BREAKING NEWS

कोरोना वायरस से निपटने के लिए PM मोदी की माता जी ने दिए 25 हजार रुपये◾Covid-19 को लेकर प्रियंका का ट्वीट , कहा - कांग्रेस सरकारों का इंतजाम शानदार ◾गृह मंत्रालय का बयान - इस साल तबलीगी गतिविधियों के लिये 2100 विदेशी भारत आए◾कोविड-19 के देशभर मे फैलने की आशंका, निजामुद्दीन से जुड़े संदिग्ध मामलों की देशभर में तलाश शुरू◾ITBP के जवानों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए पीएम राहत कोष में दिया एक दिन का वेतन ◾सरकार ने विदेशी तब्लीगी कार्यकर्ताओं को पर्यटन वीजा देने पर लगाई रोक ◾Covid 19 का कहर जारी : देश में कोरोना के 227 नये मामले आये सामने, पिछले 24 घंटों में तीन और मौतें◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 82 नए मामले आये सामने , मरीज़ों की तादाद 300 के पार◾निजामुद्दीन मुद्दे पर योगी सरकार एक्शन में ,तबलीगी जमात के 157 लोगों में से 95 प्रतिशत की हुई पहचान ◾तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा ने भी प्रधानमंत्री राहत कोष में दी सहायता राशि, PM को पत्र लिख कर दिया समर्थन ◾कोरोना का कहर : यूपी में संक्रमितों की संख्या 100 के पार, नोएडा में सबसे अधिक पॉजिटिव मरीज◾कोरोना तबाही : दुनियाभर में सख्ती से लॉकडाउन लागू, मरने वालों का आंकड़ा 39 हजार के पार ◾निजामुद्दीन मरकज मामले में प्रबंधन के खिलाफ FIR दर्ज, जांच के लिए मामला अपराध शाखा को सौंपा गया ◾मरकज पर CM केजरीवाल ने दिखाई सख्ती, कहा- लापरवाही होने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा◾निजामुद्दीन मरकज मामले में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- यह समय कमियां खोजने का नहीं बल्कि कार्रवाई करने का है◾कोरोना वायरस : मध्य प्रदेश में 17 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों की संख्या 64 हुई◾दिल्ली : मोहल्ला क्लिनिक के एक और डॉक्टर में कोरोना संक्रमण की पुष्टि, प्रशासन ने चस्पा किए नोटिस◾प्रवासी मजदूरों के पलायन पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को कमेटी बनाने का दिया निर्देश◾तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होने वाले विदेशियों के वीजा में मंत्रालय ने पाई गड़बड़ियां◾तबलीगी जमात के मरकज में आए 24 लोगों में कोरोना की पुष्टि, 1500 से 1700 लोग हुए थे शामिल◾

जम्मू-कश्मीर: अपहरण के बाद सेना के जवान की हत्या

जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों ने एक बार फिर से कायराना हरकत करते हुए सेना के एक जवान का अपहरण करने के बाद उनकी हत्या कर दी। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पुलवामा जिले के सजून गांव के रहने वाले जवान इरफान अहमद खान को शुक्रवार को अज्ञात लोगों ने अगवा कर लिया था। उनके शव को शनिवार को बरामद किया गया है। इरफान गुरेज सेक्टर में तैनात थे। इस घटना के बाद सेना ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है और मामले की जांच में जुट गई है।

Strongly condemn the brutal killing of Irfan Ahmed ,a brave Territorial Army soldier at Shopian. Such heinous acts will not weaken our resolve to establish peace and normalcy in the valley.

— Mehbooba Mufti (@MehboobaMufti) November 25, 2017

जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस हत्याकांड की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'इरफान अहमद की हत्या की कड़ी निंदा करती हूं। शोपियां के रहने वाले टेरिटोरियल आर्मी के जवान इरफान एक बहादुर सिपाही थे। इस तरह के घृणित कार्य घाटी में शांति की बहाली और जनजीवन को सामान्य बनाने की हमारी प्रतिबद्धता को कमजोर नहीं कर पाएंगे।'

इस वर्ष जवान का अपहरण कर हत्या करने का यह दूसरा मामला है। इससे पहले मई में सेना के लेफ्टिनेंट उमर को भी किडनैप करने के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी। 22 वर्षीय उमर शोपियां में अपने घर में एक शादी समारोह में भाग लेने आए थे।

जम्मू-कश्मीर के 2 राजपूताना रायफल्स में तैनात सेना के लेफ्टिनेंट उमर फयाज के लिए उनकी पहली छुट्टी ही जिंदगी की आखिरी छुट्टी बन गई थी। आतंकियों ने फैयाज को शादी समारोह से अगवा कर मई महीने उनकी हत्या कर दी थी। फयाज का गोलियों से छलनी शव दक्षिणी कश्मीर के हरमन में मिला था।