BREAKING NEWS

चरमपंथ से शिक्षा का मंदिर स्कूल भी अछूता नहीं, मरम्मत के पैसे से कट्टरपंथी प्राचार्य ने बनवा दी मजार◾आदेश गुप्ता ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- AAP का इतिहास हमेशा से ही हिंदू धर्म के अपमान करने का रहा ◾पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची ◾ हरियाणा उपचुनाव : आदमपुर जीतने के लिए 'आप' ने झोंकी ताकत, प्रचार के लिए भारी संख्या में उतारेंगी विधायक ◾लद्दाख : भूस्खलन की चपेट में आए सेना के तीन वाहन, 6 जवानों की मौत◾एंटीलिया मामले में सचिन वाजे पर UAPA के तहत चलेगा केस, दिल्ली HC ने खारिज की याचिका ◾हिंदुओं पर हमलों करने वालों के खिलाफ संयुक्त होकर लड़ना होगा - सांसद स्टारर ◾क्या है कर्नाटक में कांग्रेस का 'प्लान 60'? 'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया के शामिल होने का खुला राज◾BJP सांसद की याचिका पर JMM नेता शिबू सोरेन को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस◾केजरीवाल के मंत्री पर बीजेपी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - राम और कृष्ण की पूजा ना करने की दिलाई शपथ◾दिल्ली : केंद्रीय विद्यालय में 11 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप, आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज◾गहलोत गुट के मंत्रियों पर सोनिया गांधी ने दिखाई नरमी, फिर टूटेगा पायलट का सपना?◾दिल्ली में Anti Dust अभियान शुरू, 14 नियमों का पालन जरूरी, उल्लंघन करने पर पांच लाख का जुर्माना◾Karnataka : दशहरे पर भीड़ ने मदरसे में घुसकर की जबरन पूजा, मुस्लिम संगठनों ने दी चेतावनी ◾मुंबई से 120 करोड़ रुपए की ड्रग्स जब्त, Air India के पूर्व पायलट समेत 2 गिरफ्तार◾झारखंड के दुमका में फिर लड़की के साथ हैवानियत की हदें पार, शादी से मना करने पर प्रेमी ने पेट्रोल डालकर जलाया ◾Rupee Value : नहीं संभल रहा रुपया, डॉलर के मुकाबले 82.33 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंचा◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 1,997 नए मामले दर्ज, 9 लोगों की मौत◾अमेरिका : 20 वर्षीय भारतीय-अमेरिकी स्टूडेंट की हत्या, आरोपी कोरियाई रूममेट गिरफ्तार◾उत्तराखंड हिमस्खलन : अब तक 19 शव बरामद, 80 घंटे बाद भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी◾

अधिकारी का दावा : आतंकियों में शामिल होने वाले 64 प्रतिशत कट्टरपंथी आतंकी युवा सालभर में ही जहन्नुम पहुंचे

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने वाले युवाओं की ''उम्र'' कम होती है क्योंकि इनमें से 64 प्रतिशत से अधिक युवा एक साल के भीतर सुरक्षा बलों द्वारा मार दिए जाते हैं। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एक मजबूत 'जमीनी खुफिया' नेटवर्क की सहायता से सुरक्षा बलों ने इस साल के पहले पांच महीनों में आतंकवाद-रोधी अभियानों को तेज कर दिया है। हालांकि, दक्षिण कश्मीर में लगातार हिंसा चिंता का कारण बनी हुई है।

26 प्रतिशत आतंकवादी ही सालभर से ज्यादा जीवन जी पाए - अधिकारी

अधिकारियों ने इस साल एक जनवरी से 31 मई के बीच बेअसर किए गए आतंकवादियों के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि एक साल के भीतर 64.1 प्रतिशत नए आतंकी रंगरूटों को मार गिराया गया।उन्होंने कहा कि केवल 26.6 प्रतिशत नए भर्ती हुए आतंकवादी 12 महीने से अधिक समय तक जिंदा रहे, जबकि उनमें से 9.3 प्रतिशत का क्या हश्र हुआ ये पता नहीं चला। अधिक जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया, 28.1 प्रतिशत आतंकवादी एक महीने के भीतर मारे गए, 54.7 प्रतिशत छह महीने के भीतर और 59.4 प्रतिशत नौ महीने के भीतर मारे गए।

दक्षिण कश्मीर घाटी बना आतंकियों का अड्डा

अधिकारियों ने बताया, इस साल के पहले पांच महीनों में 70 से 75 युवा कश्मीर घाटी में विभिन्न आतंकी समूहों में शामिल हुए हैं। पिछले साल यह आंकड़ा वर्तमान आंकड़े के लगभग बराबर था। उन्होंने कहा कि दक्षिण कश्मीर घाटी में आतंकवाद का अड्डा बना हुआ है, क्योंकि इस साल के पहले पांच महीनों में इस क्षेत्र में सुरक्षा बलों द्वारा 59 आतंकवादी मारे गए, जबकि मध्य और उत्तरी कश्मीर में इस अवधि में 31 आतंकवादियों का सफाया किया गया।

 मुठभेड़ में  मारे गए 90 में से 26 पाकिस्तान के आतंकी

अधिकारियों ने बताया, जनवरी और मई के बीच घाटी में मारे गए कुल 90 आतंकवादियों में से 26 पाकिस्तानी नागरिक थे। यह संख्या पिछले वर्ष की तुलना में बहुत अधिक है जब 100 आतंकवाद-रोधी अभियानों में 20 विदेशियों सहित 182 आतंकवादी मारे गए थे। अधिकारियों ने कहा कि इस अवधि के दौरान भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद के साथ 45 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया। विश्लेषण और खुफिया सूत्रों ने एके असॉल्ट राइफलों, तात्कालिक विस्फोटक उपकरणों और चिपचिपे बमों के अलावा लक्षित हत्याओं के उद्देश्य से पिस्तौल की एक बड़ी आपूर्ति की जानकारी दी थी।

इन आतंकी संगठनों के मारे गए सबसे ज्यादा लोग

टेरर फंडिंग केस: NIA की चार्जशीट में आतंकी हाफिज सईद-सलाहुद्दीन का भी नाम -  nia files chargesheet in terror funding case tst - AajTak

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर से घाटी में घुसपैठ की कोशिश के दौरान 47 मुठभेड़ों में मारे गए 90  आतंकवादियों में से छह को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर मार गिराया गया। इस साल जनवरी से अब तक 52 आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया है और 18 अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है।पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद (जेएएम) सूची में दूसरे स्थान पर था, जिसके 20 आतंकवादी मारे गए और चार अन्य गिरफ्तार किए गए। इसके बाद हिजबुल मुजाहिदीन (11 मृत और एक गिरफ्तार) और अल-बद्र (चार मृतऔर तीन गिरफ्तार)का स्थान है। अधिकारियों ने कहा कि मारे गए तीन शेष आतंकवादियों की पहचान नहीं हो सकी है।

पुलवामा में मारे जाने वाले आतंकियों की संख्या सबसे अधिक

Jammu Kashmir: 2 terrorists killed in encounter with security forces, arms  and ammunition recovered | जम्मू कश्मीर में एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर,  आपत्तिजनक सामग्री और हथियार बरामद - India TV ...

अधिकारियों ने बताया, दक्षिण कश्मीर के चार जिलों - पुलवामा, अनंतनाग, कुलगाम और शोपियां में 59 आतंकवादी मारे गए और 10 अन्य की गिरफ्तारी दर्ज की गई, जबकि ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में चार पाकिस्तानी आतंकवादियों सहित 11 आतंकवादी मारे गए और चार अन्य की गिरफ्तारी हुई। पुलवामा जिले में सात विदेशियों सहित मारे गए आतंकवादियों की सबसे अधिक संख्या 27 दर्ज की गईं, इसके बाद अनंतनाग (12), कुलगाम (11) और शोपियां में नौ को मार गिराया गया। अधिकारियों ने बताया कि कुलगाम में मारे गए 11 आतंकवादियों में पांच विदेशी आतंकवादी थे।

गांदरबल जिले में सबसे कम आतंकी घटनाए 

अधिकारियों के अनुसार, मध्य कश्मीर के बडगाम जिले में सात आतंकवादी मारे गए और आठ अन्य को गिरफ्तार किया गया। मध्य कश्मीर के गांदरबल जिले में आतंकवादी गतिविधियों की सबसे कम घटनाएं देखी गईं, जिसमें केवल एक आतंकवादी को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया गया था। अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर का उपयोग आतंकवादियों द्वारा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से घाटी में घुसपैठ के लिए प्रवेश द्वार के रूप में किया जा रहा है यहां 10 विदेशियों सहित कुल 12 आतंकवादी मारे गए और 23 अन्य को गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने बताया कि सीमावर्ती जिलों कुपवाड़ा में पांच विदेशियों सहित छह आतंकवादी, बारामूला में तीन विदेशी और बांदीपोरा में दो विदेशियों सहित तीन अन्य मारे गए। बारामूला जिले से 18 और बांदीपोरा जिले से पांच अन्य को भी गिरफ्तार किया गया है।

आतंकियों के पास हथियारों की बड़ी उपलब्धता, खतरे का संकेत

Jammu Kashmir Target Killing: Terrorists In Jammu And Kashmir Using Pistols  Replacing Ak-47 Rifles - Jammu Kashmir: आतंकी बना रहे Ak-47 राइफल से दूरी!  टारगेट किलिंग के लिए इस्तेमाल कर रहे यह

अधिकारियों के मुताबिक, पांच महीने की अवधि के दौरान घाटी भर से आतंकवादियों द्वारा शुरू की गई कुल 61 घटनाएं हुईं और उनमें से आधी पुलवामा और श्रीनगर जिलों से सामने आईं।उन्होंने कहा कि मारे गए और गिरफ्तार किए गए आतंकवादियों के पास से बड़ी संख्या में एके राइफल और पिस्तौल सहित हथियार बरामद किए गए हैं, जो इस बात का संकेत है कि हथियारों की उपलब्धता में वृद्धि हुई है। अधिकारियों ने कहा कि एक और चौंकाने वाली प्रवृत्ति देखी गई कि पिस्तौल की बड़ी आमद स्पष्ट रूप से लक्षित हत्याओं को अंजाम देने के लिए की गई थी।

अधिकारियों ने कहा कि इस साल जनवरी से आतंकवाद-रोधी अभियानों के दौरान सुरक्षा बलों द्वारा लगभग 350 पिस्तौल बरामद की गईं थी, जिसमें मई के महीने में 92 जब्त की गई थी। इस साल पहली बार मई में पांच आईईडी भी बरामद किए गए थे।