दसवीं बोर्ड परीक्षा में बालिकाओं ने मारी बाजी

0
30

रायपुर : छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं बोर्ड परीक्षा के नतीजे की घोषणा कर दी है। इस परीक्षा में बालिकाओं ने बाजी मारी है। आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा 2017 की कक्षा 10 वीं के परिणाम की घोषणा की। अधिकारियों ने बताया कि इस परीक्षा का परिणाम 61.04 प्रतिशत रहा।

बालिकाओं ने हाईस्कूल की परीक्षा में बाजी मारी है जिनमें 62.06 प्रतिशत बालिकाओं ने और 59.86 प्रतिशत बालकों ने परीक्षा में सफलता हासिल की है। कश्यप ने अस्थायी प्रावीण्य सूची की भी घोषणा की है, जिसमें प्रथम स्थान चेतन अग्रवाल, किरण पब्लिक हायर सेकेण्डरी स्कूल कुरूद जिला धमतरी ने हासिल किया है। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल, रायपुर द्वारा आयोजित हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा 2017 की कक्षा 10वीं की मुख्य परीक्षा में तीन लाख 95 हजार 338 विद्यार्थी पंजीकृत हुए थे।

इनमें से तीन लाख 86 हजार 349 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे जिसमें एक लाख 79 हजार बालक और दो लाख सात हजार 349 बालिकाएं थी। अधिकारियों ने बताया कि बोर्ड द्वारा घोषित परिणाम के अनुसार दो लाख 35 हजार 773 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। इनमें से 62.06 प्रतिशत बालिकाओं और 59.86 प्रतिशत बालकों को उत्तीर्ण घोषित किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि उत्तीर्ण विद्यार्थियोंं में से 48 हजार 955 विद्यार्थियों को प्रथम
श्रेणी में उत्तीर्ण घोषित किया गया है।

इसी प्रकार 82 हजार 412 विद्यार्थी द्वितीय श्रेणी में, एक लाख एक हजार 752 विद्यार्थी तृतीय श्रेणी मेें और 2654 परीक्षार्थी पास की श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं। बोर्ड ने 27 हजार 422 परीक्षार्थियों को पूरक घोषित किया है। कुल 125 परीक्षार्थियों के परिणाम विभिन्न कारणों से रोके गए हैं। राज्यपाल बलरामजी दास टंडन और मुख्यमंत्री रमन सिंह ने परीक्षा परिणाम में सफलता हासिल करने वाले सभी विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है।

राज्यपाल टंडन ने सभी उत्तीर्ण विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा है कि वे इसी तरह पूरी लगन और मेहनत से निरन्तर आगे बढ़ते रहें तथा अपने घर-परिवार, प्रदेश और देश का नाम गौरवान्वित करें। उन्होंने परीक्षा में असफल विद्यार्थियों को समझाईश दी है कि असफलता ही सफलता की सीढ़ी है। अत: वे निराश हुए बिना अपनी पढ़ाई जारी रखें, सफलता अवश्य मिलेगी।

वहीं मुख्यमंत्री रमन सिंह ने दसवीं बोर्ड परीक्षा के नतीजों में उत्तीर्ण बालिकाओं की संख्या अधिक होने पर खुशी जाहिर की है और कहा है कि छत्तीसगढ़ की बेटियों ने यह साबित कर दिया है कि पढ़ाई के मामले में भी वे हमारे बेटों से किसी भी मायने में कम नहीं हैं। मुख्यमंत्री ने परीक्षा में अनुत्तीर्ण छात्र-छात्राओं को निराश नहीं होने और नये सिरे से एक बार फिर मेहनत करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि अनुत्तीर्ण विद्यार्थी दोबारा मन लगाकर खूब पढ़ाई करें, उन्हें सफलता जरूर मिलेगी। सिंह ने सभी विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

– (भाषा)

LEAVE A REPLY