BREAKING NEWS

कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾राहुल ने पीएम मोदी पर पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को नष्ट करने का लगाया आरोप◾कोरोना संक्रमण के फैलते प्रकोप की वजह से संसद का मानसून सत्र आज से अनिश्चित काल के लिए स्थगित ◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 लाख के पार, 90 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾पीएम मोदी की 7 राज्यों के CM के साथ बैठक आज, कोरोना महामारी पर करेंगे चर्चा ◾अमेरिका में वैश्विक महामारी के नए मामलों में कमी, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾आज का राशिफल (23 सितम्बर 2020)◾बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने लिया VRS, लड़ सकते हैं आगामी विधानसभा चुनाव◾संजू सैमसन के तूफान में नरम पड़े सुपरकिंग्स, राजस्थान रायल्स ने चेन्नई को 16 रन से हराया◾भारत ने स्वदेशी हाई-स्पीड टार्गेट ड्रोन 'अभ्यास' का किया सफल परीक्षण◾LAC पर भारत-चीन के बीच नो एक्शन एग्रीमेंट, अग्रिम मोर्चे पर और अधिक सैनिक नहीं भेजेंगे दोनों देश◾महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 18,390 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 12.42 लाख के पार◾IPL-13: सैमसन और स्मिथ की शतकीय साझेदारी, राजस्थान ने चेन्नई को दिया 217 रनों का टारगेट◾एकजुटता दिखाते हुए विपक्ष ने लोकसभा का किया बहिष्कार, कृषि मंत्री बोले - कांग्रेस के भ्रम में न आये जनता◾सरकार ने बताया 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना के विज्ञापन पर 2014 से कितने करोड़ खर्च हुए◾IPL-13 के CSK vs MI के उद्घाटन मैच ने व्यूअरशिप में तोड़े रिकॉर्ड, इतने करोड़ लोगों ने मुकाबला ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

उमर अब्दुल्ला हिरासत मामले में बहन की याचिका पर 5 मार्च को SC करेगा सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट  ने सोमवार को कहा कि जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की जन सुरक्षा कानून, 1978 के तहत नजरबंदी को चुनौती देने वाली उनकी बहन सारा अब्दुल्ला पायलट की याचिका पर पांच मार्च को सुनवाई करेगा। सारा पायलट ने बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी की पीठ के समक्ष सारा पायलट की याचिका पर जम्मू-कश्मीर प्रशासन की ओर से जवाब दाखिल किया।

एटॉर्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने शीर्ष अदालत के एक पूर्व फैसले का उल्लेख करते हुए कहा कि हिरासत में रखने के मामले में याचिकाकर्ता को पहले उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाना चाहिए। न्यायालय ने कहा कि वह पांच मार्च को इसकी सुनवाई करेगा। सारा ने गत 10 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए अपने भाई उमर अब्दुल्ला को जेके-पीएसए-1978 के तहत हिरासत में लिए जाने को अवैध बताया था।

औरंगाबाद का नाम बदलने की मांग को लेकर शिवसेना ने BJP पर साधा निशाना

खंडपीठ ने गत 14 फरवरी को याचिका की सुनवाई करते हुए जम्मू कश्मीर प्रशासन को नोटिस जारी किया था। न्यायालय ने मामले की सुनवाई के लिए आज की तारीख मुकर्रर की थी। उमर अब्दुल्ला 05 अगस्त, 2019 से सीआरपीसी की धारा 107 के तहत हिरासत में थे। इस कानून के तहत, उमर अब्दुल्ला की छह महीने की एहतियातन हिरासत अवधि गत गुरुवार यानी पांच फरवरी 2020 को खत्म होने वाली थी, लेकिन सरकार ने उन्हें फिर से पीएसए के तहत हिरासत में ले लिया है।