जाट आंदोलन टलने के बावजूद दिल्ली की सीमाओं पर वाहनों की लंबी कतार

0
131

नयी दिल्ली : आरक्षण को लेकर जाटों का आंदोलन हालांकि 15 दिन के लिए टल गया है किन्तु दिल्ली पुलिस ने आंदोलनकारियों की राजधानी में किसी भी घुसपैठ को रोकने के लिये अपने कड़े सुरक्षा इंतजामों में कोई ढील नहीं दी है। जाट आंदोलन गत दिवस से शुरू होना था इसे देखते हुए दिल्ली पुलिस ने राजधानी से लगी सीमाओं पर और भीतरी इलाकों में सुरक्षा के कड़ी प्रबंध किये थे। इसकी बजह से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की सीमाओं से लगे इलाकों में भारी यातायात जाम है । नोएडा और आस-पास के इलाकों में वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारे लगी हुई हैं।

दिल्ली मेट्रों ने आंदोलन को देखते हुए पहले गाजियाबाद, नोएडा, फरीदाबाद और गुरुग्राम से अपनी सेवाओं पर पाबंदी लगाने की घोषणा की थी किन्तु आंदोलन के 15 दिन टल जाने के बाद मेट्रों रेल सेवा रोजाना की तरह नियमित रूप से चल रही है। हालांकि मेट्रों ने नयी दिल्ली क्षेत्र के कुछ स्टेशनों पर पाबंदी लगी हुई है। राजधानी के भीतरी इलाकों में जगह-जगह पुलिस और अद्र्ध सैनिक बल तैनात है । डीएनडी फलाई ओवर पर कॉलंदी कुंज और न्यू अशोक नगर के क्षेत्रों में वाहनों के आवागमन पर कड़ी नजर रखी जा रही है। चैकिंग के कारण वाहनों को रोकने से यातायात पर असर पड़ा है।

नौकरियों में आरक्षण समेत अपनी कई अन्य मांगों पर आंदोलनरत जाट समुदाय ने दिल्ली कूच का ऐलान किया था। हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर के साथ कल हुई जाट नेताओं की बातचीत के बाद आंदोलन को 15 दिन के लिए टाला गया है।

(वार्ता)

LEAVE A REPLY