BREAKING NEWS

Shri Krishna Janmashtami : श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर श्रद्धालुओं ने मंदिरों में किए दर्शन◾मथुरा में धूमधाम से भक्‍तों ने मनाई श्रीकृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी◾AAP नेता संजय सिंह का दावा- 2024 का लोकसभा चुनाव मोदी बनाम केजरीवाल होगा◾मनीष सिसोदिया के आवास पर CBI छापा को लेकर TMC बोली - विपक्ष को डराने की तरकीब◾सिसोदिया के घर से CBI ने बरामद किये कई अहम दस्तावेज, 30 अन्य ठिकानों पर भी मारा छापा , केजरीवाल का दावा- ऊपर के आदेश से कार्रवाई◾एशियाई शताब्दी संबंधी जयशंकर के बयान को चीन का समर्थन, गतिरोध पर वार्ता को बताया प्रभावी ◾CBI छापेमारी को लेकर सिसोदिया के आवास के बाहर ‘आप’ समर्थकों का प्रदर्शन, हिरासत में लिए गए कई◾‘हर घर जल उत्सव’ : PM मोदी बोले-देश बनाने लिए वर्तमान और भविष्य की चुनौतियों का लगातार समाधान कर रही सरकार ◾नई एक्साइज पॉलिसी से केजरीवाल और AAP के लिए पैसा बनाते हैं सिसोदिया : मनोज तिवारी◾केंद्र सरकार पर केजरीवाल का आरोप, कहा- अच्छे काम करने वालों को रोका जा रहा ◾अमित शाह ने सभी राज्यों से राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता देने का किया आग्रह◾जांच एजेंसियों के दुरुपयोग से भ्रष्टाचारियों को बचने में मदद मिलती है : पवन खेड़ा ◾पूर्व NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस ◾सिसोदिया के खिलाफ CBI रेड पर कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित का बड़ा बयान◾सिसोदिया के घर पर CBI का छापा, केजरीवाल ने कहा- मिल रहा अच्छे प्रदर्शन का इनाम ◾भ्रष्ट व्यक्ति खुद को कितना भी बेकसूर साबित कर ले, वह भ्रष्ट ही रहेगा : अनुराग ठाकुर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में 15,754 नए मामले सामने आए, संक्रमण दर 3.47 प्रतिशत दर्ज◾Uttar Pradesh: श्रीकांत त्यागी को मिला बीकेयू का समर्थन, रिहाई की मांग की ◾मनीष सिसोदिया के घर पहुंची CBI, केजरीवाल बोले-इस बार भी कुछ सामने नहीं आएगा◾भारत के साथ शांतिपूर्ण संबंध और कश्मीर मुद्दे का समाधान चाहता है पाकिस्तान : शहबाज शरीफ◾

विशाखापट्टनम गैस रिसाव के बाद, 13 हजार टन स्टिरीन रसायन वापस भेजा गया दक्षिण कोरिया

बीते गुरुवार यानी 7 मई को विशाखापट्टन में एलजी पॉलीमर के संयंत्र से हुए गैस रिसाव के बाद अब करीब 13 हजार टन तरल स्टिरीन रसायन को कंपनी के दक्षिण कोरिया स्थित मुख्यालय वापस भेजा जा रहा है। बता दें कि गैस रिसाव में 12 लोगों की मौत हो गई थी। आर.आर. वेकंटपुरम स्थित एलजी पॉलीमर के संयंत्र के एक टैंक में स्टिरीन रखा गया था। कंपनी ने विशाखापट्टनम बंदरगाह पर भी दो टैंक में यह रसायन रखा था जो सिंगापुर से आयात किया गया था।

आंध्र प्रदेश सरकार ने केंद्रीय पोत परिवहन मंत्रालय से बात करके इस रसायन को वापस कंपनी के मुख्यालय सियोल भेजने के लिए एक विशेष टैंकर जहाज का प्रबंध किया है। विशाखापट्टनम के जिला कलेक्टर वी. विनय चंद ने कहा, ‘‘हम 8000 टन स्टिरीन का कंटेनर सोमवार को भेज रहे हैं। बाकी बचे 5000 टन को अगले कुछ दिनों में रवाना कर देंगे।’’ संयंत्र में बजे स्टिरीन को वापस ठोस अवस्था में बदल दिया गया है। इस रसायन का इस्तेमाल पॉलीएस्टर बनाने में होता है।

मालूम हो कि 7 मई को तड़के संयंत्र से गैस का रिसाव हुआ था। इससे 12 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 400 से अधिक लोगों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। शनिवार को वेंकटपुरम और आसपास के गांव के लोगों ने संयंत्र के समक्ष मृतकों के शव के साथ प्रदर्शन किया और संयंत्र को पूरी तरह बंद करने की मांग रखी। इसके बाद संयंत्र को पूरी तरह बंद कर दिया गया। सोमवार को इलाके में स्थिति नियंत्रण रही। मुख्यमंत्री वाई. एस. जगन मोहन रेड्डी ने मंत्रियों और अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए स्थिति की समीक्षा की। साथ ही मंत्रियों से प्रभावित प्रत्येक गांव में रात बिताने के लिए कहा ताकि लोगों के बीच विश्वास बहाली की जा सके। वहीं, दूसरी तरफ मंत्री बोत्सा सत्यनारायण और के. कन्ना बाबू ने मृतकों के परिजनों को एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि प्रदान की।