BREAKING NEWS

कोटकपूरा गोलीकांड : SIT ने पंजाब के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को किया तलब◾महाराष्ट्र : संजय राउत का बड़ा आरोप- पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में शिवसेना के साथ किया जाता था ‘गुलामों’ की तरह व्यवहार ◾अगले 3 दिनों में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 4 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन मिलेगी ◾केजरीवाल का ऐलान- कल से खुलेंगे मॉल और बाजार, 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मिली रेस्तरां खोलने की अनुमति ◾उत्तराखंड : कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का निधन, दिल्ली में ली अंतिम सांस◾अमित मित्रा के आरोपों पर बोले अनुराग ठाकुर-वित्त मंत्री ने कभी अनसुनी नहीं की किसी की बात◾कोरोना आंकड़ों पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, पूछा- भारत सरकार का सबसे कुशल मंत्रालय कौन सा है◾यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, ट्रक में जा घुसी कार, 3 की मौत ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 80834 नए मामलों की पुष्टि, 3303 लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 17.55 करोड़ से अधिक ◾जी-7 नेताओं से अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने किया अनुरोध, कहा- चीन के वैश्विक अभियान के साथ करें प्रतिस्पर्धा◾ एक साल में कोवैक्सीन की सुरक्षा और प्रभावकारिता पर नौ सर्च प्रकाशित किए : भारत बायोटेक ◾PM मोदी ने G-7 सम्मेलन को किया संबोधित, ‘एक धरती, एक स्वास्थ्य’ दृष्टिकोण को अपनाने का किया आह्वान ◾केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में JDU ने दिखाई दिलचस्पी, कहा- सहयोगियों को मिलना चाहिए सम्मानजनक हिस्सा ◾दिग्विजय के बयान पर कांग्रेस का बचाव : जम्मू-कश्मीर पर सीडब्ल्यूसी का प्रस्ताव देखें वरिष्ठ नेता ◾राजधानी दिल्ली में कोविड-19 पर लगी ब्रेक, तीन महीने में सबसे कम नए मामले आये सामने ◾कोविड की दूसरी लहर के दौरान बच्चों के नियमित टीकाकरण में भारी गिरावट पर विशेषज्ञों ने जताई चिंता ◾कोरोना के बहाने बिहार BJP का तंज - 'घरों से उतना ही बाहर निकलें जितना राहुल गांधी मंदिर जाते हैं' ◾सूदखोर ने इतना किया परेशान कि परिवार को देनी पड़ी जान, ऑडियो क्लिप से हुआ आत्महत्या पर खुलासा◾'रक्षकों को बचाओ' : डॉक्टरों पर हमलों के खिलाफ 18 जून को देशव्यापी प्रदर्शन करेगा IMA ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

गृह मंत्री शाह के गुपकर गैंग वाले वार पर उमर अब्दुल्ला का पलटवार, समझ सकता हूं BJP की कुंठा

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने गुपकर घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा ‘‘गैंग’’ करार दिए जाने पर मंगलवार को कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की और कहा कि यह राजनीतिक गठबंधन द्वारा आगामी निकाय चुनाव लड़ने का निर्णय करने तथा भाजपा और उसके सहयोगियों के लिए खुला मैदान नहीं छोड़ने से उपजी कुंठा है। अमित शाह के ट्वीट की श्रंखला पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘हम गैंग नहीं हैं अमित शाह जी, हम वैध राजनीतिक गठबंधन हैं जिसने चुनाव लड़े हैं और लड़ते रहेंगे और यही बात आपको परेशान कर रही है।’’

नवगठित जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी पर परोक्ष प्रहार करते हुए उमर अबदुल्ला ने कहा, ‘‘मैं माननीय गृहमंत्री के इस हमले के पीछे की कुंठा समझ सकता हूं। उन्हें बताया गया था कि यह गठबंधन चुनाव का बहिष्कार करने की तैयारी कर रहा है। इससे भाजपा और नवगठित दल को खुला मैदान मिल जाता। हमने उनकी उम्मीदें पूरी नहीं की।’’ 

उन्होंने कहा कि केवल जम्मू-कश्मीर के नेताओं को चुनाव में हिस्सा लेने एवं लोकतांत्रिक प्रक्रिया का समर्थन करने के लिए हिरासत में लिया जा सकता है और राष्ट्र-विरोधी कहा जा सकता है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘सच्चाई यह है कि जो भी भाजपा की विचाराधारा का विरोध करता है, उसे भ्रष्ट और राष्ट्रविरोधी करार दिया जाता है।’’

इससे पहले अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक दलों के गठबंधन को कथित तौर पर ‘गुपकर गैंग’ करार दिया और कहा कि वह देश के राष्ट्रीय हितों के विरूद्ध ‘अपावन वैश्विक गठबंधन’ है। अमित शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट कर यह आरोप भी लगाया कि कांग्रेस और ‘‘गुपकर गैंग’’ जम्मू एवं कश्मीर को आतंक और उत्पात के युग में वापस ले जाना चाहते हैं। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से पीएजीडी के कदमों पर पार्टी का रुख साफ करने को कहा।

पीएजीडी में नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) समेत जम्मू-कश्मीर के विभिन्न दल शामिल हैं। कांग्रेस भी इस गठबंधन में शामिल हुई है। इस गठबंधन ने संविधान के अनुच्छेद 370 को बहाल करने की मांग की है, जो पूर्ववर्ती राज्य को विशेष दर्जा देता था। अमित शाह ने कहा, ‘‘गुपकर गैंग वैश्विक हो रहा है! वह जम्मू एवं कश्मीर में विदेशी ताकतों का हस्तक्षेप चाहता है। गुपकर गैंग तिरंगे का अपमान करता है। क्या सोनिया गांधी और राहुल गांधी गुपकर गैंग के ऐसे कदमों का समर्थन करते हैं? उन्हें देश की जनता के समक्ष अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए?’’

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और ‘‘गुपकर गैंग’’ जम्मू एवं कश्मीर को आतंक और उत्पात के युग में वापस ले जाना चाहते हैं।अनुछेद 370 को हटाकर हमने वहां के दलितों, महिलाओं और आदिवासियों को जो अधिकार प्रदान किए हैं उन्हें वे वापस लेना चाहते हैं। यही कारण है कि उन्हें देश की जनता हर जगह से खारिज कर रही है।’’

अमित शाह ने जोर देकर कहा कि जम्मू एवं कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था, है और रहेगा। उन्होंने कहा, ‘‘भारत की जनता राष्ट्रीय हितों के खिलाफ बने ‘अपवित्र गठबंधन’ को बर्दाश्त नहीं करेगी। गुपकर गैंग या तो राष्ट्रीय भावना के अनुरूप चले नहीं तो देश की जनता उसे खारिज कर देगी।’’