BREAKING NEWS

BJP सरकार का रवैया नकारात्मक, अमेठी-मैनपुरी में सैनिक स्कूल की स्थापना समाजवादी सरकार में हुई : अखिलेश◾MP : मुख्यमंत्री कमलनाथ उज्जैन मंदिर को दे सकते हैं 300 करोड़ की सौगात ◾TOP 20 NEWS 17 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ AIIMS अस्पताल में लगी भीषण आग, अभी तक कोई हताहत नहीं◾जेटली जीवन रक्षक प्रणाली पर : नीतीश, पीयूष गोयल समेत अन्य नेता हाल जानने एम्स पहुंचे ◾PM मोदी : भूटान का पड़ोसी होना सौभाग्य कि बात, भूटान कि पंचवर्षीय योजनाओं में करेंगे सहयोग◾पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾आर्टिकल 370 : UNSC में Pak को बड़ा झटका, कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का मिला समर्थन◾

जम्मू-कश्मीर

कश्मीर घाटी से लगातार प्रवासी मजदूरों का पलायन

अपने घरों को लौटने को आतुर सैंकड़ों प्रवासी मजदूर लगातार कश्मीर से जम्मू और उधमपुर रेलवे स्टेशनों पर पहुंच रहे हैं और उनमें से कइयों ने नियोक्ता द्वारा पूरा पैसा नहीं दिये जाने और निजी ट्रांसपोर्टरों द्वारा अत्यधिक शुल्क वसूलने की शिकायत की है। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पिछले पांच दिनों में रेलवे ने 50000 से अधिक मजदूरों को उनके संबंधित राज्यों में पहुंचाया। रेल स्टेशनों बहुत भीड़ है और लोग जम्मू कश्मीर से निकलने के लिए विशेष ट्रेनों की बाट जोह रहे हैं। पांच अगस्त को सीआरपीसी की धारा 144 के तहत लगायी गयी निषेधाज्ञा जम्मू में शुक्रवार को हटा ली गयी जबकि डोडा एवं किश्तवाड़ जिलों में कर्फ्यू में ढील दी गयी ताकि सामान्य गतिविधियां बहाल हो सकें। जम्मू- कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त कर देने के बाद राज्य में सामान्य गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई थीं। 

जम्मू- कश्मीर प्रशासन ने तीन अगस्त को आपात स्थिति का हवाला देते हुए अमरनाथ यात्रा के तीर्थयात्रियों से यात्रा बीच में खत्म कर लौट जाने को कहा था। 

कश्मीर के गांदेरबल से 40 लोगों के साथ शुक्रवार को यहां पहुंचे दरभंगा के रमेश कुमार ने दावा किया कि दो दिनों से उन लोगों से कुछ नहीं खाया और उनके पास घाटी छोड़ने के लिए बस थोड़े पैसे हैं क्योंकि वे जिस आईसक्रीम इकाई में काम करते थे, वह वर्तमान स्थिति के चलते उनका पूरा पैसा नहीं दे पाया। 

उसने कहा, ‘‘ हमें बस थोड़े से पैसे मिले और हम घाटी से आ गये। निजी वाहन संचालक ने टाटा सूमो में प्रति व्यक्ति 2000 रूपये किराया लिया। वे लोगों को निचोड़ रहे हैं।’’ 

श्रीनगर में एक दशक से सोने के कारीगर के रूप में काम कर रहे कोलकाता के एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि उसे अपने परिवार को कश्मीर से जम्मू लाने के लिए 2500 रूपये प्रति व्यक्ति देना पड़ा। 

उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद के मजदूर जफरूल्ला ने कहा कि उसे उसके मालिक ने एक महीने की जगह पर बस एक हफ्ते का पैसा दिया।

 

उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा, ‘‘ रेलवे ने कई राज्यों के लिए विशेष ट्रेनें चलायी हैं और अतिरिक्त डिब्बे जोड़े गए हैं। सभी ट्रेनों में अतिरिक्त डिब्बे जोड़े गये हैं। उनके भोजन-पानी और ठहरने के सभी इंतजाम किये गये हैं।’’