BREAKING NEWS

coronavirus : तमिलनाडु में कोविड-19 से 621 लोग संक्रमित, 574 मामलें तबलीगी जमात से जुड़े◾Coronavirus : तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय की सफाई, कहा- सीएम ने लॉकडाउन बढ़ाने की सलाह दी लेकिन कोई घोषणा नहीं ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : तबलीगी जमात से जुड़े 1,445 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए, 25 हजार से अधिक एकांतवास में◾दिल्ली में कोरोना से अब तक 523 लोग हुए संक्रमित, पिछले 24 घंटे में 20 नए मामले आए सामने ◾कोरोना से हुई कुल मौतों में 73 प्रतिशत पुरुष जबकि 27 प्रतिशत महिलाएं : स्वास्थ्य मंत्रालय◾केंद्र का बड़ा फैसला, PM सहित कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती◾PM मोदी ने की वीडियो लिंक के जरिये पहली बार कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता◾कोरोना की चपेट में आई मुकेश अंबानी की संपत्ति, 2 महीने में 28 प्रतिशत गिरकर हुई 48 अरब डॉलर◾कांग्रेस प्रवक्ता बोले- पेट्रोल-डीजल पर मुनाफा जनता के साथ साझा करें सरकार◾मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा दूसरा नोटिस, पहले नोटिस में नहीं दिए थे सवालों के जवाब◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी बोले- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत हो यही देश का लक्ष्य और संकल्प है◾BJP विधायक ने PM मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की उड़ाई धज्जियां, समर्थकों के साथ सड़क पर निकाला जुलूस◾इंसानों के बाद जानवरों पर कोरोना की मार, न्यूयॉर्क के चिड़ियाघर की बाघिन हुई संक्रमित ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 4000 के पार, 109 लोगों की अब तक मौत◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी, नड्डा और शाह ने कार्यकर्ताओं को दी शुभकामनाएं, कहा- एकजुट होकर देश को कोविड-19 से करें मुक्त◾भोपाल में कोविड-19 से 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, कोरोना से मरने वालो का आकंड़ा 14 हुआ ◾ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संबंधी जांचों के लिए अस्पताल में हुए भर्ती ◾अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमितो की संख्या 3,37,274 हुई, पिछले 24 घंटो में 1200 लोगों ने गवाई जान ◾प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर उनकी मां ने भी दीया जलाया◾लॉकडाउन: दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों से घरों में रहने का आग्रह किया◾

SC ने कश्मीरी पंडितों की हत्या की 215 घटनाओं की जांच की मांग संबंधी याचिका की खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने कश्मीरी पंडितों की हत्या की 215 घटनाओं की जांच की मांग संबंधी पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी है। रूट्स इन कश्मीर नामक संस्था ने 1989-90 में कश्मीरी पंडितों की हत्या की 215 घटनाओं की जांच की मांग की थी। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने रूट्स इन कश्मीर संस्था की पुनर्विचार याचिका पर चैम्बर में सुनवाई के बाद इसे ़खारिज कर दिया। संस्था ने अपनी पुनर्विचार याचिका में कहा था कि अगर 33 साल पुराने सिख विरोधी दंगा मामलों को फिर से खोलने और जांच का आदेश दिया जा सकता है तो 27 साल पुराने कश्मीरी पंडितों की हत्या के मामले में क्यों नहीं? शीर्ष अदालत ने इसी साल 24 जुलाई को रूट्स इन कश्मीर की उस याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें उसने 1989-90 में कश्मीरी पंडितों की हत्या की 215 घटनाओं की जांच की मांग की थी। उस समय तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश जे एस खेहर की अध्यक्षता वाली पीठ ने याचिकाकर्ता से पूछा था कि आप 27 साल से कहां थे। अब इतने सालों बाद इन मामलों में सबूत कैसे मिलेंगे? तब संस्था की तरफ से कहा गया था कि संस्था से जुड़ लोग अपनी जान बचा कर भागे थे, लंबे समय तक अपने आप को दोबारा खड़ करने के लिए संघर्ष करते रहे। न्यायालय ने, हालांकि, इस दलील को मानने से मना कर दिया था।