BREAKING NEWS

Earthquake Risk Zones :अगर भारत में भूकंप आता है तो सबसे ज्यादा तबाही दिल्ली और गुरुग्राम में होगी ◾कायर पाकिस्तान की नहीं आ रही कोई भी रणनीति काम, 'BSF ने मार गिराया एक और ड्रोन'◾ RBI Monetary Policy: रिजर्व बैंक ने जनता को दिया जोर का झटका, रेपो रेट के फिर से हुआ इजाफा ◾अडानी मुद्दे पर नोटिस खारिज किए जाने के विरोध में AAP, BRS, शिवसेना ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से किया Walk out◾बीजेपी सांसद संगम लाल गुप्ता कर रहे, लखनऊ का नाम बदलने की मांग ◾Minister murder case: BJP ने जांच की निगरानी के लिए सेवानिवृत्त न्यायाधीश की नियुक्त पर उठाए सवाल◾Turkey earthquake: तुर्की भूकंप में गई हजारों लोगों की जान, तबाही का मंजर देख रह जाएंगे आप भी हैरान ◾विनाशकारी भूकंप से तुर्की और सीरिया मं भूकंप से मरने वालों की संख्या 8 हजार के पार ◾Chhawla gangrape case : 3 दोषियों को रिहा करने के खिलाफ पुनर्विचार याचिका, नई पीठ गठित करेगा SC ◾कांग्रेस नेता अनिल भारद्वाज ने कहा- 'जनता ने AAP को समस्या समाधान के लिए दिया था वोट, तमाशे के लिए नहीं'◾7.7 तीव्रता के भूकंप के बाद तुर्की में कुल 435 झटके महसूस, 8 हजार से ज्यादा लोगों की गई जान, बचाव कार्य जारी ◾किशोर दास की हत्या कर, क्रांति लाना चाहता था हत्यारा ASI, क्राइम ब्रांच ने किया खुलासा◾भाजपा ने कहा- CM योगी आदित्यनाथ से राहुल गांधी को मांगनी चाहिए माफी ◾TMC नेता महुआ ने अडाणी समूह से जुड़े मामले में लोकसभा में लगाया आरोप, कहा- देश के लोगों को मूर्ख बनाया ◾PM मोदी को कश्मीर का विशेष दर्जा बहाल करना चाहिए, तभी भारत के साथ संबंध आगे बढ़ सकते हैं : इमरान खान◾Lok Sabha Session: लोकसभा में आज विपक्ष के प्रश्नों का जवाब दे सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी◾भाजपा के सत्ता में आने के बाद अडानी दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए : राहुल गांधी◾Delhi Excise Policy Case: सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में हैदराबाद के CA को किया गिरफ्तार ◾दिल्ली शराब घोटाले मामले में तेलंगाना के CM केसीआर की बेटी का CA गिरफ्तार◾आज का राशिफल (08 फरवरी 2023)◾

औरंगाबाद का नाम बदलने पर भड़के AIMIM सांसद, कहा-'सस्ती राजनीति का बेहतरीन उदाहरण'

महाराष्ट्र में सत्ता से बेदखल होने से पहले उद्धव सरकार ने औरंगाबाद शहर का नाम बदलकर संभाजीनगर करने और उस्मानाबाद शहर का नाम धाराशिव करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। एआईएमआईएम नेता इम्तियाज जलील ने महाराष्ट्र कैबिनेट के इस फैसले की आलोचना करते हुए इसे 'सस्ती राजनीति का बेहतरीन उदाहरण' बताया। 

इम्तियाज जलील ने कहा कि 'मैं उद्धव जी और शिवसेना से कहना चाहता हूं कि इतिहास बदला नहीं जा सकता, नाम बदल सकते हैं... आप घटिया राजनीति का एक बेहतरीन उदाहरण पेश कर रहे हैं। केवल लोग ही तय कर सकते हैं कि औरंगाबाद का कौन सा नाम रहेगा।”

Maharashtra Crisis : महाराष्ट्र में दावा पेश करेगी BJP, बैठक के बाद फडणवीस करेंगे ऐलान

...नेताओं पर थूकने का समय

जलील ने कहा, "यह कांग्रेस और राकांपा के नेताओं पर थूकने का समय है। हम मुख्यमंत्री का सम्मान करते थे। वह बेहतर तरीके से सरकार से जा सकते थे। कुछ दिन पहले सीएम ने कहा था कि सरकार इसका नाम बदलने से पहले औरंगाबाद का विकास करेगी। क्या विकास हुआ है?" उन्होंने औरंगाबाद के पूर्व सांसद चंद्रकांत खैरे पर भी निशाना साधते हुए कहा कि शिवसेना नेता को "पेशेवर नर्तक बनना चाहिए क्योंकि उनके लिए कोई काम नहीं बचा है"।

दरअसल, बुधवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में आगामी नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का नाम किसान नेता दिवंगत डीबी पाटिल के नाम पर रखने को भी मंजूरी दी गई। दिलचस्प बात यह है कि राज्य योजना एजेंसी सिडको ने पहले नवी मुंबई हवाई अड्डे का नाम शिवसेना के संस्थापक दिवंगत बालासाहेब ठाकरे के नाम पर रखने का प्रस्ताव दिया था।

गौरतलब है कि जब शिवसेना ने बीजेपी के साथ गठबंधन समाप्त किया था और कांग्रेस तथा राकांपा के साथ हाथ मिलाया था तभी से भाजपा उसे औरंगाबाद का नाम बदलने की अपनी पूर्व की मांगों की याद दिलाती रही है। औरंगाबाद नाम मुगल बादशाह औरंगजेब के नाम पर रखा गया था।