BREAKING NEWS

भ्रष्टाचार के मामले में 180 देशों में 80वें स्थान पर भारत◾अमित शाह ने केजरीवाल पर लगाया दिल्ली में दंगा भड़काने का आरोप ◾मैंने अपना भगवा रंग नहीं बदला है : उद्धव ठाकरे◾राज की मनसे ने अपनाया भगवा झंडा, घुसपैठियों को बाहर करने के लिए मोदी सरकार को समर्थन◾भाजपा नेता ने मोदी को चेताया, देश बढ़ रहा है दूसरे विभाजन की तरफ◾पासवान से मिला ब्राजील का प्रतिनिधिमंडल, एथेनॉल प्रौद्योगिकी साझेदारी पर बातचीत◾हिंदू समाज में साधु-संतों को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती : अखिलेश◾पदाधिकारी पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने से बचें : ठाकरे◾दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार चाहिए : शाह◾वन्य क्षेत्रों में अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित नहीं किया जा सकता : दिल्ली सरकार◾मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा है कांग्रेस नेतृत्व : नड्डा◾निर्भया के दोषियों से पूछा : आखिरी बार अपने-अपने परिवारों से कब मिलना चाहेंगे , तो नहीं दिया कोई जवाब !◾विपक्ष की तुलना पाकिस्तान से करना भारत की अस्मिता के खिलाफ : कांग्रेस◾ब्राजील के राष्ट्रपति 24-27 जनवरी तक भारत यात्रा पर रहेंगे, गणतंत्र दिवस परेड में होंगे मुख्य अतिथि◾उत्तर प्रदेश : किसानों के मुद्दे पर सड़क पर उतरेगी कांग्रेस ◾कश्मीर मुद्दे पर विदेश मंत्रालय ने कहा-किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं◾निर्भया मामले में आरोपियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने वाले जज का हुआ ट्रांसफर◾CM नीतीश की चेतावनी पर पवन वर्मा बोले- मुझे चिट्ठी का जवाब नहीं मिला◾भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले- देश हित में लिए प्रधानमंत्री के फैसलों से देश में नई ऊर्जा एवं उत्साह पैदा हुआ◾नेताजी ने हिंदू महासभा की विभाजनकारी राजनीति का विरोध किया था : ममता बनर्जी◾

अतिक्रमण पर फिर शुरू होगी कार्रवाई

मसूरी : पर्यटन नगरी मसूरी में एक बार फिर अतिक्रमण हटाने को लेकर हाई कोर्ट ने संज्ञान लिया है। लेकिन विगत दिनों जब अतिक्रमण हटाया गया था तो उस पर पुनः अतिक्रमण हो गया इस पर किसी भी विभाग ने अतिक्रमण करने वालों पर कार्रवाई नहीं की। जिससे प्रशासन व पालिका पर सवाल खडे़ हो रहे हैं। वहीं मालरोड पर भी रात में फिर से दुकाने सजने लगी हैं।

अतिक्रमण को लेकर हाई कोर्ट गंभीर है, लेकिन सवाल उठता है कि संबंधित विभाग मौन क्यों हैं। मालरोड ने नगर प्रशासन व पालिका ने मिलकर मालरोड से अस्थाई पटरी वालों को हटा दिया था जिसमें कुछ लोग कैमल्सबैक रोड पर बैठने लगे व कुछ कसमंडा जाने वाले मार्ग पर बैठने लगे जिस पर पालिका ने उनके विरूद्ध कार्रवाई नहीं की क्यों कि उनकी रोजी रोटी का सवाल था, लेकिन अब ये लोग पालिका की ढील का लाभ लेकर रात को मालरोड पर पसरने लगे हैं। 

जबकि कसमंडा वाली रोड पर बैठने वालों के कारण इस क्षेत्र में पड़ने वाले होटल वालों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तथा हर समय दुर्घटना का भी खतरा बना हुआ है। इस क्षेत्र के होटल वालों ने पालिका को भी इस संबंध में अवगत कराया व हटाने की मांग की। वहीं जिन मालरोड पर दुकानदारों ने पुनः अपना सामान भी बाहर लगाना शुरू कर दिया है। जिसके कारण अतिक्रमण हटाने का कोई लाभ मिलता नजर नहीं आया। 

वहीं दूसरी ओर लाइब्रेरी बस स्टैण्ड पर जो खोखे हटाये गये थे वह दुबारा बन जाने से प्रशासन के अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई पर भी सवाल खडे़ होने लगे हैं। इस पर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने कहा कि अगर पटरी वाले रात को मालरोड पर बैठ रहे हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। अभी स्टाफ की कमी व बरसात के कारण कार्रवाई नहीं की जा सकी थी। इस पर पटरी वालों को थोड़ा धैर्य रखना चाहिए क्योंकि पालिका उनके लिए वैंडिग जोन बना रही है। 

मालरोड पर पटरी लगाने का विरोध

इस संबंध में व्यापार संघ के अध्यक्ष रजत अग्रवाल व कोषाध्यक्ष भरत कुमाई ने कहा कि मालरोड पर पटरी लगाने का हर संभव विरोध किया जायेगा अगर जरूरत पड़ी तो पुनः आंदोलन किया जायेगा। अगर ये लोग नहीं मानेंगे तो कार्रवाई की जायेगी। 

वहीं नायब तहसीलदार पूरण सिह ने लाइब्रेरी बस स्टैण्ड पर पुनः किए गये अतिक्रमण पर कहा कि यह संबंधित विभाग को देखना चाहिए। लेकिन शीघ्र ही पुनः अतिक्रमण हटाने का कार्य शुरू किया जाने वाला है, इस पर जिन्होंने अतिक्रमण किया है उसे हटाया जायेगा। किसी को बक्शा नहीं जायेगा।