नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रपट में मध्य प्रदेश में करोड़ों रुपये की गड़बड़ियां सामने आने पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने दोषियों पर कार्रवाई के लिए मंत्रिमंडलीय समिति बनाने की बात कही है। कैग की गुरुवार को आई रपट में शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में हुई गड़बड़ियों का खुलासा हुआ है। इस पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘मध्य प्रदेश सरकार को तत्काल वित्तमंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय समिति बना कर दोषियों पर कार्रवाई करनी चाहिए।’

रपट में कहा गया है कि सार्वजनिक क्षेत्र में 1,224 करोड़ रुपये का नुकसान, छात्रावास संचालन में 147 करोड़ रुपये की अनियमितता, पेंच परियोजना में 376 करोड़ रुपये की अनियमितता हुई है। वहीं, जल कर में 6,270 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कैग की रपट के बाद कांग्रेस के नेता पूर्ववर्ती सरकार पर हमलावर हुए हैं। कई नेताओं ने रपट में किए गए खुलासे के आधार पर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।