BREAKING NEWS

महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, चिंताजनक और शर्मनाक : नायडू ◾ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता विधेयक की प्रति फाड़ी भाजपा सदस्यों ने संसद का अपमान बताया ◾पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्यों के दलों ने नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन किया ◾अनुच्छेद 370 को रद्द किये जाने के खिलाफ याचिकाओं पर संविधान पीठ कल से करेगी सुनवाई ◾दुष्कर्म की राजधानी बना भारत, फिर भी चुप हैं मोदी : राहुल गांधी◾कांग्रेस कभी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरती : नरेन्द्र मोदी ◾TOP 20 NEWS 09 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भीकाजी कामा प्लेस मेट्रो स्टेशन के नजदीक जेएनयू के छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज ◾नागरिकता संशोधन विधेयक भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा, जनता ने इसे मंजूर किया : अमित शाह◾कर्नाटक उपचुनाव : BJP को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत ◾कर्नाटक : सिद्धारमैया ने कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से दिया इस्तीफा◾JNU छात्रों ने राष्ट्रपति भवन तक शुरू किया मार्च, पुलिस ने की शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील◾रॉबर्ट वाड्रा को कोर्ट से बड़ी राहत, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाने की मिली अनुमति◾बीजेपी ने छह सीटें जीतने के साथ कर्नाटक विधानसभा में बहुमत किया हासिल ◾झारखंड में बोले राहुल- सत्ता में आने पर लोगों को जल, जंगल और जमीन लौटाया जाएगा◾कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश विभाजन किया जिसके कारण नागरिकता कानून में संशोधन की जरूरत पड़ी : अमित शाह◾अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया भारत और संविधान का अपमान◾झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी◾गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में पेश किया नागरिकता संशोधन विधेयक◾शिवसेना नागरिकता संशोधन विधेयक का करेगी समर्थन: संजय राउत ◾

जम्मू-कश्मीर

अलगाववादी नेता इंकलाबी फिर PSA के तहत गिरफ्तार

 abdul samad inqilabi

इस्लामी तंजीम-ए-आजादी के अध्यक्ष अब्दुल समद इंकलाबी को फिर से जन सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत गिरफ्तार करके जम्मू की जेल में बंद किया गया है। 

इस दौरान स्थानीय अदालत ने जेल अधिकारियों को श्री इंकलाबी को चिकित्सा सुविधा प्रदान कराने के निर्देश दिये हैं। वह कई बीमारियों से पीड़ित हैं। 

इस्लामी तन्जीम-ए-आजादी के प्रवक्ता ने कहा कि श्री इंकलाबी को पीएसए के तहत तीसरी बार गिरफ्तार किया गया है। उन्हें दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में दिसंबर 2018 में गिरफ्तार किया गया था। 

उन्होंने कहा श्री इंकलाबी के भाई ने कुपवाड़ा के प्रमुख सत्र न्यायाधीश से उन्हें चिकित्सा उपचार प्रदान करने के निर्देश के लिए जिले के अधिकारियों को निर्देश देने का आग्रह किया था। 

इस महीने के शुरू में आवेदन पर सुनवाई के बाद अदालत ने जम्मू केन्द्रीय कारागार कोथबालवाल अधीक्षक को आरोपी को चिकित्सा उपचार प्रदान करने की सुविधा देने का निर्देश दिया। ‘‘यदि आरोपी को किसी भी विशेषज्ञ के पास ले जाने की आवश्यकता है तो उसे विशेषज्ञ के पास ले जाया जाये।’’ 

इंकलाबी के भाई ने यूनीवार्ता से कहा, ‘‘इंकलाबी स्वस्थ नहीं है। अगर उसे रिहा नहीं किया गया तो उसका स्वास्थ्य और भी बिगड़ सकता है और अस्पताल में भर्ती कराना पड़ सकता है। पिछले कुछ महीनों से हमें उससे मिलने की इजाजत नहीं दी गयी है लेकिन जेल से छूटे हुए लोगों का कहना है कि उसकी हालत अच्छी नहीं है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘इंकलाबी को जम्मू से श्रीनगर जेल में स्थानांतरित करना चाहिए और उससे मिलने की अनुमति दी जानी चाहिये।’