BREAKING NEWS

Lakhimpur Kheri case: केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे समेत 13 आरोपियों को आरोपमुक्त करने की अर्जी खारिज◾Maharashtra: नाना पटोले ने कहा- BJP कर रही है शिवाजी महाराज का अपमान करने का प्रयास◾Maharashtra: महाराष्ट्र में दरिंदगी, 5 साल की बच्ची के साथ बलात्कार, पुलिस ने आरोपी को दबोचा◾अखिलेश यादव का आरोप, कहा- उपचुनावों में लोगों को वोट देने से रोक रहा है प्रशासन◾देश के पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम G-20 शिखर सम्मेलन पर सर्वदलीय बैठक में होंगे शामिल ◾आतंक फैलाने में जुटा PAK, भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर बीएसएफ ने ड्रोन और हेरोइन बरामद की◾पिटबुल कुत्ते ने 9 साल के मासूम बच्चे पर किया हमला बच्चा गंभीर रूप से घायल, मालिक पर केस दर्ज◾गाजियाबाद: एक्शन में पुलिस कमिश्नर, 24 चौकी प्रभारियों समेत 47 दरोगाओं का किया ट्रांसफर ◾धर्मों को लेकर बोला SC- भारत एक धर्मनिरपेक्ष... सभी लोगों को अपने धर्मों का करना चाहिए पालन◾सीमा विवाद में फडणवीस की एंट्री, बोले- कर्नाटक के विवादित क्षेत्रों में मंत्रियों के दौरे पर अंतिम निर्णय शिंदे लेंगे◾कर्नाटक का शिवमोग्गा फिर बना चर्चा का केंद्र, दीवारों पर लिखा- 'Join CFI'....जांच में जुटी पुलिस ◾Haridwar News: खतरनाक पिटबुल के हमले में लहूलुहान हुआ बच्चा, पुलिस ने दर्ज किया मामला◾राजस्थान: शेखावटी में गैंगस्टरों का खूनी खेल में मौत का तांडव ! राजू ठेठ और विश्नोई गैंग में क्यों चली आ रही है दुश्मनी◾थरूर को दरकिनार करने का प्रयास! NCP ने पार्टी में शामिल होने का दिया ऑफर....मिला ये जवाब ◾जुड़वा बहनों से एक साथ शादी करना युवक को पड़ा भारी, केस दर्ज◾मोदी-मोदी के नारों के बीच राहुल ने की फ्लाइंग kiss की बौछार, खूब वायरल हो रहा है वीडियो◾जानिए अब कौनसी पाकिस्तानी लड़कीयाँ सोशल मीडिया पर मचा रही तहलका◾मैनपुरी उपचुनाव : SP ने चुनाव में गड़बड़ी का लगाया आरोप, कहा-मुस्लिम वोटर्स को मतदान से रोक रही है BJP◾Viral Video: चीन में बेकाबू हुआ कोरोना! मरीज ने क्रारंटाइन सेंटर जानें से किया मना...तो अधिकारी घसीटने लगा ◾ गुजरात विधानसभा चुनाव पर अखिलेश यादव ने दी प्रतिक्रिया, बोले- "मुझे उम्मीद है कि बीजेपी गुजरात में बुरी तरह हारेगी"◾

Ankita Murder Case : अंकिता हत्याकांड में विशेष जांच दल को हाथ लगा बड़ा सबूत, SIT को मिला मोबाइल ?

अंकिता मर्डर केस में विशेष जांच दल को एक बड़ा सबूत हाथ लगा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक विशेष जांच दल को कड़ी तहकीकात करने के बाद चिल्ला बैराज से एक मोबाइल बरामद हुआ है। हो सकता है कि यह मोबाइल अंकिता को फिलहाल इस बात की अभी तक पुष्टि नहीं कि गई है। वहीं सूत्रों के अनुसार एसआईटी अंकिता हत्याकांड के आरोपी पुलकित आर्य, अंकित और सौरभ को मौके पर घटना स्थल ला सकती है।  

वहीं, अंकिता भंडारी हत्याकांड कि जांच कर रही एसआईटी पर भी लगातार सवाल खड़े हो रहे है। वकील अरविंद का कहना है किअंकिता भंडारी हत्याकांड में राज्य की धामी सरकार द्वारा गठित एसआईटी इसी सरकार के अंतर्गत आती है। गठित कि गई SIT का कोई औचित्य नहीं है। 

समय से विधिवत एसआईटी बनाकर जांच करनी चाहिए

बता दें, इस जांच दल में पुलिस उप महानिदेशक कानून व्यवस्था पी रेणुका देवी और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शेखर चंद्र सुयाल, निरीक्षक राजेंद्र सिंह खोलिया, साइबर अपराध से दीपक अरोड़ा, अमरजीत शामिल हैं. उनका विभाग सरकार के नियंत्रण में आता है, इसलिए स्वतंत्र रूप से जांच नहीं की जा सकती है। अधिवक्ता ने आरोप लगाया कि इस एसआईटी पर सरकार के प्रभाव का अनुमान नहीं लगाया जा सकता। सरकार को अभी भी एक सेवानिवृत्त न्यायधीश की अध्यक्षता में मामले की समय से विधिवत एसआईटी बनाकर जांच करनी चाहिए, ताकि मामले की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच हो सके।

अंकिता की रिजॉर्ट संचालक नियोक्ता ने की हत्या 

बता दें,  उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 28 सितम्बर को अंकिता भंडारी के परिजनों को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। उत्तराखंड के पौड़ी के एक resort में काम करने वाली 19 वर्षीया अंकिता की कथित रूप से उसके रिजॉर्ट संचालक नियोक्ता ने हत्या कर दी थी।

मुख्यमंत्री ने कहा था कि अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दे दिये गये हैं। राज्य सरकार अंकिता के परिवार के साथ है और उनकी हर प्रकार से सहायता करेगी और मामले की विशेष जांच दल (एसआईटी) से जांच की जा रही है और निष्पक्ष तरीके से जल्द से जल्द जांच पूरी की जाएगी।