BREAKING NEWS

सावधान! अगर अब भी नहीं सुधरें तो 35 से कम उम्र में आ सकता है Heart Attack◾राहुल गांधी के सामने 'मोदी-मोदी' नारे पर भड़के कन्हैया कुमार, कहा- दिन 'महंगाई-महंगाई' चिल्लाएंगे ◾वीर सावरकर पर टिप्पणी करना राहुल गांधी को पड़ा भारी, सुप्रीम कोर्ट ने मांगी पूरी रिपोर्ट, दो दिन बाद सुनवाई ◾UP News: हिन्दू महासभा के ऐलान से हाई अलर्ट पर मथुरा, धारा 141 लागू, जानें क्या है मामला ◾श्रद्धा मर्डर केस : दुनिया के सबसे महंगे केस से आफताब ने सीखे पुलिस को गुमराह करने दांव-पेच◾लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आशीष मिश्रा सहित 14 पर आरोप तय, 16 दिसंबर से कोर्ट ट्रायल शुरू ◾Electric Vehicle लेने वालों को जल्द सरकार देगी तोहफा, नितिन गडकरी का ऐलान◾लालू की बेटी रोहिणी को लेकर गिरिराज का ट्वीट, भर-भर कर डाली तारीफ... अगली पीढ़ी के लिए बनोगी उदहारण◾एशिया के सबसे बड़े दानवीरों की लिस्ट में गौतम अडानी समेत तीन भारतीयों के नाम हुए शामिल◾PFI case: इसरार अली और मोहम्मद समून को मिली राहत, अदालत ने दी सशर्त जमानत ◾Babri Masjid Demolition Anniversary : बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर बोले ओवैसी◾AYODHYA ;बाबरी मस्जिद गिराए जाने के तीन दशक बाद तीर्थनगरी का माहौल कैसा?◾Yamuna Expressway: दुर्घटनाएं रोकने के लिए 15 दिसंबर से गति सीमा में होगा बदलाव, नहीं दौड़ पाएंगे तेज वाहन◾CANADA MURDER : कनाडा में भारतीय महिला के सिर पर गोली मारकर शूटर हुआ फ़रार, पुलिस कर रही तलाश ◾अधीर रंजन चौधरी ने केंद्र की नीतियों को लिया आडे़ हाथों, संसद के शीतकालीन सत्र की तारीख को लेकर कही यह बात◾MCD चुनाव 2022: तारीख, समय और परिणाम◾इंडोनेशिया में नया कानून, प्री-मैरिटल सेक्स बैन, अपराध श्रेणी में Live-in-relationship◾मार्केट में 500 रुपये के नकली नोट होने की खबर, RBI ने दी जानकारी...जानें किसे बताया जा रहा जाली ◾6 दिसंबर का दिन हमारी पीढ़ी कभी नहीं भूलेगी.... लोकतंत्र का काला दिन, बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर बोले ओवैसी◾बिहार पुलिस में बंपर बहाली, 62 हजार नए पदों पर मिलेगी नौकरी, महिलाओं को भी दिया जाएगा 35% आरक्षण◾

डॉक्टरों पर टिप्पणी कर चौतरफा घिरे संजय राउत ने दी सफाई, कही ये बात

डॉक्टरों पर टिप्पणी कर चौतरफा घिरे शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने मंगलवार को सफाई दी। राउत ने कहा कि मैंने डॉक्टरों का अपमान नहीं किया है। वे जिस तरह से सेवा कर रहे हैं वह सराहनीय है। मेरा बयान डब्ल्यूएचओ के संदर्भ में था, जिसमें मेरा मतलब था कि COVID-19 महामारी नहीं हुई थी, अगर WHO ने कुशलता से काम किया होता।

इससे पहले इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की थाणे शाखा ने महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर संजय राउत के इस्तीफे की मांग की है। दरअसल, राउत ने अपने एक बयान में कहा था कि डॉक्टर कुछ नहीं जानते। उनसे ज्यादा कंपाउंडर जानते हैं। जिसके बाद से  डॉक्टरों में नाराजगी है। 

सुशांत सिंह राजपूत मामले में गवाहों को दी जा रही है धमकी, भाई नीरज ने मुंबई पुलिस पर लगाया आरोप

शिवसेना नेता के इस बयान पर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस ने कहा कि ‘‘मुझे नहीं मालूम कि किस संदर्भ में उन्होंने वह बयान दिया था। लेकिन मेरा मानना है कि कोविड-19 को देखते हुए इस तरह के बयान उचित नहीं हैं। हमारे चिकित्सक वास्तव में बहुत मेहनत कर रहे हैं। वे अपना जीवन खतरे में डाल रहे हैं और हमारे लिए दिन-रात काम कर रहे हैं। बयान से उनकी भावनाएं आहत हुई हैं।’’