BREAKING NEWS

वीडियो लिंक के जरिए ब्रिटेन की अदालत में पेश होगा भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी ◾जापान पहुंचे PM मोदी, भारतीय समुदाय ने किया गर्मजोशी से स्वागत ◾14वां G-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने जापान रवाना हुए PM मोदी◾पाकिस्तान समेत एशिया-प्रशांत समूह के सभी देशों ने किया भारत का समर्थन◾World Cup 2019 PAK vs NZ : पाक ने न्यूजीलैंड का रोका विजय रथ , नाकआउट की उम्मीद बढ़ायी ◾काफिले का मार्ग बाधित करने को लेकर थर्मल पावर के कर्मचारियों पर भड़के कुमारस्वामी ◾जयशंकर ने S-400 समझौते पर पोम्पिओ से कहा : भारत अपने राष्ट्रीय हितों को रखेगा सर्वोपरि◾‘जय श्रीराम’ का नारा नहीं लगाने पर ट्रेन से धकेल दिये गये 3 लोगों को ममता देंगी मुआवजा◾RAW चीफ बने 1984 बैच के IPS सामंत गोयल, अरविंद कुमार बनाए गए IB डायरेक्टर◾कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव में वैष्णव को BJD के समर्थन पर CM से स्पष्टीकरण मांगा ◾बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का MLA बेटा पहुंचा जेल, अधिकारी से की थी मारपीट◾पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास : गडकरी◾दुष्कर्म मामले में केरल के CPI (M) नेता के बेटे के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस◾कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्री नेपाल में फंसे, यात्रा संचालकों पर लगाया कुप्रबंधन का आरोप ◾विपक्ष त्यागे नकारात्मकता, विकास यात्रा में दे सहयोग : पीएम मोदी ◾Top 20 News - 26 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक देश एक चुनाव व्यवहारिक नहीं : कांग्रेस ◾नई ऊंचाइयों पर पहुंच रही है अमेरिका-भारत के बीच साझेदारी : माइक पोम्पियो◾दुखद और शर्मनाक है बिहार में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत : PM मोदी ◾इंदौर: BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने नगर निगम अफसरों को बल्ले से पीटा◾

जम्मू-कश्मीर

खीर भवानी तीर्थयात्रा के लिए कश्मीरी पंडित रवाना

कश्मीरी पंडितों को लेकर छह बसें आज (शनिवार) सुबह कश्मीर से खीर भवानी मंदिर की वार्षिक यात्रा पर रवाना हुईं। इन बसों में लगभग 240 यात्री सवार हैं। जम्मू एवं कश्मीर सरकार इन तीर्थयात्रियों ख्याल रख रही है। 

सूत्रों के अनुसार, तीर्थयात्रियों को राज्य सरकार द्वारा जम्मू से कश्मीर के गांदरबल जिले के तुल्ला मुल्ला गांव तक की यात्रा के लिए सुरक्षा प्रदान की जाएगी। 

नई दिल्ली में जम्मू एवं कश्मीर सरकार के रेजिडेंट कमीशन में अतिरिक्त सचिव प्रेरणा रैना ने सुबह छह बजे काफिला कश्मीर हाउस से रवाना किया। 

उन्होंने तीर्थयात्रियों के लिए बसों के प्रावधान के बारे में आईएएनएस से कहा, 'यह जम्मू एवं कश्मीर सरकार की पहल है।' कश्मीरी पंडितों के पवित्रतम तीर्थस्थलों में से एक वार्षिक तीर्थयात्रा जेष्ठ अष्टमी पर होती है, जो 10 जून को है। 

सूत्रों ने कहा कि 252 यात्रियों के लिए प्रावधान था, लेकिन जिन लोगों ने पंजीकरण कराया था, उनमें से कुछ आ नहीं सके। 
सूत्रों के अनुसार, छह दिवसीय यात्रा के अलावा, राज्य सरकार तीर्थयात्रियों के लिए मुफ्त में बोर्डिग और ठहरने की सुविधा प्रदान कर रही है।