BREAKING NEWS

कन्हैया और जिग्नेश आज थामेंगे कांग्रेस का हाथ, राहुल की मौजूदगी में युवा नेताओं को दिलाई जाएगी सदस्यता ◾Today's Corona Update : एक दिन 20 हजार से भी कम नए केस, 179 मरीजों की मौत◾भारत-PAK के बीच आतंकवाद पर हुई तीखी बहस के बावजूद UN महासचिव को वार्ता की उम्मीद, कही यह बात ◾दुनियाभर में कोरोना मामलों का आंकड़ा 23.2 करोड़ के पार, संक्रमण से 47.5 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾दिल्ली उच्च न्यायालय ने कालकाजी मंदिर से अतिक्रमण व अनधिकृत कब्जा हटाने का आदेश दिया◾योगी सरकार के नए मंत्रियों के विभागों का हुआ बंटवारा, जितिन को मिली प्राविधिक शिक्षा की जिम्मेदारी◾उत्तर प्रदेश : मुख्यमंत्री ने नवनियुक्त मंत्रियों को बांटे विभाग◾DRDO को मिली सफलता ‘आकाश प्राइम’ मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾BSP के राष्ट्रीय महासचिव कुशवाहा ने की अखिलेश से मुलाकात, UP चुनाव से पहले थाम सकते है SP का दामन◾UNGA की आम चर्चा को संबोधित नहीं करेंगे अफगानिस्तान और म्यामां: संयुक्त राष्ट्र ◾वित्तीय संकट के चलते अभिभावकों का CBSE को लिखा पत्र, तीन लाख छात्रों की फीस माफ करने की मांग ◾भवानीपुर में दिलीप घोष से धक्का-मुक्की पर चुनाव आयोग सख्त, ममता सरकार से रिपोर्ट मांगी ◾भारत बंद के आह्वान को अभूतपूर्व और ऐतिहासिक प्रतिक्रिया मिली : संयुक्त किसान मोर्चा ◾गरीबों को किराया देने की घोषणा पर केजरीवाल सरकार का यू-टर्न, HC में कहा - वादा नहीं किया था ◾खत्म हुआ किसानों का भारत बंद, 10 घंटे बाद खुले दिल्ली-एनसीआर के सभी बॉर्डर ◾महंत नरेंद्र गिरि मौत मामला : 7 दिन की सीबीआई रिमांड में भेजे गए आनंद गिरी व दो अन्य ◾महिलाओं के बाद अब पुरुषों के लिए तालिबान का फरमान- दाढ़ी बनाना और ट्रिम करना गुनाह, लगाई रोक ◾नए संसद भवन का दौरा करने पर कांग्रेस ने मोदी को घेरा, कहा- काश! PM कोरोना की दूसरी लहर के दौरान किसी अस्पताल जाते ◾भवानीपुर उपचुनाव प्रचार के आखिरी दिन लहराईं बंदूकें, BJP का आरोप- TMC ने दिलीप घोष पर किया हमला ◾किसानों के 'भारत बंद' को लेकर देश में दिखी मिलीजुली प्रतिक्रिया, जानिए किन हिस्सों में जनजीवन हुआ बाधित ◾

कश्मीर में आतंकी गतिविधियां आयोजित कर रहा पाक, इस साल 1 जून तक सेना ने 48 आतंकवादी किये ढेर

भारतीय और पाकिस्तानी बलों के बीच फरवरी में समझौता होने के बाद से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम उल्लंघन की एक भी घटना नहीं हुई है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियों की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। सुरक्षा एजेंसियों ने बताया कि घाटी में इस साल 1 जून तक 48 आतंकवादी मारे गए। पिछले साल 1 जून तक घाटी में कुल 60 आतंकियों को ढेर किया गया था। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा, पिछले साल की तुलना में इस साल अब तक मारे गए आतंकवादियों की घटनाएं कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के कारण हैं।

सुरक्षा एजेंसियों के पास मौजूद आंकड़े बताते हैं कि 2020 में कुल 221 आतंकवादी मारे गए थे, जबकि 2019 में 158 आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया था। सुरक्षा प्रतिष्ठानों ने बताया कि पाकिस्तान के एलओसी पर शांति बनाए रखने के लिए सहमत होने के बावजूद, उसने घाटी में आतंकी गतिविधियों को प्रायोजित करना बंद नहीं किया है।

इसके अलावा, खुफिया एजेंसियों ने पाकिस्तानी सेना के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में नियंत्रण रेखा के करीब लगते ठिकानों पर आतंकवादी गतिविधियों की गतिविधियों के बारे में सुरक्षा प्रतिष्ठानों को सतर्क कर दिया है। सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान में आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर सक्रिय हैं और संभवत: घुसपैठ के प्रयासों के लिए समूह एलओसी के पार जमा हो गए हैं।

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, एक जून को केरन, नौगाम और रामपुर सेक्टर के सामने लीपा घाटी में आतंकियों के अलग-अलग गुट जमा हो गए थे।

एजेंसियों ने आगे बताया कि पिछले महीने, 24 आतंकवादियों ने निकियाल में प्रशिक्षण शुरू किया था, जिनमें चार आतंकी जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) से, 10 एआई बद्र से और 10 लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) से हैं, जो कि घुसपैठ की तैयारी कर रहे हैं। खुफिया एजेंसियों ने कहा, सभी आतंकवादियों को अबू ताला नाम के एक सेवानिवृत्त एसएसजी कमांडो और 15 सिंध (निकियाल) के मेजर उमर द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है।

सूत्रों ने कहा कि इनपुट बहुत स्पष्ट हैं कि आतंकी समूहों को अभी भी पाकिस्तानी सेना का पूरा समर्थन है, भले ही संघर्ष विराम बहाल करने का निर्णय लिया गया हो और 25 फरवरी के बाद से कोई उल्लंघन नहीं हुआ हो। इसी तरह, पिछले एक महीने में आतंकवादियों के एक समूह के लगातार इकट्ठा होने की सूचना मिली है। 24 मई को तानागधार, नौगाम और पुंछ से 5 से 8 आतंकवादियों के समूहों के एक साथ इकट्ठा होने की सूचना मिली थी। सूचना के अनुसार, 25 मई को हिजबुल मुजाहिदीन के चार आतंकवादियों का एक समूह उरी के सामने केंद्रित दो समूहों में विभाजित हो गया। अधिकारी ने कहा कि पिछले एक महीने से इसी तरह का पैटर्न (स्थिति) देखने को मिल रहा है।

भारत और चीन को लेकर राष्ट्रपति पुतिन बोले- मोदी और शी हैं ‘जिम्मेदार’ नेता, दोनों देश मुद्दों को सुलझाने में सक्षम