्देश दिया गया है कि वे उपयोक्ताओं तक केवल निर्धारित 1,485 वेबसाइटों की पहुंच सुनिश्चित करें, न कि व्यक्तिगत रूप से संपर्क करने वाले सोशल मीडिया ऐप और वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) तक। 

आधिकारिक प्रवक्ता ने गृह विभाग की ओर जारी आदेश को उद्धृत करते हुए कहा, ‘‘ यह निर्देश 16 फरवरी से प्रभावी होगा और इससे पहले बदलाव नहीं होने पर 24 फरवरी तक लागू रहेगा।’’ 

उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को पांच अगस्त को निरस्त किए जाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने के फैसले की घोषणा के बाद इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी लेकिन 25 जनवरी को टूजी मोबाइल इंटरनेट सेवा की बहाली की गई थी। 

गृह विभाग के प्रधान सचिव शालीन काबरा ने अपने आदेश में कहा, ‘‘खुफिया और कानून प्रवर्तन एजेंसियों से सूचना मिली है कि अन्य माध्यमों से वीपीएन के जरिए सोशल मीडिया तक पहुंच बनाकर आतंकी गतिविधियों में समन्वय स्थापित करने और भड़काऊ सामग्री अपलोड करने की कोशिश की जा रही है ताकि कानून व्यवस्था को खराब किया जा सके।’’ 

आदेश में कहा गया, ‘‘यह भी सूचना है कि पिछले हफ्ते अफवाह के जरिए आम लोगों को भड़काकर शांति भंग करने की कोशिश की गई थी, ऐसे में अधिकृत अधिकारियों द्वारा अस्थायी रूप से मोबाइल डाटा सेवा पर रोक जरूरी है।’’ 

काबरा ने कहा, ‘‘ पोस्टपेड मोबाइल और उन प्रीपेड सिम जिनमें सत्यापन पोस्टपेड कनेक्शन की शर्तों के अनुरूप किया गया है, पर डाटा सेवा उपलब्ध होगी और इंटरनेट सेवा की गति टूजी तक सीमित रहेगी।’’ 

फिक्स्ड इंटरनेट कनेक्टिविटी के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘ जहां भी यह सुविधा 14 जनवरी से उपलब्ध है, आईएसपी सुनिश्चित करें कि यह सुविधा सूचीबद्ध वेबसाइटों तक सीमित रहे, न कि सोशल मीडिया से जो सहकर्मियों से संवाद में कारगर है और वीपीएन सेवा के लिए।’’ 

आदेश में कहा गया है, ‘‘संपर्क शर्तों का अनुपालन करने पर ही इंटरनेट उपलब्ध होगा। यह निर्देश दिया जाता है कि इंटरनेट की सेवा उपलब्ध कराने वाले सुनिश्चित करें कि राज्य के हितों के खिलाफ भड़काऊ सामग्री अपलोड कर इसका दुरुपयोग न हो।’’ 

काबरा ने कहा कि पर्यटकों, छात्रों और कारोबारियों के लिए सरकार विशेष ई-टर्मिनल और इंटरनेट कियोस्क की व्यवस्था करेगी। उन्होंने कहा कि कश्मीर और जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक इस आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। 

लागत बढ़ने से रोकने के लिए जोजिला सुरंग परियोजना के डिजाइन में हो सकता बदलाव : नितिन गडकरी