BREAKING NEWS

नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾राज्यसभा में शिवसेना का भाजपा पर कटाक्ष, कहा- आप जिस स्कूल में पढ़ रहे हो, हम वहां के हेडमास्टर हैं◾CM उद्धव ठाकरे बोले- महाराष्ट्र को GST मुआवजा सहित कुल 15,558 करोड़ रुपये का बकाया जल्द जारी करे केन्द्र◾TOP 20 NEWS 11 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कपिल सिब्बल ने राज्यसभा में कहा- विभाजन के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताने पर माफी मांगें अमित शाह◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और संविधान विरूद्ध◾राज्यसभा में नागरिकता बिल पेश, अमित शाह बोले- भारतीय मुस्लिम भारतीय थे, हैं और रहेंगे◾प्रियंका का वित्त मंत्री पर वार, कहा-आप प्याज नहीं खातीं, लेकिन आपको हल निकालना होगा ◾2002 गुजरात दंगा मामले में नानावती आयोग ने PM नरेंद्र मोदी को दी क्लीन चिट ◾

जम्मू-कश्मीर

पीडीपी नेताओं की महबूबा मुफ्ती के साथ होने वाली बैठक स्थगित

 mehbooba

पीडीपी का दस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने आज महबूबा मुफ्ती से मुलाकात नहीं करेगा। जानकारी के मुताबिक इस मुलाकात को फिलहाल के लिए स्थगित कर दिया गया। सोमवार को वेद महाजन के नेतृत्व में पीडीपी प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर जाने और महबूबा मुफ्ती से मुलाकात करने की इजाजत भी मिल गई थी, लेकिन पीडीपी नेताओं ने महबूबा मुफ्ती के साथ होने वाली बैठक को फिलहाल के लिए रद्द कर दिया है। 

पीडीपी प्रतिनिधिमंडल में 15 से 18 लोग शामिल होने वाले थे। यह मुलाकात आज 11 बजे श्रीनगर में होनी थी, लेकिन अब नहीं हो पाएगी। वहीं नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के प्रतिनिधिमंडल कल  फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि पार्टी आगामी ब्लॉक विकास परिषद (बीडीसी) चुनाव से दूर रहेगी लेकिन इस बारे में फैसला पार्टी अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला को लेना है, जिन्हें जन सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत नजरबंद रखा गया है। 

राजस्थान में शराबबंदी पर बोले अशोक गहलोत- गुजरात में है प्रतिबंध, फिर भी घर-घर में पी जाती है

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक की अनुमति मिलने के एक दिन बाद जम्मू में नेकां के अस्थायी अध्यक्ष देवेंद्र राणा के नेतृत्व में 15 सदस्यीय प्रतिनिधमंडल ने फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला से यहां मुलाकात की। गौरतलब है 5 अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को समाप्त किए जाने के बाद से ही कई नेताओं को नजरबंद रखा गया है।