BREAKING NEWS

ट्रेनों के निजीकरण पर रेलवे का बयान : नौकरियां नहीं जाएंगी, लेकिन काम बदल सकता है ◾तमिलनाडु में कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख के पार ,बीते 24 घंटों में 4329 नये मामले और 64 लोगों की मौत◾पीएम के लेह दौरे पर बोले अधीर रंजन - सैनिकों का मनोबल बढ़ा लेकिन चीनी अतिक्रमण नकारे नहीं ◾दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में 2,520 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 94 हजार के पार◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड , 6364 नये मामले आये सामने और 198 लोगों की मौत ◾मोदी की लद्दाख यात्रा पर तिलमिलाए चीन ने कहा - हमें विस्तारवादी कहना आधारहीन◾दिल्ली-NCR में 4.7 रिक्टर स्केल तीव्रता भूकंप के झटके, राजस्थान के अलवर में था भूकंप का केंद्र◾सीएम योगी का ऐलान - शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये का मुआवजा ◾चीन से सीमा विवाद पर भारत के समर्थन में आया जापान, कहा- LAC की यथास्थिति बदलने के एकतरफा प्रयास का करेंगे विरोध◾पीएम मोदी ने गलवान घाटी झड़प में घायल सैनिकों से कहा- ‘आपने करारा जवाब दिया’◾लद्दाख में अतिक्रमण को लेकर राहुल ने ट्वीट किया वीडियो, कहा-कोई तो बोल रहा है झूठ◾लेह से चीन को PM मोदी का सख्त सन्देश, बोले- इतिहास गवाह है कि विस्तारवादी ताकतों को हमेशा मिली हार◾PM मोदी के लेह दौरे से तिलमिलाया ड्रैगन, कहा-कोई पक्ष हालात न बिगाड़े ◾चीन और पाकिस्तान से बिजली उपकरणों का आयात नहीं करेगा भारत ◾PM मोदी के लेह दौरे पर सियासत शुरू, मनीष तिवारी बोले- जब इंदिरा गई थीं तो पाक के दो टुकड़े किए थे◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 8 लाख के पार, सवा पांच लाख के करीब लोगों की मौत◾कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि, कहा-व्यर्थ नहीं जाएगा यह बलिदान ◾चीन के साथ तनाव के बीच PM मोदी का औचक लेह दौरा, अग्रिम पोस्ट पर जवानों से की मुलाकात◾देश में एक दिन में 20 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा सवा छह लाख के पार◾15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन COVAXIN, 7 जुलाई से शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

केंद्र के शीर्ष अधिकारियों ने जम्मू कश्मीर के विभाजन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की

केंद्र सरकार के प्रमुख मंत्रालयों और विभागों के शीर्ष अधिकारियों ने जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के तरीकों और संपत्ति एवं कर्मचारियों के बंटवारे और स्थिति को यथाशीघ्र सामान्य बनाने पर चर्चा करने के लिए मंगलवार को बैठक की। 

संसद द्वारा इस महीने पारित जम्मू कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 के तहत दो केंद्र शासित क्षेत्र जम्मू-कश्मीर और लद्दाख 31 अक्टूबर को अस्तित्व में आएंगे। 

बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह सचिव ए. के. भल्ला ने की। केंद्रीय वित्त, कृषि, ग्रामीण विकास, उद्योग सहित बड़े मंत्रालयों और विभागों के 15 से अधिक सचिव बैठक में शरीक हुए। 

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर में केंद्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन के आकलन और सामान्य स्थिति की बहाली की प्रक्रिया को तेज करने के लिये उठाए गए कदमों के लिये यह बैठक हुई।’’ 

अधिकारियों ने बताया कि बैठक में विकास कार्यक्रम और संपत्तियों एवं कर्मचारियों का बंटवारा चर्चा के मुख्य विषय थे। 

उन्होंने कहा कि बैठक में सर्दियों से पहले खासतौर पर लद्दाख क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं के भंडारण के लिये उठाए जाने वाले कदमों पर भी चर्चा हुई। 

जम्मू कश्मीर में अभी राष्ट्रपति शासन है। 

केंद्र सरकार के अधिकारियों की कुछ टीमें श्रीनगर का दौरा कर चुकी हैं, जबकि संयुक्त सचिव एवं सचिव स्तर की कुछ टीमों के आगामी हफ्तों में कश्मीर घाटी का दौरा करने की उम्मीद है। 

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि केंद्र सरकार राज्यपाल सत्यपाल मलिक द्वारा घोषित 85 विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में जम्मू कश्मीर प्रशासन की मदद करेगी। 

जम्मू कश्मीर प्रशासन ने राज्य के विभाजन पर काम करने के लिए तीन समितियां गठित की हैं।

पहली समिति के विचारार्थ विषय विभिन्न विभागों द्वारा जम्मू कश्मीर राज्य से केंद्र शासित प्रदेशों में तब्दीली से जुड़े कदम हैं। 

दूसरी समिति के विचारार्थ विषय दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के लिए कोष के वितरण और संबद्ध मुद्दों से जुड़े होंगे। 

वहीं, तीसरी समिति के विचारार्थ विषय लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश के लिए कर्मचारी मुहैया करने के लिए उपाय सुझाने और जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश के कर्मचारियों से जुड़े अन्य मुद्दे होंगे।