BREAKING NEWS

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तिहाड़ जेल में डीके शिवकुमार से की मुलाकात◾दिल्ली के कनॉट प्लेस में मुठभेड़, दो बदमाश गिरफ्तार◾झारखंड चुनाव में कसौटी पर होगी JDU-भाजपा दोस्ती!◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: मां बोलीं- हत्या के आरोपियों को मिले फांसी की सजा ◾कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने की मोदी सरकार की तारीफ, 'आयुष्मान भारत योजना' को लेकर कही यह बात◾आनंदन ने विश्व मिलिट्री खेलों में भारत को दिलाया दूसरा स्वर्ण ◾सोनिया गांधी बुधवार को शिवकुमार से तिहाड़ में मिलेंगी◾‘‘ग्रेट पैट्रियॉटिक वॉर’’ जीत की 75 वीं वर्षगांठ पर मोदी का स्वागत करने के लिए उत्सुक है रूस ◾आप ने विमर्श की दिशा बदल दी, दिल्ली में हिंदू-मुस्लिम राजनीति करने की भाजपा की हिम्मत नहीं : केजरीवाल ◾J&K : सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी ढेर◾अयोध्या में दीपोत्सव का खर्चा UP सरकार के जिम्मे◾बंगाल में लागू नहीं होगा NRC : ममता◾प्रियंका ने प्रदेश में महिलाओं के साथ बढते अपराध पर UP सरकार को घेरा◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : गुजरात ATS को मिली बड़ी कामयाबी, दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार◾गुलाबी बस टिकटों पर केजरीवाल के चित्र मामले में दिल्ली भाजपा ने लोकायुक्त से शिकायत की◾हरियाणा में भाजपा, कांग्रेस में कांटे की टक्कर, महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की शानदार वापसी : एग्जिट पोल ◾हरियाणा : कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा बोली- एग्जिट पोल को भूल जाइये, कांग्रेस बनाएगी सरकार◾राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर स्थापित नहीं होगा : CM ममता ◾TOP 20 NEWS 22 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने ‘निर्वाणी अखाड़ा’ को लिखित नोट दाखिल करने की दी इजाजत ◾

जम्मू-कश्मीर

Pulwama Attack: CRPF की इस छोटी सी गलती से गयी 44 जवानों की जान !

14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। यह आतंकी हमला पुलवामा जिले के नेशनल हाईवे पर हुआ और इसमें 44 जवान शहीद हो गए हैं। 44 शहीद जवानों के अलावा बहुत सारे सीआरपीएफ के जवान घायल हुए हैं जो इस समय अस्पताल में हैं।

\"\"

आतंकियों के इस हमले की वजह से पूरा देश आक्रोश में है वह सरकार से आतंकवादियों से इस हमले का मुंह तोड़ जवाब देने के लिए कह रहे हैं। पुलवामा आंंतकी हमले के बाद देश के पीएम मोदी ने कहा है कि इस समय देश के लोग गुस्से में है।

\"\"

सीआरपीएफ के जवानों को काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था उस समय यह आतंकी हमला हुआ। सीआरपीएफ ने कड़ी सुरक्षा कर रखी थी लेकिन उनकी अपनी एक छोटी सी गलती की वजह से यह आतंकी हमला हो गया और उसमें 44 जवानों की जानें चली गईं।

सीआरपीएफ की इस छोटी सी गलती की वजह से कई 44 जवानों की जानें

हालांकि सीआरपीएफ ने सारे रूट पर सावधानी बरती थी जिस-जिस जगह से जवानों का यह काफिला जाना था। इसके अलावा उन्होंने इस दौरान ग्रेनेड हमले या फिर अचानक से फायरिंग पर भी बहुत सावधानी करी थी। सीआपीएफ ने जवानों के काफिले के जाने से पहले हर रूट की अच्छे से जांच की थी।

\"\"

पुलवामा के इस आतंकी हमले पर बात करते हुए सीआरपीएफ के इंस्पकक्टर जनरल, कश्मीर जुल्फिकार हसन ने कहा, रोड ओपनिंग पार्टी ने सुबह ही पूरे रूट की अच्छे से चेकिंग की थी। उस समय उस रूट पर किसी तरह के हमले होने का आईईडी नहीं मिला था। हमें तो इस बात की बिल्कुल संभावना नहीं थी कि किसी भी जवानों के काफिले पर फायरिंग या ग्रेनेड से हमला हो जाएगा।

\"\"

लेकिन सीआरपीएफ के अधिकारियों को क्या मालूम था कि उसी जगह के स्थानीय लोगों के वाहनों को नेशनल हाईवे से जाने की अनुमति देने पर उनके अपने 44 जवानों की मौत हो जाएगी। उनकी इस छोटी से भूल का खामीजाया जवानों ने अपनी जान से दिया। बता दें कि जम्मू-श्रीनगर के एक हिस्से में काफिले के दौरान स्थानीय नागरिकों के वाहनों के जाने की अनुमति दे दी थी जिसका फायदा जैश-ए-मोहम्मद ने उठाया और वहां पर आतंकी आदिल अहमद से आत्मघाती हमला करवा दिया।

गृहमंत्री ने फिर से स्थानीय लोगों के वाहनों पर लगाई रोक

आतंकवादी आदिल जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग की एक सर्विस रोड पर आया और उसने बाद में सीआरपीएफ की एक बस को टक्ककर मार दी और यह आतंकी हमले किया। सीआरपीएफ के उस काफीले में 78 गाडिय़ां जा रही थीं और उसमें 2545 जवान थे।

\"\"

इससे पहले जब भी जम्मू-कश्मीर में जवानों का काफिला जाता था तो उस बीच स्थानीय नागरिकों के वाहन को जाने की अनुमति नहीं दी जाती थी। लेकिन जब वहां के हालात सही होने लगे तो जवानों के काफिलों के बीच स्थानीय लोगों की गाडिय़ां जाने लगी और इस बार यह खतरनाक साबित हुआ।

\"\"

हालांकि देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज से स्थानीय लोगों के वाहनों के जाने पर रोक लगा दी है। गृह मंत्री ने कहा है कि जब भी जम्मू-कश्मीर में जवानों के बड़े काफिले जाएंगे तो उस दौरान लोगों के वहान को रोक लगा दी जाएगी।

पुलवामा हमले पर AMU के छात्र ने किया आपत्तिजनक ट्वीट, छात्र के खिलाफ FIR दर्ज