पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के वरिष्ठ नेता व जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मंत्री चौधरी जुल्फिकार अली ने पीर पंजाल क्षेत्र को प्रभागीय दर्जा देने की मांग पर धमकी देकर हलचल मचा दी है।

राजौरी में शनिवार को मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘पीर पंजाल क्षेत्र को वर्षो से सबसे खराब भेदभाव से जूझना पड़ा है। कोई रेलवे लाइन नहीं, जम्मू-पुंछ राजमार्ग की प्रस्तावित चार लेन परियोजना को अखनूर तक सीमित करना हमारे क्षेत्र के खिलाफ भेदभाव के कुछ उदाहरण हैं।’

प्रियंका का लखनऊ दौरा सोमवार से, भव्य स्वागत की तैयारी

अली ने शुक्रवार को राज्य सरकार द्वारा लद्दाख को प्रखंड का दर्जा देने का स्वागत किया और समान दर्जा पीर पंजाल इलाके को देने की मांग दोहराई।

उन्होंने चेताया, ‘अगर लोकतंत्र में कठोर विश्वास दिखाना और बड़ी संख्या में वोट डालने को कमजोरी समझा जाता है, तो हम अपने मुद्दों को हल करने के लिए अन्य तरीकों के बारे में सोच सकते हैं। हम सड़कों पर भी उतर सकते हैं और जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं हो जातीं, तब तक प्रदर्शन कर सकते हैं।’

दो पूर्व मुख्यमंत्रियों उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने पीर पंजाल व चेनाब घाटी क्षेत्रों को प्रखंड दर्जा देने की मांग का समर्थन किया है।
नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी दोनों ही आगामी लोकसभा व राज्य विधानसभा चुनावों में इसे चुनावी मुद्दा बनाने की योजना बनी रही हैं।