15 अप्रैल से शुरू हो सकते हैं मुख्यमंत्री शहरी जन कल्याण शिविर!

0
17

जयपुर, (कासं) : प्रशासन शहरों के संग अभियान की तर्ज पर प्रदेश में जल्द ही सरकार मुख्यमंत्री शहरी जन कल्याण शिविरों का आयोजन शुरू करेगी। शिविरों में क्या-क्या काम होंगे इसको लेकर तैयार किए प्लान को गुरुवार को नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समक्ष रखा। मुख्यमंत्री निवास पर डेढ़ घंटे तक इस प्लान पर चर्चा के बाद राजे ने सहमति जताते हुए जल्द शिविर शुरू करने के निर्देश दिए। सूत्रों के मुताबिक 15 अप्रैल से शिविरों को शुरू करने की घोषणा की जा सकती है। इन शिविरों के शुरू होने से उन लाखों लोगों को राहत मिलेगी, जो सालों से अपनी कॉलोनी के नियमन और अपने भूखण्ड के पट्टे मिलने का इंतजार कर रहे हैं।
यही नहीं प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान हजारों आवेदन ऐसे हैं जो आज तक लम्बित पड़े है उनका भी निस्तारण इन शिविरों में हो सकेगा। सूत्रों के मुताबिक हाईकोर्ट ने जो इकॉलोजिकल जोन के मामले में आदेश दिए है उन आदेशों को ध्यान में रखकर शिविरों में नियमन कैम्प लगाने और पट्टा जारी करने सहित अन्य कार्य होंगे।
इनका छूटों का मिल सकता है लाभ
– कृषि भूमि पर गैर अनुमोदित आवासीय कॉलोनियों का 60 अनुपात 40 में नियमितिकरण।
– पूर्व में नियमित कॉलोनी जिनमें कई भूखण्ड ऐसे है जिनके पट्टे अब तक जारी नहीं हुए उन पर लगी ब्याज-पेनल्टी में छूट।
– हाउसिंग बोर्ड के आवासों का नियमितिकरण।
– स्टाम्प ड्यूटी व नाम हस्तांतरण शुल्क में छूट।
– भूखण्डों का उपविभाजन-पुनर्गठन शुल्क में छूट।
– सरकारी जमीनों यानी अवाप्तशुदा जमीनों पर बसी कॉलोनियों का नियमानुसार नियमन।
– स्टेट ग्रांट एक्ट के तहत पट्टे जारी करना।

LEAVE A REPLY